BREAKING NEWS

योगी को गोरखपुर से टिकट देना दर्शाता है कि BJP कमजोर हुई : नवाब मलिक◾UP चुनाव: SP-RLD के समर्थन में बयान देकर फंसे नरेश टिकैत, यूटर्न लेते हुए कहा- हम ज्यादा बोल पड़े... ◾अखिलेश से लोगों को उम्मीदें, जिंदा लोग BJP को नहीं देंगे वोट : संजय राउत ◾भाजपा ने किया दावा- यूपी में 10 फरवरी से ही शुरू हो जाएगा जीत का सफर, अंतिम चरण तक रहेगा कायम◾UP चुनाव : पीएम मोदी कल अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भाजपा के कार्यकर्ताओं से वर्चुअली करेंगे बातचीत ◾गोवा में कांग्रेस और BJP के बीच मुकाबला, AAP-TMC कर रही गैर-भाजपा मतों को 'विभाजित' करने का काम ◾रावत के निष्कासन पर बोले CM धामी-वंशवाद से दूर और विकास के साथ चलने वाली पार्टी है BJP◾कांग्रेस में शामिल हुए बिना भी कांग्रेस के लिए करूंगा काम : हरक सिंह रावत◾Corona Cases in India : पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 2 लाख 58 हजार से अधिक केस दर्ज◾पंजाब में चुनाव टालने की मांग पर आज विचार करेगा निर्वाचन आयोग◾UP विधानसभा चुनाव : निषाद पार्टी ने UP की 15 सीटों पर ठोंका दावा, BJP ने अभी नहीं की पुष्टि ◾PM मोदी आज करेंगे दावोस शिखर सम्मेलन को संबोधित, कोविड समेत कई वैश्विक मुद्दों पर कर सकते हैं बात◾राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में शीतलहर का कहर जारी, जानें कब तक रहेगा ऐसा मौसम◾Covid-19 : विश्वभर में संक्रमण के आंकड़े 32.57 करोड़ से अधिक, अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश◾किसी व्यक्ति की सहमति के बिना जबरन टीकाकरण नहीं कराया जा सकता : SC को केंद्र ने बताया ◾दिग्गज कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का हुआ इंतकाल, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांस◾SP-RLD को नहीं दिया समर्थन, लोगों को समझने में हुई गलती: राकेश टिकैत◾हरक सिंह रावत को उत्तराखंड मंत्रिमंडल और पार्टी से किया बर्खास्त, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने पुरी शंकराचार्य से की मुलाकात ◾ नेपाल सरकार का दावा- लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी उसके अभिन्न अंग, निर्माण रोके भारत◾

निजी स्कूलों के बंद होने पर कार्रवाई

नैनीताल : हाईकोर्ट ने निजी स्कूलों में एनसीआरटीई की किताबों को लागू करने के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवार्इ की। इस दौरान कोर्ट ने पब्लिक स्कूलों की हड़ताल पर तल्ख टिप्पणी करते हुए चेतावनी दी है कि अगर कल से कोई भी पब्लिक स्कूल बंद मिला तो उनके खिलाफ कानूनी करवाई की जाएगी। साथ ही उनकी याचिका को भी खारिज कर दिया जाएगा। कोर्ट ने किताबों की उपलब्धता को लेकर मुख्य सचिव से व्यक्तिगत हलफनामा दाखिल करने के निर्देश दिए हैं।

मामले में अगली सुनवाई 11 अप्रैल नियत की है उत्तराखंड सरकार ने आईसीएसई बोर्ड को छोड़कर निजी स्कूलों में पहली से 12 वीं तक के विद्यालयों में सिर्फ एनसीईआरटी की किताबों को लागू करने का फैसला लिया है। जिसके खिलाफ निजी स्कूलों ने याचिका दायर की। इसपर सुनवार्इ करते हुए कोर्ट ने किताबों को अनिवार्य करने के साथ ही पब्लिक स्कूलों की हड़ताल पर तल्ख टिप्पणी की है। न्यायमूर्ति सुधांशु धूलिया की एकलपीठ में इसको लेकर अलग-अलग सात याचिकाओं पर सुनवाई हुई।

नॉलेज वर्ल्ड माजरा देहरादून ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि सरकार ने 23 अगस्त 2017 को एक शासनादेश जारी कर सरकार ने निजी स्कूलों में एनसीआरटीई की ही किताबें चलाने का शासनादेश जारी किया था और निजी प्रकाशक की किताबों के चलने पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया। उन्होंने याचिका में कहा कि इसका मुख्य कारण यह भी था कि निजी विद्यालयों में निजी प्रकाशक की ही किताबें महंगे दामों पर बेची जाती है और अभिभावकों पर अतरिक्त भार पड़ता है। उन्होंने कहा कि अगर शिक्षा का व्यावसायीकरण रोकना ही है तो किसी स्कूल या दुकान में निजी प्रकाशक की किताबे बेचीं या लागू की जाती है तो उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाए।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहाँ क्लिक  करें।