BREAKING NEWS

राकेश टिकैत ने हिंदू-मुस्लिम और जिन्ना को बताया सरकारी मेहमान, बोले-सरकार के प्रवचन में नहीं आना◾भगवा खेमे का अभेद्य किला बनी हुई है 'गोरखपुर सीट', अखिलेश ने शिवप्रताप को दिया खुला ऑफर, जानें रणनीति ◾अखिलेश के बयान पर भाजपा ने घेरा, पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानने का लगाया आरोप ◾अल्पसंख्यक समुदाय के साथ की आस में BJP, RSS की मुस्लिम शाखा ने चलाया अभियान, धर्म संसद पर कहा... ◾UP चुनाव: सियासी मझधार में सपा और सहयोगी दलों का गठबंधन, सीट बंटवारे को लेकर कशमकश की स्थिति ◾BJP गठबंधन वाले दलों को हड़पकर उन्हें खत्म कर देती है : नवाब मलिक◾योगी सरकार पर फिर बरसीं मायावती, कहा- भाजपा के शासन में धर्म संबंधी असुरक्षा लगातार बढ़ रही◾गणतंत्र दिवस: समारोह में एंट्री के लिए अहम निर्देशों का करना होगा पालन, जानें सुरक्षा तैयारियों की जानकारी ◾UP चुनाव : कैराना में अमित शाह ने तोड़े कोरोना नियम, EC के पास शिकायत लेकर पहुंची सपा ◾ओमीक्रॉन के आतंक के बीच हुई नए सब-वेरिएंट BA.2 की एंट्री, भारत में भी मौजूद, जानें कितना खतरनाक? ◾उद्धव के बयान पर बोली BJP-हिंदुत्व की नसीहत देने से पहले बाला साहब ठाकरे के विचारों पर करें मंथन◾उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर अमित शाह और जेपी नड्डा ने मांगा जनता का आशीर्वाद, ट्वीट कर दी बधाई◾UP चुनाव : अंतिम 3 चरणों के लिए उम्मीदवारों के नाम को लेकर दिल्ली में BJP का मंथन◾Today's Corona Update : गिरावट के बावजूद देश में 3 लाख से ज्यादा नए केस, 439 मरीजों की मौत◾कोरोना के आतंक के बीच ओमिक्रॉन वैरिएंट से किन लोगों को है मौत का खतरा, WHO ने दी विस्तृत जानकारी ◾World Corona Update: कोरोना के वैश्विक मामलों में इजाफे का सिलसिला जारी, 35.09 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमित ◾यूक्रेन संकट के चलते अमेरिका और रूस में बढ़ी कड़वाहट, लोगों के लिए जारी की गई ट्रैवल एडवाइजरी ◾कड़कड़ाती ठंड का सितम अभी रहेगा जारी, दिल्ली में बारिश ने तोड़ा 122 साल का रिकॉर्ड, पहाड़ों पर भारी बर्फबारी◾नेताजी की प्रतिमा आने वाली पीढ़ियों को साहस, राष्ट्रभक्ति एवं बलिदान के लिए प्रेरित करेगी - अमित शाह ◾PM मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना - महान व्यक्तित्वों के योगदान को मिटाने का हुआ प्रयास , अब देश गलतियों को कर रहा है ठीक◾

राजस्थान : सचिन पायलट बोले- राज्य में कौन, क्या भूमिका निभाएगा इसका निर्णय आलाकमान करेगा

राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने बुधवार को कहा कि पार्टी नेतृत्व यह फैसला करेगा कि भविष्य में कौन, क्या भूमिका निभाएगा। राजस्थान में मंत्रिमंडल विस्तार और पायलट व उनके वफादारों को मंत्री बनाए जाने की अटकलों के बीच उन्होंने यह बात कही।

उन्होंने कहा कि वह अपने द्वारा उठाए गए पार्टी के मुद्दों पर कांग्रेस आलाकमान के संपर्क में हैं और उम्मीद है कि शीर्ष नेतृत्व द्वारा आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। पायलट और 18 अन्य विधायकों ने पिछले साल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व के खिलाफ बगावत कर दी थी।

बाद में कांग्रेस आलाकमान ने पायलट द्वारा उठाए गए मुद्दों के समाधान के लिए एक समिति का गठन किया था। बेंगलुरु में संवाददाताओं के एक सवाल के जवाब में सचिन पायलट ने कहा, '' समिति के गठन को एक साल हो गया है... मुझे लगता है कि पार्टी और सरकार को यह सुनिश्चित करने के लिए एक साथ काम करने की जरूरत है कि हम घोषणा पत्र में किए गए अपने सभी वादों को पूरा करके दिखाएं और 2023 में जब दोबारा चुनाव आएं तो हम भारी बहुमत से वापसी कर सकें।''

उन्होंने कहा, '' कौन, क्या बनेगा और किसको क्या पद मिलेगा, कौन मंत्री है, कौन पार्टी अध्यक्ष है या मुख्यमंत्री, इस बारे में फैसला दिल्ली में पार्टी नेतृत्व द्वारा लिया जाता है।'' राजस्थान में मंत्रिमंडल विस्तार से जुड़े सवाल पर पायलट ने कहा कि जहां तक उन्हें जानकारी है, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी और मुख्यमंत्री इस पर चर्चा कर रहे हैं। उन्होंने कहा, '' इस बारे में जब भी कोई जानकारी होगी, सबके सामने आएगी।''