पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के ‘एग्जिट पोल’ में जताए अनुमानों से उत्साहित कांग्रेस ने कहा कि एग्जिट पोल साफ तौर पर यह संकेत दे रहे हैं कि लोग एक विकल्प के तौर पर उसका समर्थन करते हैं और भाजपा बैकफुट पर है। हालांकि, भारतीय जनता पार्टी ने ऐसे दावों को खारिज किया और कहा कि एग्जिट पोल साल 2014 के बाद से ही सभी चुनावों में भाजपा के सीटों की संख्या को लगातार कमतर बताते रहे हैं।

भाजपा प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्हा राव ने कहा, “कांग्रेस एग्जिट पोल नतीजों पर आनंद की अनुभूति ले सकती है लेकिन यह ज्यादा वक्त तक नहीं रहेगी।” एग्जिट पोल में शुक्रवार को मध्य प्रदेश तथा छत्तीसगढ़ में भाजपा और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर तथा राजस्थान में विपक्षी दल की जीत का अनुमान लगाया गया।

congress_bjp

वरिष्ठ कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा, “इन चुनावों में भाजपा के खिलाफ गुस्सा साफ तौर पर देखा गया और लोग कांग्रेस द्वारा दिए ब्लूप्रिंट को स्वीकार करने के इच्छुक हैं। लोग उन सवालों का जवाब चाहते हैं जो उन्हें पिछले पांच साल से नहीं दिए गए जैसे कि महंगाई, किसानों की खराब स्थिति, अर्थव्यवस्था में गिरावट।”

राजस्थान विधानसभा चुनाव : कांग्रेस के सत्ता में आने पर ही साफा पहनूंगा – सचिन पायलट

उन्होंने कहा, “यह बहुत आसानी से दिख रहा है कि भाजपा इन सभी पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों में बैकफुट पर है और कांग्रेस एक विकल्प दे रही है जिसका ज्यादातर लोग समर्थक कर रहे हैं। इन एग्जिट पोल से यही निष्कर्ष निकल रहे हैं।” बहरहाल, पायलट ने कहा कि अंतिम नतीजों को देखने के लिए 11 दिसंबर का इंतजार करना बेहतर रहेगा और लोग ‘प्रोपेगैंडा’ वाली राजनीति को नकार रहे हैं।