BREAKING NEWS

अब संसद में नहीं गूंजेगी अरुण जेटली की आवाज, खलेगी कमी : राहुल गांधी◾दवाओं की कोई कमी नहीं, फोन पर पाबंदी से जिंदगियां बचीं : सत्यपाल मलिक◾निगमबोध घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अरुण जेटली का अंतिम संस्कार किया गया◾मन की बात: PM मोदी ने दो अक्टूबर से प्लास्टिक कचरे के खिलाफ जन आंदोलन का किया आह्वान ◾लोकतांत्रिक अधिकारों को समाप्त करने से अधिक राजनीतिक और राष्ट्र-विरोधी कुछ नहीं : प्रियंका गांधी◾जी-7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए PM मोदी फ्रांस रवाना◾सोनिया गांधी ने कहा- सीट बंटवारे को जल्द अंतिम रूप दें महाराष्ट्र के नेता◾व्यक्तिगत संबंधों के कारण से सभी राजनीतिक दलों में अरुण जेटली ने बनाये थे अपने मित्र◾अनंत सिंह को लेकर पटना पहुंची बिहार पुलिस, एयरपोर्ट से बाढ़ तक कड़ी सुरक्षा◾पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी बोले- कश्मीर में आग से खेल रहा है भारत◾निगमबोध घाट पर होगा पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का अंतिम संस्कार◾भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए मुख्य संकटमोचक थे अरुण जेटली◾PM मोदी को बहरीन ने 'द किंग हमाद ऑर्डर ऑफ द रेनेसां' से नवाजा, खलीफा के साथ हुई द्विपक्षीय वार्ता◾मोदी ने जेटली को दी श्रद्धांजलि, बोले- सत्ता में आने के बाद गरीबों का कल्याण किया◾जेटली के आवास पर तीन घंटे से अधिक समय तक रुके रहे अमित शाह ◾भाजपा को हर कठिनाई से उबारने वाले शख्स थे अरुण जेटली◾राहुल और अन्य विपक्षी नेता श्रीनगर हवाईअड्डे पर रोके गये, सभी को भेजा वापिस ◾अरूण जेटली का पार्थिव शरीर उनके आवास पर लाया गया, भाजपा और विपक्षी नेताओं ने दी श्रद्धांजलि ◾वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के निधन पर प्रधानमंत्री ने कहा : मैंने मूल्यवान मित्र खो दिया ◾क्रिेकेटरों ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरूण जेटली के निधन पर शोक व्यक्त किया ◾

राजस्‍थान

राजस्थान में बारिश से जुड़े विभिन्न हादसों में मृतकों की संख्या 22 तक पहुंची

जयपुर : राजस्थान में भारी बारिश के चलते जहां कोटा और आसपास के इलाकों में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं, वहीं राज्य के विभिन्न हिस्सों में बारिश से जुड़े हादसों में नौ और लोगों की मौत हो जाने से मरने वालों की संख्या 22 तक पहुंच गई है। राज्य के आपदा राहत प्रबंधन दल ने भारी बारिश के कारण बाढ़ जैसे हालात का सामना कर रहे कोटा में निचले इलाकों में रह रहे लगभग 250 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। 

कोटा के जिला कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल ने बताया कि भारी बारिश के चलते कई कालोनियों में जलभराव के कारण कालोनी वासी अपने-अपने घरों में फंस गए हैं। उन्हें सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। उन्होंने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है और आवश्यकतानुसार राहत दलों को विभिन्न स्थानों पर राहत कार्यो के लिए तैनात किया गया है। 

राहत सचिव आशुतोष पेडनेकर ने बताया कि रविवार को विभिन्न जिलों में वर्षा जनित हादसों में नौ और लोगों के मरने की सूचना मिलने से मृतकों की संख्या 22 तक पहुंच गई है। 

भीलवाड़ा में एक मकान की छत गिर जाने से एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई, वहीं पाली में उफनते नाले में बह जाने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। तीन लोगों की एक अन्य नाले में पानी में डूबने से मौत हो गई। बूंदी में एक 17 वर्षीय किशोर नाले में बह गया। वहीं जयपुर के सांगानेर में एक कुंड में डूब जाने से दो युवकों की मौत हो गई। जोधपुर में एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं, शनिवार रात से रविवार सुबह तक राज्य के बूंदी में मूसलाधार और कई हिस्सों में भारी बारिश दर्ज की गई। 

मौसम विभाग के अनुसार, पिछले 24 घंटों के दौरान बूंदी में 26 सेंटीमीटर बारिश, तालेडा में 20 सेंटीमीटर, कोटा में 15 सेंटीमीटर, राजसमंद के देवगढ़ में 14 सेंटीमीटर, अजमेर के पिसांगन में 13 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई। राज्य के अन्य कई स्थानों पर 13 सेंटीमीटर से नीचे बारिश दर्ज की गई। उन्होंने बताया कि रविवार सुबह से शाम तक जोधपुर में 113.8 मिलीमीटर, जयपुर में 19.1 मिलीमीटर, बीकानेर में 11.7 मिलीमीटर, अजमेर में 10 मिलीमीटर, गंगानगर में 9.4 मिलीमीटर, कोटा में 6.6 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। विभाग ने आगामी 24 घंटों के दौरान राज्य के कुछ हिस्सों में मूसलाधार बारिश होने की संभावना जताई है।