राफेल लड़ाकू विमान सौदे में कांग्रेस पर पलटवार करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने सोमवार को कहा कि उसने इस सौदे से ‘बिचौलिए’ को भगा दिया इसलिए कांग्रेस को पीड़ा हो रही है। भाजपा के अनुसार इस मामले में कांग्रेस का झूठ देश के सामने आएगा।

केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने आरोप लगाया कि कांग्रेस व तत्कालीन संप्रग सरकार इस मामले में वायुसेना की न सुन एक दलाल संजय भंडारी की सुन रही थी जो राबर्ट वाड्रा का खास है। भाजपा के मीडिया सेंटर में मेघवाल ने कहा, “मैं यह कह रहा हूं कि मुझे पूरी जानकारी है और जिम्मेदारी के साथ कह रहा हूं …इन्हें (कांग्रेस को) पीड़ा तब हुई जब संजय भंडारी के जरिए सौदा नहीं हुआ। हमने बिचौलिए को भगाया। दो देशों के बीच समझौता किया।”

उन्होंने कहा कि कांग्रेस 2006 से लेकर 2013 तक राफेल सौदे के मुद्दे को सुलझा नहीं पायी। उन्होंने आरोप लगाया कि वायुसेना द्वारा बार बार मांग किए जाने के बावजूद उसकी नहीं सुनी गयी। “क्योंकि कांग्रेस संजय भंडारी की सुन रही थी, जो बीच में एक दलाल था.. जो राबर्ट वाड्रा के खास था। वह उनके माध्यम से सौदा करना चाह रहे थे।”

राफेल डील की अगर जांच हो तो पीएम मोदी बच नहीं पाएंगे : राहुल

अर्जुन राम मेघवाल ने दावा किया कि मोदी सरकार ने राफेल लड़ाकू विमान का सौदा अपेक्षाकृत कम कीमत में किया है। उन्होंने कहा, “कांग्रेस संप्रग-एक के कार्यकाल में दी गयी दरों का तो जिक्र कर रही है लेकिन संप्रग-दो के कार्यकाल में 2012-13 में दी गयी दरों का जिक्र क्यों नहीं कर रही? वे दरें हमारी दरों से ज्यादा थी। हमारा राफेल का साधारण विमान नौ प्रतिशत कम कीमत व लड़ाकू विमान 25 प्रतिशत कम कीमत पर खरीदने का प्रस्ताव है।”

उन्होंने कहा कि राफेल का मामला उच्चतम न्यायालय में है और देश के सामने आ जाएगा कि कांग्रेस झूठ बोल रही है। अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि कांग्रेस ने इससे पहले राजस्थान में फर्जी मतदाताओं के मामले में भी कांग्रेस नेताओं की याचिकाएं उच्चतम न्यायालय में खारिज हो गयी थीं। उन्होंने कहा ‘कांग्रेस को झूठ बोलने की बीमारी है।