BREAKING NEWS

उत्तराखंड : उपाध्याय ने कांग्रेस को दिया बड़ा झटका, 40 साल पुराना रिश्ता तोड़कर भाजपा में हुए शामिल◾सरकार की नीतियां देश पर पड़ रही भारी, मायावती बोलीं- युवाओं से ‘पकौड़े बिकवाने की सोच’ बदले BJP ◾ न्यायालय का BJP विधायक नितेश राणे को गिरफ्तारी से 10 दिन का संरक्षण, इस दौरान करना होगा समर्पण ◾अयोध्या की जगह मथुरा शिफ्ट हो रहा UP चुनाव का मुद्दा? बांके बिहारी की शरण में शाह, जानें पूरा कार्यक्रम ◾यूपी चुनाव : सीएम योगी ने 'सैफई महोत्सव' को लेकर SP पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही यह बात ◾प्रमोशन में भगवान पर बयान देकर फंसी श्वेता, नरोत्तम मिश्रा ने दिए जांच के निर्देश, जानें क्या है पूरा मामला ◾दिल्ली : गैंगरेप के बाद महिला के साथ अभद्रता, काटे बाल, चेहरा काला कर इलाके में घुमाया◾UP चुनाव: प्रचार अभियान में कांग्रेस को क्यों होगी बुलेट प्रूफ जैकेट की जरूरत? मदद के लिए उन्नाव भेजी टीम ◾राहुल ने ट्विटर के CEO को लिखा पत्र, कहा- सरकार के दबाव में कार्य कर रही कंपनी, फॉलोअर्स किए कम ◾'टीपू सुल्तान स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स' को लेकर विवाद, राउत बोले-नया इतिहास मत लिखो◾उत्तराखंड चुनाव से पूर्व कांग्रेस को एक और बड़ा झटका! BJP में शामिल हुए पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ◾Today's Corona Update : नए मरीजों की संख्या से ज्यादा रिकवरी रेट, एक्टिव केस में भी दर्ज हुई गिरावट◾World Corona Update : नहीं थम रहा कोरोना संक्रमण का कहर, वैश्विक स्तर पर 36.18 करोड़ हुआ आंकड़ा ◾पंजाब चुनाव : राहुल प्रचार अभियान का फूंकने बिगुल, 117 उम्मीदवारों संग स्वर्ण मंदिर में टेकेंगे मत्था ◾UP विधानसभा चुनाव : प्रचार के लिए आज मैदान में उतरेंगे BJP के दिग्गज, घर-घर देंगे दस्तक◾उत्तराखंड : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय थाम सकते हैं BJP का दामन◾UP चुनाव : CM योगी आदित्यनाथ बृहस्पतिवार को बिजनौर में करेंगे जनसंपर्क◾उप्र चुनाव के लिए कांग्रेस ने तीसरी सूची में 89 और उम्मीदवार घोषित किए, महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट◾गृह मंत्री अमित शाह ने की पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जाट नेताओं के साथ बैठक, ये है भाजपा का प्लान ◾उम्मीदवारों के प्रदर्शन पर रेल मंत्री बोले : ‘अपनी संपत्ति’ को नष्ट न करें, शिकायतों का करेंगे समाधान ◾

रामेश्वर डूडी ने बीजेपी पर साधा निशाना , बोले - सरकार हर मोर्चे पर रही विफल

राजस्थान विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता रामेश्वर डूडी ने राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताते हुए ब्लैक बॉक्स जारी किया है जिसमें सरकार की विफलताओं पर बावन सवाल उठाए गए हैं।

डूडी ने प्रदेश की सरकार के चार साल पूरे होने पर पत्रकार वार्ता में कहा कि जैसे ब्लैक बॉक्स से विमान दुर्घटना के कारण का पता लगाया जाता है उसी तरह यह ब्लैक बॉक्स सरकार का कच्चा चिट्ठा खोलेगा। उन्होंने कहा कि यह ब्लैक बॉक्स राज्य मंत्रिमंडल के सदस्यों, लोकसभा और विधानसभा के सभी सदस्यों को भिजवाया जाएगा, जिससे उन्हें भी सरकार के कारनामों के बारे में जानकारी मिलेगी।

उन्होंने आरोप लगाया कि गाय और राम के नाम वोट मांगने वाली सरकार के कार्यकाल में सबसे ज्यादा गायें भूख से मरी है। इसी सरकार के कार्यकाल में सबसे अधिक मन्दिर तोड़ गए हैं और धर्मों को आपस में लड़ने के प्रयास किए गए हैं। डूडी ने कहा कि सरकार इतनी संवेदनहीन है कि पन्द्रह हजार गायों की मौत के बाद कांग्रेस के आंदोलन चलाने पर अनुदान जारी किया गया।

प्रदेश की सरकार को किसान विरोधी बताते हुए श्री डूडी ने कहा कि जब तक सरकार किसानों को कर्जा माफ नहीं कर देती तब तक कांग्रेस का कार्यकर्ता चैन से नहीं बैठेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों का कर्ज माफ करने के लिए कमेटी बनाई है जबकि उनकी पार्टी की सरकारों ने बिना कमेटी किसानों के कर्ज माफ कर दिए। कमेटी गठन करने का यह सोच ही किसान विरोधी है।

प्रतिपक्ष के नेता ने आरोप लगाया कि सरकार पूरी तरह से भ्रष्टाचार में लिप्त है इसमें खान घोटाला, एलईडी लाइटों का घोटाला, जलदाय विभाग का घोटाला, द्रव्यवती नदी और खुले में शौच के कामों के पीछे घोटाले छिपे हुए हैं। कांग्रेस जनता की गाढ़ कमाई को खाने वालों को नहीं छोड़गी और सत्ता में आने पर इनके खिलाफ कार्रवाई करेगी।

चिकित्सा सेवा को बेहाल बताते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश में सरकार के आंकड़ के अनुसार चार साल में 70 हजार शिशुओं की मौत हो गई लेकिन सरकार 32 हजार की मौत बता रही है। उन्होंने चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ के बयान 'मैं कोई जादूगर नहीं हूं, जो बच्चों की मौत रोक सकूं' को दुर्भाज्ञपूर्ण बताया।

डूडी ने दावा किया कि आज इस सरकार से कर्मचारी, मजदूर, युवा, व्यापारी और किसान कोई खुश नहीं है। सरकार ने चार सालों में 26 हजार विद्यार्थी मित्रों को घर भेज दिया। कांग्रेस सरकार ने चालीस हजार स्कूलें खोली थी लेकिन राज्य में भाजपा सरकार ने साढे अठारह हजार स्कूलों को बन्द कर दिया।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे