BREAKING NEWS

PM मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से की भेंट ◾ भाजपा के शीर्ष नेताओं ने दिल्ली इकाई के नेताओं के साथ विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चा की ◾पुतिन ने मोदी को मई में विजय दिवस समारोह के लिए किया आमंत्रित ◾नगा मुद्दा : मणिपुर के कांग्रेस विधायक सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री से मिलने पहुंचे दिल्ली◾महाराष्ट्र : कांग्रेस, राकांपा ने सीएमपी पर बनाई कमेटी, भाजपा भी नाउम्मीद नहीं ◾अमित शाह ने विपक्ष पर ‘‘कोरी राजनीति’’ करने का लगाया आरोप, कहा- किसी दल के पास बहुमत हो तो कर सकता है दावा ◾अयोध्या पर उच्चतम न्यायालय के फैसले को मुख्यमंत्री योगी ने बताया स्वर्णाक्षरों में लिखे जाने वाला ◾पेट में दर्द की शिकायत के बाद मुलायम पीजीआई में भर्ती ◾महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए शिवसेना और कांग्रेस-NCP के बीच बातचीत जारी◾SC के पैनल ने दिल्ली-NCR में 15 नवंबर तक स्कूल बंद रखने का दिया आदेश◾प्रधानमंत्री मोदी को ब्रिक्स सम्मेलन से आर्थिक, सांस्कृतिक संबंध मजबूत होने की उम्मीद ◾TOP 20 NEWS 11 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾बातचीत सही दिशा में आगे बढ़ रही है : ठाकरे ने कांग्रेस नेताओं से मुलाकात के बाद कहा ◾JNU ने वापस लिया शुल्क बढ़ोतरी का फैसला, आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए योजना की प्रस्तावित ◾सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, RTI के दायरे में आएगा CJI का दफ्तर◾संजय राउत को अस्पताल से मिली छुट्टी, कहा- महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री तो शिवसेना का ही होगा◾कुलभूषण जाधव के लिए पाकिस्तान करेगा अपने आर्मी एक्ट में बदलाव ◾शिवसेना का BJP पर तीखा वार, कहा-सरकार गठन को लेकर जारी गतिरोध का आनंद उठा रही है पार्टी◾कर्नाटक के 17 विधायक अयोग्य, लेकिन लड़ सकते हैं चुनाव : SC◾महाराष्ट्र : राज्यपाल के फैसले को SC में चुनौती देने वाली याचिका का उल्लेख नहीं करेगी शिवसेना◾

दिलचस्प खबरें

भारत के ये पांच अरबपति हैं सबसे बड़े दानवीर, दान करते हैं कमाई का ढेर सारा हिस्सा

भारत देश में कई तरह के अरबपति हैं। इनमें से कई का बिजनेस पीढ़ियों से चला आ रहा है और आगे भी चलता रहेगा। इसके साथ अमीर और गरीब का अंतर भारत देश में बहुत बढ़ता जा रहा है। अगर देश की गरीबी को मदद मिले तो वह बिल्‍कुल ही खत्म हो सकती है। 

भारत के कई ऐसे अरबपति हैं जो देश के जरूरतमंद लोगों की मदद करने से पीछे नहीं हटते हैं। भारत परोपकार सूची 2018 में ह्यूरन रिसर्च इंस्टीट्यूट में कहा गया है कि 2310 करोड़ रुपए दान में इन लोगों ने दिए हैं। 61 करोड़ रुपए प्रति परोपकारी व्यक्ति की औसत इसमें आती है। भारत देश के कुछ दानवीर अरबपतियों के बारे में आज हम आपको बताएंगे। 

1. मुकेश अंबानी


धीरुभाई अंबानी ने साल 1966 में मुकेश रिलायंस कंपनी की स्‍थापना की थी। मुकेश और छोटे भाई अनिल में 2002 में पिता के देहांत के बाद बंटवारा हो गया था। बंटवारे में पेट्रोकेमिकल, ईंधन और गैस का बिजनेस मुख्य तौर पर मुकेश ने ले लिया था। रिलायंस जियो ने भारत के टेलिकॉम मार्केट की पूरी शक्ल ही बदल कर रख दी है। यह मुकेश अंबानी ने ही दिया है। एशिया का सबसे अमीर आदमी फोब्से ने मुकेश अंबानी को 2018 में बताया था। केरल में जब पिछले साल बाढ़ आई थी तब उस समय 71 करोड़ रुपए रिलायंस फाउंडेशन ने दान में दिए थे। 

2. अजय पीरामल

पीरामल एंटरप्राइजेज की अध्यक्ष अजय पीरामल को आप सब जानते हैं। फार्मा, हेल्‍थकेयर और वित्तीय सेवाओं में पीरामल समूह माहिर है। स्वास्‍थ्य सेवा, शिक्षा, रोजगार और युवा सशक्तिकरण के क्षेत्रों में अजय पीरामल अपनी फाउंडेशन के जरिए योगदान करते हैं। 

3. अजीम प्रेमजी


भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनी विप्रो लिमिटेड के चेयरमैन अजीम प्रेमजी का जन्म मुंबई में ही हुआ है। खाना पकाने वाले तेज का बिजनेस इन्हें विरासत में मिला था। अजीम प्रेमजी के पिता का देहांत साल 1966 में हो गया था उसके बाद उन्होंने ही बिजनेस संभाला। बाद में वह इन्फॉर्मेशन टेक्नॉल्जी और सॉफ्टवेयर के क्षेत्र में बिजनेस को बढ़ाया। प्रेमजी ने अपनी संपत्ति का आधा हिस्सा साल 2013 में दान कर दिया था। 

4. आदि गोदरेज


गोदरेज ग्रुप के चेयरमैन आदि गोदरेज का जन्म मुंबई में हुआ है। गोदरेज के चेयरमैन साल 2000 में आदि गोदरेज को बनाया गया था जो कि तीसरी पीढ़ी हैं। आदि अपने भाई नादिर और कजिन जमशेद गोदरेज के साथ कंपनी को आगे लेकर जा रहे हैं। 

5. युसफ अली


लुलु ग्रुप इंटरनेशनल के प्रबंध निदेशक और अध्यक्ष युसफ अली का जन्म केरल में हुआ है। 63 साल के युसफ अली को पद्श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। गुजरात में जब 2001 में भूकंप आया और जम्मू-कश्मीर में आई बाढ़ में आर्थिक मदद के लिए आगे आए थे।