BREAKING NEWS

देखें Video : छत्तीसगढ़ में तेज रफ्तार कार ने भीड़ को रौंदा, एक की मौत, 17 घायल◾चेन्नई सुपर किंग्स चौथी बार बना IPL चैंपियन◾बुराई पर अच्छाई की जीत का त्योहार दशहरा देश भर में उल्लास के साथ मनाया गया◾सिंघु बॉर्डर : किसान आंदोलन के मंच के पास हाथ काटकर युवक की हत्या, पुलिस ने मामला किया दर्ज ◾कपिल सिब्बल का केंद्र पर कटाक्ष, बोले- आर्यन ड्रग्स मामले ने आशीष मिश्रा से हटा दिया ध्यान◾हिंदू मंदिरों के अधिकार हिंदू श्रद्धालुओं को सौंपे जाएं, कुछ मंदिरों में हो रही है लूट - मोहन भागवत◾जनरल नरवणे भारत-श्रीलंका के बीच सैन्य अभ्यास के समापन कार्यक्रम में शामिल हुए, दोनों दस्तों के सैनिकों की सराहना की◾अफगानिस्तान: कंधार में शिया मस्जिद को एक बार फिर बनाया गया निशाना, विस्फोट में कई लोगों की मौत ◾सिंघु बॉर्डर आंदोलन स्थल पर जघन्य हत्या की SKM ने की निंदा, कहा - निहंगों से हमारा कोई संबंध नहीं ◾अध्ययन में चौंकाने वाला खुलासा, दिल्ली में डेल्टा स्वरूप के खिलाफ हर्ड इम्युनिटी पाना कठिन◾सिंघु बॉर्डर पर युवक की विभत्स हत्या पर बोली कांग्रेस - हिंसा का इस देश में स्थान नहीं हो सकता◾पूर्व PM मनमोहन की सेहत में हो रहा सुधार, कांग्रेस ने अफवाहों को खारिज करते हुए कहा- उनकी निजता का सम्मान किया जाए◾रक्षा क्षेत्र में कई प्रमुख सुधार किए गए, पहले से कहीं अधिक पारदर्शिता एवं विश्वास है : पीएम मोदी ◾PM मोदी ने वर्चुअल तरीके से हॉस्टल की आधारशिला रखी, बोले- आपके आशीर्वाद से जनता की सेवा करते हुए पूरे किए 20 साल◾देश ने वैक्सीन के 100 करोड़ के आंकड़े को छुआ, राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान ने कायम किया रिकॉर्ड◾शिवपाल यादव ने फिर जाहिर किया सपा प्रेम, बोले- समाजवादी पार्टी अब भी मेरी प्राथमिकता ◾जेईई एडवांस रिजल्ट - मृदुल अग्रवाल ने रिकॉर्ड के साथ रचा इतिहास, लड़कियों में काव्या अव्वल ◾दिवंगत रामविलास पासवान की पत्नी रीना ने पशुपति पारस पर लगाए बड़े आरोप, चिराग को लेकर जाहिर की चिंता◾सिंघू बॉर्डर पर किसानों के मंच के पास बैरिकेड से लटकी मिली लाश, हाथ काटकर बेरहमी से हुई हत्या ◾कुछ ऐसी जगहें जहां दशहरे पर रावण का दहन नहीं बल्कि दशानन लंकेश की होती है पूजा◾

राजस्थान उपचुनाव : कांग्रेस और BJP में उम्मीदवारों के नामों को लेकर मंथन जारी, तेज हुआ अटकलों का दौर

राजस्थान में उदयपुर जिले की वल्लभनगर एवं प्रतापगढ़ जिले की धरियावद विधानसभा सीट के लिए 30 अक्टूबर को होने वाले उपचुनाव के लिए नामांकन की तारीख नजदीक आने से चुनावी सरगिर्मयां और तेज हो गई हैं। उपचुनाव में नामांकन की अंतिम तारीख 8 अक्टूबर हैं लेकिन अभी सत्तारुढ़ कांग्रेस एवं मुख्य विपक्ष भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने उम्मीदवार का चयन करने में मशक्कत कर रही हैं। माना जा रहा है कि दोनों प्रमुख पार्टियां आज-कल में अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर सकती हैं। 

