BREAKING NEWS

दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने शैली ओबेरॉय को याचिका वापस लेने की दी इजाजत, मेयर चुनाव से जुड़ा है मामला ◾अखिलेश यादव के काफिले के साथ बड़ा हादसा, आपस में टकराईं गाड़ियां, कई लोग घायल◾पद के दुरुपयोग करने के मामले में दक्षिण कोरिया के पूर्व मंत्री को दो साल की हुई जेल◾चीन ने कहा- 'अमेरिका को ईमानदारी दिखानी चाहिए और श्रीलंका की मदद करनी चाहिए'◾Bihar: नालंदा में मिलीं 1200 साल पुरानी मूर्तियां, ASI ने कब्जे में लेने की मांग की◾बिहार से असम तक तैयार हो रहा 4 लेन का एक्सप्रेसवे, इन जिलों को मिलने वाला है फायदा ◾अडाणी विवाद को लेकर बोलें शशि थरूर, कहा- संसद में चर्चा नहीं होने दे रही है सरकार◾त्रिपुरा चुनाव: वाम गठबंधन ने जारी किया घोषणापत्र, किए ये वादे ◾मनीष सिसोदिया ने बदले एक दर्जन से ज्यादा फोन, दूसरे नामों से खरीदे Sim cards, शराब घोटाले को लेकर ED ने किए कई बड़े दावे◾आर्थिक कंगाली के बीच अब 'पाकिस्तान 18 दिनों तक ही कर पाएगा अपना गुजारा' ◾पश्चिम बंगाल : चार बांग्लादेशी घुसपैठियों को सशस्त्र सीमा बल के जवानों ने दबोचा◾2019 से राष्ट्रपति की विदेश यात्राओं पर सवा छह करोड़ रुपये खर्च हुए◾भाजपा-ठाकरे गुट में तनातनी: संजय राउत ने 'आधारहीन आरोप' लगाने के लिए नारायण राणे को भेजा कानूनी नोटिस◾चीन: अमेरिकी वायु क्षेत्र में जासूसी गुब्बारा उड़ने की रिपोर्ट पर गौर कर रहे हैं◾ब्रिटेन के PM के रूप में 100 दिनों पर सुनक को औसत ग्रेड◾असम : बाल विवाह करने वालों की अब खैर नहीं, सरकार ने शुरू की मुहिम, 1,800 लोगों की हुई गिरफ़्तारी ◾कंझावला कांड : सच साबित हुई निधि की बात, हादसे के वक्त शराब के नशे में थी अंजलि, विसरा रिपोर्ट में हुआ खुलासा◾ संबंधों को सामान्य करने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे' 'इजराइल और सूडान◾SC ने किया BBC की Documentary पर तुरंत बैन हटाने से इनकार, केंद्र सरकार से मांगे Original दस्तावेज◾SC को जल्द मिलेंगे 5 नए जज, केंद्र सरकार ने कॉलेजियम की सिफारिश को मंजूरी देने का आश्वासन दिया ◾

गांवों के बच्चों को ऑनलाइन शिक्षण का लाभ नि:शुल्क मिले इसके लिए गंभीर प्रयास किए जाने चाहिए : राज्यपाल

राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की व्यावहारिक चुनौतियों को दूर करने में डिजिटल माध्यम वरदान साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि दूर-दराज गांवों के बच्चों को ऑनलाइन शिक्षण प्लेटफॉर्म का लाभ नि:शुल्क मिल सके, इस दिशा में गंभीर प्रयास किए जाने चाहिए।

मिश्र भीलवाड़ा जिले के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय देवरिया एवं पनोतिया में स्मार्ट क्लासरूम के वर्चुअल उद्घाटन के बाद बृहस्पतिवार को यहां राजभवन से लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के दौर में डिजिटल माध्यम ने शिक्षण व्यवस्था को बाधित नहीं होने दिया। हालांकि, डिजिटल माध्यम के दुष्प्रभावों से बच्चे कैसे बचें, इस पर भी शिक्षकों को ध्यान देने की जरूरत है।

राज्यपाल ने नई शिक्षा नीति पर चर्चा करते हुए कहा कि इसमें मोबाइल एप, डिजिटल शिक्षा, मूल्यांकन में इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों के अधिकाधिक इस्तेमाल पर जोर दिया गया है। इसके लिए जरूरी है कि उपेक्षित और कमज़ोर वर्ग के बच्चों में डिजिटल साक्षरता लाने के लिए जीवंत डिजिटल इको-सिस्टम बने। मिश्र ने कोविड टीकाकरण अभियान में सभी से सकारात्मक सहयोग का आह्वान करते हुए अपना तथा अपनी पात्र संतानों का टीकाकरण शीघ्र करवाने की अपील की।

उन्होंने कहा कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। इसके नए-नए रूप सामने आ रहे हैं इसलिए सभी लोग मास्क लगाए रखें तथा दो गज दूरी और स्वच्छता नियमों का पालन करें।