राजस्थान : लिंग चयन प्रतिषेद अधिनियम(पीसीपीएनडीटी) टीम ने पंजाब में डिकाय कार्रवाई करते हुए भ्रूण लिंग जांच मामले में सरकारी नर्स एवं दाई सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

 

अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक एनएचएम नवीन जैन ने आज बताया कि श्रीगंगानगर एवं पडोसी राज्यों में गर्भवती महिलाओं को ले जाकर भ्रूण लिंग जांच कराने की सूचना पर टीम ने लगातार निगरानी कर श्रीगंगानगर के श्यामनगर निवासी दलाल प्रमिलादेवी से संपर्क साधने पर अवैध भ्रूण लिंग जांच गिरोह का पर्दाफाश हुआ।

उन्होंने बताया कि मंगलवार सुबह दलाल ने भ्रूण लिंग जांच कराने की एवज में अस्सी हजार रुपए लिए और डिकाय महिला को दूसरी दलाल श्रीगंगानगर के अरायण निवासी संध्या के साथ लेकर ट्रेन से पंजाब के मलोट ले जाया गया। श्री जैने ने बताया कि रेलवे स्टेशन पर तीसरी महिला दलाल पंजाब के ख्यूवाली निवासी अर्शदीप से मिली और उन्हें निजी वाहन से फिरोजपुर जिले के मक्खू कस्बे की ढाणी में ले गए जहां गर्भवती की अपंजीकृत मशीन से सोनोग्राफी कर भ्रूण लिंग के बारे में बताया।

इसके बाद महिला दलाल गर्भवती महिला को लेकर वापस मलोट पहुंची तो टीम ने तीनों महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में कथित चिकित्सक एवं दलाल अवनीत सिंह फरार हो गये जिनकी तलाश जारी है।