उपचुनाव में राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) तथा अन्य दल की तरफ से भी अभी अपने किसी उम्मीदवार की घोषणा नहीं हुई हैं। कांग्रेस की दबदबे वाली वल्लभनगर सीट पर कांग्रेस के पूर्व विधायक गजेंद्र सिंह शक्तावत की पत्नी प्रीति शक्तावत को टिकट देकर सहानुभूति कार्ड खेलने की संभावना के चलते उन्हें टिकट मिल सकता है। लेकिन अभी पार्टी की तरफ से किसी नाम का खुलासा नहीं हुआ हैं जबकि गजेंद्र सिंह शक्तावत के बड़े भाई देवेंद्र सिंह शक्तावत ने भी दावेदारी पेश कर रखी है। 

वल्लभनगर उपचुनाव के लिए भाजपा अपने उम्मीदवार के चयन के लिए कड़ी मशक्कत कर रही हैं और गत विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी रहे उदय लाल डांगी की दावेदारी मजबूत मानी जा रही है। लेकिन डांगी पिछले चुनाव में तीसरे नंबर पर रहे जबकि जनता सेना के रणधीर सिंह भींडर दूसरे स्थान पर रहे थे। भाजपा एवं निर्दलीय के रुप में दो बार विधायक रह चुके भींडर इस बार अगर उपचुनाव लड़ते हैं तो फिर भाजपा के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती है। इस सीट पर भाजपा को अपना उम्मीदवार तय करने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।

धरियावद सीट के लिए दो बार विधायक रह चुके नगराज मीणा की कांग्रेस प्रत्याशी के लिए उम्मीदवारी मजबूत बताई जा रही है लेकिन वह पिछले दो लगातार विधानसभा चुनाव हार चुके हैं। ऐसे में कांग्रेस अपना उम्मीदवार खड़ा करने में मशक्कत कर रही हैं। हालांकि अन्य लोगों ने भी उम्मीदवारी जताई हैं। उधर भाजपा ने धरियावद से पूर्व विधायक गौतमलाल मीणा के पुत्र कन्हैयालाल मीणा को टिकट देकर सहानुभूति कार्ड खेलने की संभावना से कन्हैयालाल को उम्मीदवारी मिल सकती है। हालांकि खेत सिंह मीणा तथा अन्य ने भी अपनी दावेदारी जताई हैं। 

इन दोनों सीट में वल्लभनगर सीट पर दोनों प्रमुख पार्टियों की नजर ज्यादा रहने की संभावना है, क्योंकि वल्लभनगर पर अब तक हुए चुनाव में कांग्रेस ने 7 बार बाजी मारी और उसमें भी एक ही परिवार का दबदबा रहा। कांग्रेस उम्मीदवार के रुप में गुलाबसिंह शक्तावत पांच बार एवं उनके पुत्र गजेंद्र सिंह शक्तावत दो बार इस क्षेत्र का प्रतिनिधत्व किया। अब यह सीट दोनों ही पार्टियों के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बनी हुई है कि कांग्रेस अपना दबदबा कायम रखने की कोशिश करेगी वहीं भाजपा इसे हासिल करना चाहेगी। भाजपा ने इस क्षेत्र में दो बार जीत हासिल की और उसमें भी एक बार पार्टी उम्मीदवार के रुप में विधायक रह चुके भींडर अब पार्टी में नहीं हैं।

दोनों प्रमुख पार्टियों के सू्त्रों के अनुसार उम्मीदवारों चयन को लेकर लगभग तैयारी पूरी कर ली गई हैं और अब शीघ्र ही उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी जायेगी। उपचुनाव को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 8 अक्टूबर को कांग्रेस प्रत्याशियों को नामांकन दाखिल कराने उदयपुर के वल्लभनगर और प्रतापगढ़ के धरियावद जाएंगे। गहलोत शुक्रवार को पूर्वाह्न 11 बजे वल्लभनगर पहुंचकर कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करेंगे। इसके बाद दोपहर करीब 1 बजे प्रतापगढ़ के धरियावद पहुंचकर वहां पार्टी प्रत्याशी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करेंगे।

उधर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया एवं उपनेता राजेंद्र सिंह राठौड़ सहित पार्टी के अन्य कई नेता पार्टी प्रत्याशी के नामांकन के समय वल्लभनगर एवं धरियावद दोनों जगह मौजूद रहेंगे और जनसभा को संबोधित करेंगे। इस दौरान भाजपा के प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह के भी मौजूद रहने की संभावना है। उल्लेखनीय है कि गत 17 अप्रैल को राज्य में 3 सीटों पर हुए विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस ने 2 सीटों सुजानगढ़ एवं सहाड़ पर बाजी मारी जबकि एक सीट राजसमंद पर भाजपा की उम्मीदवार विजयी रही।