राजस्थान प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष सचिन पायलट ने मंगलवार को बीजेपी पर चुनाव के दौरान बीजेपी मंदिर—मस्जिद के नाम पर लोगों को असली मुद्दों से भटकाने का आरोप लगाया।

सचिन पायलट ने कहा कि बीजेपी ने साढे चार साल तक मौनव्रत धारण करे रखा। उन्होंने कहा कि जब मंदिर का मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है तो बीजेपी द्वारा चुनाव से पहले मंदिर का मामला क्यों उठाया जा रहा है… कांग्रेस वास्तविक मुद्दे उठायेगी।

कांग्रेस नेता ने कहा कि राजस्थान में लोगों ने बीजेपी का बोरिया बिस्तर बांध देने का मन बना बना लिया है। कांग्रेस की सरकार आम लोगों,गरीब, किसान, युवाओं की सरकार होगी।

राम मंदिर निर्माण को लेकर लोगों की आस्था से खेल रही भाजपा : तिवारी

उन्होंने कहा कि इस बार प्रदेश में दो बार दीपावली मनायी जायेगी। उन्होंने कहा, ”आज दीपावली मना रहे है…. और सात दिसम्बर को बीजेपी की विदाई होगी”।

सचिन पायलट ने कहा कि कांग्रेस बीजेपी की वास्तविक मुद्दों से भटकाने की कोशिशों को कभी सफल नहीं होने देगी और जनता की आवाज को बुलंद करती रहेगी। बीजेपी भले ही कितने भी हथकंडे अपनाये या जुमलेबाजी करे लेकिन पार्टी को मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पिछले पांच सालों के कुशासन की जिम्मेदारी लेनी पडेगी।

उन्होंने कहा कि बीजेपी का शीर्ष नेतृत्व प्रदेश भर में दौरा कर रहा है। वे मतदाताओं की रसोई में जा रहे है, चाय पी रहे है। लेकिन बीजेपी राज्य के मतदाताओं की पांच साल तक अनदेखी करने की जिम्मेदारी से अपना पल्ला नहीं झाड़ सकती।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने बीजेपी को बहुमत दिया था और और अब पार्टी मौजूदा विधायकों का टिकट काट कर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला नहीं झाड़ सकती।

राम मंदिर नहीं बना तो त्याग देंगे देह : स्वामी सत्यमित्रानंद

कांग्रेस के घोषणापत्र के बारे में सचिन पायलट ने कहा कि पार्टी को आनलाइन प्लेटफार्म के जरिये अब तक 50000 से ज्यादा सुझाव मिले है, और पार्टी का घोषणापत्र नवम्बर के मध्य में जारी कर दिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि उम्मीदवारों की पहली सूची दीपावली के बाद जारी की जायेगी। हमारा प्रयास है कि प्रत्येक विधानसभा सीट के लिए एक नाम पर सहमति बने। सर्वे, फीडबैक और आमराय के आधार पर उम्मीदवारों का चयन किया जायेगा।