BREAKING NEWS

तृणमूल के विधायक, कई पार्षदों ने थामा BJP का दामन◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ पर बुधवार सुबह निर्णय लेंगे कांग्रेस और सहयोगी दल ◾अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के बने नेता◾स्पीकर के चुनाव में बिड़ला का समर्थन करेगा UPA, ''एक राष्ट्र, एक चुनाव'' पर अभी निर्णय नहीं ◾बजट से पहले मोदी के साथ महत्वपूर्ण विभागों के सचिवों की बैठक ◾J&K : पुलवामा में पुलिस थाने पर ग्रेनेड हमला, 5 घायल, 2 की हालत गंभीर◾PM मोदी ने 19 जून को बुलाई सर्वदलीय बैठक, 'एक राष्ट्र एक चुनाव' पर करेंगे चर्चा◾मेरठ : गमगीन माहौल में हुआ शहीद मेजर का अंतिम संस्कार, अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसैलाब ◾WORLD CUP 2019, ENG VS AFG : इंग्लैंड ने अफगानिस्तान के खिलाफ रिकार्डों की झड़ी लगाई ◾विपक्ष ने महाराष्ट्र के वित्त मंत्री के ट्विटर हैंडल पर बजट लीक को लेकर की सरकार आलोचना की◾Top 20 News - 18 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾बिहार के CM नीतीश ने एईएस पीड़ित बच्चों को लेकर दिए आवश्यक निर्देश ◾लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए NDA उम्मीदवार ओम बिड़ला को मिला BJD का समर्थन ◾मेरठ पहुंचा शहीद मेजर का पार्थिव शरीर, झलक पाने को उमड़ी भारी भीड़ ◾2005 अयोध्या आतंकी हमले में 4 आरोपियों को उम्रकैद, एक बरी◾सोनिया गांधी, हेमा मालिनी और मेनका गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ ◾रक्षा मंत्री राजनाथ ने मेजर केतन को दी श्रद्धांजलि ◾बीजेपी सांसद ओम बिड़ला ने लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए पर्चा भरा◾पश्चिम बंगाल : हड़ताल खत्म कर काम पर लौटे डॉक्टर , अस्पताल में सामान्य सेवाएं बहाल ◾व्हील चेयर पर लोकसभा में पहुंचे मुलायम, निर्धारित क्रम से पहले ली शपथ ◾

राजस्‍थान

राजस्थान में कांग्रेस की हार को लेकर दिल्ली में आज होने वाली समीक्षा बैठक स्थगित

राजस्थान में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार को लेकर दिल्ली में आज होने वाली समीक्षा बैठक स्थगित हो गई। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के निवास पर होने वाली इस बैठक में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट दिल्ली में ही मौजूद थे।

बैठक से पहले ही कृषि मंत्री लाल चन्द कटारिया के इस्तीफे को लेकर कल काफी चर्चाएं चली। कांग्रेस कार्यकर्ता यह कयास लगा रहे हैं कि हार को लेकर किसी मंत्री या पदाधिकारी पर गाज गिर सकती है। लाल चन्द कटारिया सहित कई मंत्री और नेता दिल्ली में डेरा डाले हुए है।  

कांग्रेस का एक तबका यह भी मान रहा है कि पार्टी की देशव्यापी हार के कारण राज्य में किसी मंत्री या पदाधिकारी पर शायद ही कार्रवाई हो। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी हार से विचलित हैं, लिहाजा फिलहाल पार्टी में शायद ही कोई निर्णय हो पाये। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पिछला सब कुछ बुलाकर आगे पार्टी और सरकार की छवि बनाने के पक्ष में हैं। 

झुंझुनू और नागौर में मौजूदा विधायकों के सांसद चुने जाने से यहां भी उप चुनाव होंगे। कांग्रेस को उम्मीद है कि राज्य में बीजेपी में अंदररूनी खींचतान के कारण उन दोनों सीटों पर कांग्रेस चुनाव जीत सकती है और इससे माहौल भी बदल सकता है।