गुजरात में आज सत्तारूढ भाजपा ने उत्तर प्रदेश के स्थानीय निकाय चुनाव में जीत का जमकर जश्न मनाया। शुरूआती रूझानों में ही जब यह स्पष्ट होने लगा कि भाजपा बड़ी जीत की ओर बढ़ रही है तो पार्टी के कार्यकर्ता राजधानी गांधीनगर के निकट कोबा स्थित पार्टी के प्रदेश मुख्यालय श्रीकमलम तथा अन्य स्थानों पर उत्साह के साथ जुटने लगे। उसके बाद स्थिति पूरी तरह स्पष्ट हो गयी तो जश्न ने जोर पकड़ लिया।

श्रीकमलम के अलावा सुरेन्द्रनगर, दाहोद, अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, जामनगर, वडोदरा समेत सभी महानगर, जिला और तालुका कार्यालयों पर खूब पटाखे फोड़ गये और मिठाइयां खिलाई गयीं। राज्य में 9 और 14 दिसंबर को दो चरणों में होने वाले विधानसभा चुनाव के ठीक पहले इस जीत से गुजरात में 22 साल से सत्तारूढ़ भाजपा के चुनाव अभियान में एक नये प्राण का संचार हुआ है।

कांग्रेस के करारे हमलों और सत्ता विरोधी लहर की अटकलों के चलते कुछ बचाव की मुद्रा में दिख रही भाजपा कल जीडीपी के विकास दर के उत्साहजनक आंकड़ के बाद से ही उत्साहित हो गयी थी और उत्तर प्रदेश चुनाव के परिणाम ने जैसे उसके लिए सोने पर सुहागा का काम कर दिया है।

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी तथा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष जीतू वाघाणी ने इस जीत पर खुशी जताते हुए इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा भाजपा की नीतियों में जनता के विश्वास की जीत बताया। राज्य के मध्यवर्ती जिले छोटा उदेपुर में चुनाव प्रचार के लिए आये केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह जो स्वयं भी उत्तर प्रदेश के हैं और वहां के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि वहां की जनता ने एक बार फिर कांग्रेस को पूरी तरह नकार दिया है और गुजरात में भी इस बार उसका सूपड़ साफ हो जायेगा।