BREAKING NEWS

लोकसभा में साध्वी प्रज्ञा के शपथ लेने के दौरान विपक्ष ने किया हंगामा ◾ममता बनर्जी और डॉक्टरों की बैठक को कवर करने के लिए 2 क्षेत्रीय न्यूज चैनलों को मिली अनुमति◾बिहार : बच्चों की मौत मामले में हर्षवर्धन और मंगल पांडेय के खिलाफ मामला दर्ज◾वायनाड से निर्वाचित हुए राहुल गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ◾सलमान को झूठा शपथपत्र पेश करने के केस में राहत, कोर्ट ने राज्य सरकार की अर्जी खारिज की◾भागवत ने ममता पर साधा निशाना, कहा-सत्ता के लिए छटपटाहट के कारण हो रही है हिंसा ◾लोकसभा में स्मृति ईरानी के शपथ लेने पर सोनिया गांधी समेत कई विपक्षी नेताओं ने किया अभिनंदन ◾डॉक्टरों और ममता बनर्जी के बीच प्रस्तावित बैठक को लेकर संशय◾डॉक्टरों की देशभर में प्रदर्शन, महाराष्ट्र में 40,000 डॉक्टर हड़ताल पर ◾डॉक्टरों की सुरक्षा की मांग वाली याचिका पर सुनवाई कल : सुप्रीम कोर्ट ◾17वीं लोकसभा का पहला सत्र प्रारंभ, PM मोदी सहित नवनिर्वाचित सांसदों ने ली शपथ ◾संसदीय लोकतंत्र में सक्रिय विपक्ष महत्वपूर्ण, संख्या को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं : PM मोदी ◾वर्ल्ड कप में भारत की पाकिस्तान पर सबसे बड़ी जीत, लगा बधाईयों का तांता, अमित शाह ने बताया एक और स्ट्राइक ◾IMA की हड़ताल में शामिल होंगे दिल्ली के अस्पताल, AIIMS ने किया किनारा ◾ममता आज सचिवालय में जूनियर डॉक्टरों से करेंगी बैठक◾विश्व कप 2019 Ind vs Pak : भारत ने पाकिस्तान को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 89 रन से रौंदा◾IMA के आह्वान पर सोमवार को दिल्ली के कई अस्पतालों में नहीं होगा काम ◾सभी वर्गों को भरोसे में लेकर करेंगे सबका विकास : PM मोदी◾PM मोदी ने आतंकवाद के खिलाफ कूटनीतिक और रणनीतिक रिवायत को बदला : जितेन्द्र सिंह◾प्रणव मुखर्जी से मिले नीतीश कुमार◾

दिलचस्प खबरें

मध्य प्रदेश के जंगल में लू और पानी की कमी के कारण 15 बंदरों की मौत

हाल ही में मध्य प्रदेश के देवास में पानी की कमी के चलते और लू की वजह से 15 बंदरों की मौत हो गई। बागली उप वन मंडल के पुंजापुरा रेज के तहत जोशी बाबा के जंगल कक्ष क्रमांक 540 में बंदरों की मौत हुई है। जिसके बाद से ही वन विभाग में हडकंप मच गया है। गांव के मानसिंपुरा के एक बकरी चराने वाले 12 साल के बच्चे ने इस पूरे मामले का 6 जून को खुलासा किया है। बताया जा रहा है कि इन बंदरों की मौत भीषण गर्मी की वजह से हुई है। 


बंदरों के एक समूह ने पानी पर किया कब्जा

पीएन मिश्रा जो कि जिला के वन अधिकारी ने उन्होंने बताया कि पास के पानी के स्त्रोत को बंदरों के एक अन्य समूह ने अपने कब्जे में ले लिया जिसने इस समूह को बंदर के पानी नहीं पहुंचने दिया जिसकी वजह से उन 15 बंदरों की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि जंगली जानवरों के लिए पानी की पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है और बाकी के मारे हुए बंदरों के शव को जांच के लिए प्रयोगशला भी भेजा गया है। 

संक्रमण फैलने का खतरा

वन अधिकारियों ने कई सारे बंदरों के शव को जलाने देने की बात बोली है। अधिकारियों का कहना है कि कई सारे बंदरों की मौत इंफेक्शन होने का डर होने की वजह से जल्दी उनके  शवों को जला दिया गया है। जिला पीएन मिश्रा ने ये भी कहा कि शव सड़ रहे थे। इसलिए सावधानी के तहत कुछ शव हमने जलाए हैं। 


जोशी बाबा फॉरेस्ट रेंज के स्थनीय लोगों का कहना है कि धूप और भीषण गर्मी की वजह से 100 से ज्यादा बंदरों की मौत हो गई है। वन विभाग तो 15 बंदरों की मौत की बात बोलकर सच को साफ -साफ छुपा रहा है। वहीं पास के गांव के लोगों का कहना यह भी है कि जंगल में बड़ी संख्या में बंदरों के शव पड़े हुए थे।


 जब यहां के लोगों ने सवाल किया तो इन्हें जला दिया गया और कुछ को दबा दिया गया। गांव के लोगों ने ये भी कहा कि जंगल में न तो कुछ खाने के लिए और न ही पीने के पानी और तापमान भी 45 डिग्री है। ऐसे में आखिर जानवर कैसे जिंदा रह सकते हैं।