BREAKING NEWS

लद्दाख के उपराज्यपाल आर के माथुर ने गृहमंत्री से की मुलाकात, कोरोना के हालात की स्थिति से कराया अवगत◾महाराष्ट्र : 24 घंटे में कोरोना से 116 लोगों की मौत, 2,682 नए मामले ◾दिल्ली-एनसीआर में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर तीव्रता 4.6 मापी गई, हरियाणा का रोहतक रहा भूकंप का केंद्र◾मशहूर ज्योतिषाचार्य बेजन दारुवाला का 90 वर्ष की उम्र में निधन, कोरोना लक्षणों के बाद चल रहा था इलाज◾जीडीपी का 3.1 फीसदी पर लुढ़कना भाजपा सरकार के आर्थिक प्रबंधन की बड़ी नाकामी : पी चिदंबरम ◾कोरोना प्रभावित टॉप 10 देशों की लिस्ट में नौवें स्थान पर पहुंचा भारत, मरने वालों की संख्या चीन से ज्यादा हुई ◾पश्चिम बंगाल में 1 जून से खुलेंगे सभी धार्मिक स्थल, 8 जून से सभी संस्थाओं के कर्मचारी लौटेंगे काम पर◾छत्तीसगढ़ के पूर्व CM अजीत जोगी का 74 साल की उम्र में निधन◾दिल्ली: 24 घंटे में कोरोना के 1106 नए मामले, मनीष सिसोदिया बोले- घबराएं नहीं, 50% मरीज ठीक◾ट्रंप के मध्यस्थता वाले प्रस्ताव को चीन ने किया खारिज, कहा-किसी तीसरे पक्ष की जरूरत नहीं◾कैसा होगा लॉकडाउन 5.0 का स्वरूप? PM आवास पर हुई मोदी और शाह के बीच बैठक◾जम्मू-कश्मीर : विस्फोटक से भरी कार के मालिक की हुई पहचान, हिज्बुल का आतंकी है हिदायतुल्लाह मलिक◾रेलवे ने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में पहले से बीमार लोगों और गर्भवती महिलाओं से यात्रा नहीं करने का किया आग्रह◾लॉकडाउन तोड़ गोपालगंज के लिए निकले RJD नेता तेजस्वी यादव को पुलिस ने रोका◾देश को चीन के साथ सीमा हालात के बारे में अवगत कराए सरकार, चुप्पी से अटकलों को मिल रहा है बल : राहुल◾दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर सील होने के बाद लगा भयंकर जाम, भारी तादाद में बॉर्डर पर जमा हुए लोग◾अमेरिकी राष्ट्रपति के बयान पर भारत ने दी प्रतिक्रिया, कहा- सीमा विवाद को लेकर मोदी और ट्रंप के बीच नहीं हुई बातचीत◾World Corona : दुनिया में महामारी का प्रकोप बरकरार, पॉजिटिव मामलों का आंकड़ा 58 लाख के पार◾देश में कोरोना से संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 66 हजार के करीब, अब तक 4706 लोगों ने गंवाई जान ◾चीन के साथ सीमा विवाद को लेकर ‘अच्छे मूड’ में नहीं हैं PM मोदी : डोनाल्ड ट्रम्प◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

भारत के ये पांच अरबपति हैं सबसे बड़े दानवीर, दान करते हैं कमाई का ढेर सारा हिस्सा

भारत देश में कई तरह के अरबपति हैं। इनमें से कई का बिजनेस पीढ़ियों से चला आ रहा है और आगे भी चलता रहेगा। इसके साथ अमीर और गरीब का अंतर भारत देश में बहुत बढ़ता जा रहा है। अगर देश की गरीबी को मदद मिले तो वह बिल्‍कुल ही खत्म हो सकती है। 

भारत के कई ऐसे अरबपति हैं जो देश के जरूरतमंद लोगों की मदद करने से पीछे नहीं हटते हैं। भारत परोपकार सूची 2018 में ह्यूरन रिसर्च इंस्टीट्यूट में कहा गया है कि 2310 करोड़ रुपए दान में इन लोगों ने दिए हैं। 61 करोड़ रुपए प्रति परोपकारी व्यक्ति की औसत इसमें आती है। भारत देश के कुछ दानवीर अरबपतियों के बारे में आज हम आपको बताएंगे। 

1. मुकेश अंबानी


धीरुभाई अंबानी ने साल 1966 में मुकेश रिलायंस कंपनी की स्‍थापना की थी। मुकेश और छोटे भाई अनिल में 2002 में पिता के देहांत के बाद बंटवारा हो गया था। बंटवारे में पेट्रोकेमिकल, ईंधन और गैस का बिजनेस मुख्य तौर पर मुकेश ने ले लिया था। रिलायंस जियो ने भारत के टेलिकॉम मार्केट की पूरी शक्ल ही बदल कर रख दी है। यह मुकेश अंबानी ने ही दिया है। एशिया का सबसे अमीर आदमी फोब्से ने मुकेश अंबानी को 2018 में बताया था। केरल में जब पिछले साल बाढ़ आई थी तब उस समय 71 करोड़ रुपए रिलायंस फाउंडेशन ने दान में दिए थे। 

2. अजय पीरामल

पीरामल एंटरप्राइजेज की अध्यक्ष अजय पीरामल को आप सब जानते हैं। फार्मा, हेल्‍थकेयर और वित्तीय सेवाओं में पीरामल समूह माहिर है। स्वास्‍थ्य सेवा, शिक्षा, रोजगार और युवा सशक्तिकरण के क्षेत्रों में अजय पीरामल अपनी फाउंडेशन के जरिए योगदान करते हैं। 

3. अजीम प्रेमजी


भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनी विप्रो लिमिटेड के चेयरमैन अजीम प्रेमजी का जन्म मुंबई में ही हुआ है। खाना पकाने वाले तेज का बिजनेस इन्हें विरासत में मिला था। अजीम प्रेमजी के पिता का देहांत साल 1966 में हो गया था उसके बाद उन्होंने ही बिजनेस संभाला। बाद में वह इन्फॉर्मेशन टेक्नॉल्जी और सॉफ्टवेयर के क्षेत्र में बिजनेस को बढ़ाया। प्रेमजी ने अपनी संपत्ति का आधा हिस्सा साल 2013 में दान कर दिया था। 

4. आदि गोदरेज


गोदरेज ग्रुप के चेयरमैन आदि गोदरेज का जन्म मुंबई में हुआ है। गोदरेज के चेयरमैन साल 2000 में आदि गोदरेज को बनाया गया था जो कि तीसरी पीढ़ी हैं। आदि अपने भाई नादिर और कजिन जमशेद गोदरेज के साथ कंपनी को आगे लेकर जा रहे हैं। 

5. युसफ अली


लुलु ग्रुप इंटरनेशनल के प्रबंध निदेशक और अध्यक्ष युसफ अली का जन्म केरल में हुआ है। 63 साल के युसफ अली को पद्श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। गुजरात में जब 2001 में भूकंप आया और जम्मू-कश्मीर में आई बाढ़ में आर्थिक मदद के लिए आगे आए थे।