BREAKING NEWS

71वां गणतंत्र दिवस के मोके पर राष्ट्रपति कोविंद राजपथ पर फहराएंगे तिरंगा◾गणतंत्र दिवस पर सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक विरासत और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का होगा भव्य प्रदर्शन◾अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार मिलने पर हरदीप सिंह पुरी ने दी बधाई ◾पूर्व मंत्रियों अरूण जेटली, सुषमा स्वराज और जार्ज फर्नांडीज को पद्म विभूषण से किया गया सम्मानित, देखें पूरी लिस्ट !◾कोरोना विषाणु का खतरा : करीब 100 लोग निगरानी में रखे गए, PMO ने की तैयारियों की समीक्षा◾गणतंत्र दिवस : चार मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश एवं निकास कुछ घंटों के लिए रहेगा बंद ◾ISRO की उपलब्धियों पर सभी देशवासियों को गर्व है : राष्ट्रपति ◾भाजपा ने पहले भी मुश्किल लगने वाले चुनाव जीते हैं : शाह◾यमुना को इतना साफ कर देंगे कि लोग नदी में डुबकी लगा सकेंगे : केजरीवाल◾उमर की नयी तस्वीर सामने आई, ममता ने स्थिति को दुर्भाग्यपूर्ण बताया◾ओम बिरला ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी◾PM मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को दी बधाई◾भारत और ब्राजील आतंकवाद के खिलाफ आपसी सहयोग बढ़ाने का किया फैसला◾370 के खात्मे के बाद कश्मीर में शान से फहरेगा तिरंगा : अमित शाह◾देशवासियों को बांटने, संविधान को कमजोर करने की हो रही साजिश : सोनिया◾PM मोदी और नेतन्याहू ने फोन पर वैश्विक और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा की◾गांधी शांति यात्रा पहुंची आगरा ◾भारत-नेपाल सीमा पर पहुंचा कोरोना वायरस, बॉर्डर पर होगी स्क्रीनिंग◾ दिल्ली चुनाव : 250 नेता, हर दिन 500 जनसभाएं, इस तरह माहौल बनाने में जुटी है भाजपा◾आर्थिक विकास के लिए संविधान के मुताबिक चलना होगा - कोविंद◾

केंद्रीय नियमों में आने वाले मजदूरों की भी चिंता करे राज्य सरकार : जोशी

विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी ने शुक्रवार को कहा कि राज्य सरकार को राजस्थान के उन मजदूरों के हितों की चिंता भी करनी चाहिए जो उसके नहीं बल्कि केंद्र सरकार के नियमों के दायरे में आते हैं। जोशी ने 'रामगंज मंडी में एएसआई कंपनी द्वारा श्रम कानूनों की अवहेलना'संबंधी मुद्दे पर चर्चा के दौरान यह बात कही।

भाजपा विधायक मदन दिलावर ने आधे घंटे की चर्चा में यह मुद्दा उठाया था। जवाब में राज्यमंत्री टीकाराम जूली ने कहा,'कारखाने के अंदर जो भी मजदूर काम कर रहे हैं, उनके संरक्षण की पूरी जिम्मेदारी हमारी है। लेकिन खनन केंद्र सरकार के अधीन आता है। उसमें हमारे नियम, कानून, कायदे जरा भी प्रभावी नहीं हैं। उसके अंदर हम कोई कार्रवाई नहीं कर सकते।' इस पर जोशी ने हस्तक्षेप करते हुए कहा कि सरकार की यह सोच सही नहीं है। 

एस.जयशंकर ने श्रीलंका, वियतनाम और मंगोलिया के विदेश मंत्रियों से की द्विपक्षीय वार्ता

उन्होंने कहा,' यह सरकार का नजरिया ठीक नहीं हैं।’’ जोशी ने कहा कि केंद्रीय कानून की व्यवस्था है लेकिन केंद्रीय कानून के प्रावधान के बावजूद भी राजस्थान में काम करने वाला जो मजदूर है उसका शोषण हो रहा है, उसको फायदा नहीं मिल रहा है .... सरकार को कोई न कोई नियम बनाकर, उसका संरक्षण करना चाहिए।’’