BREAKING NEWS

देश भर में कोरोना का प्रकोप जारी, मरने वालों का आंकड़ा 190 के पार, 6500 लोग इससे संक्रमित◾कोरोना की चपेट में आया सऊदी का शाही परिवार, किंग सलमान आइसोलेशन में◾Coronavirus : महाराष्ट्र में 24 घंटे के भीतर 25 मौतें, राज्‍य में 1,364 लोग संक्रमित ◾कोविड-19 : राजधानी दिल्ली में कोरोना के 51 नए मामले, राज्य में संक्रमितों की संख्या 720 तक पहुंची◾डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई : CM केजरीवाल◾शिया वक्फ बोर्ड ने तबलीगी जमात पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- 1 लाख से ज्यादा लोग मारने की बनाई थी योजना◾कोरोना वायरस : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में आवश्यक उपकरणों का स्टॉक मौजूद, PPE और वेंटिलेटर की खरीद शुरु◾देश में कोरोना फैलने के लिए अनिल देशमुख ने दिल्ली पुलिस को ठहराया जिम्मेदार◾कोरोना संकट से जारी जंग में मदद के तौर पर केंद्र सरकार ने राज्यों के लिए आपात पैकेज की दी मंजूरी◾महाराष्ट्र कैबिनेट ने उद्धव ठाकरे को MLC बनाने का लिया निर्णय, राज्यपाल को भेजेंगे प्रस्ताव ◾कोरोना संकट : ओडिशा सरकार ने 30 अप्रैल तक बढ़ाई लॉकडाउन की अवधि, केंद्र से किया ये अनुरोध◾गुजरात में कोरोना के 55 नए मरीज, अकेले अहमदाबाद के 50 लोग हुए संक्रमित◾PM मोदी ने किया ट्रम्प का समर्थन, कहा- मुश्किल वक्त ही दोस्तों को लाती है करीब◾जमात प्रमुख मौलाना साद के ठिकाने का हुआ खुलासा, पुलिस फिलहाल नहीं करेगी पूछताछ ◾झारखंड में कोरोना वायरस से 1 की मौत, मरीजों की संख्या एक दिन में तिगुनी हुई ◾Coronavirus : अमेरिका में मरने वालों की संख्या 14000 के पार, 11 भारतीयों के मौत की पुष्टि◾चीन में कोविड-19 के 63 नए मामलें सामने आए, अबतक करीब 3,335 लोगों की हुई मौत ◾पूरे विश्व कोरोना वायरस का कहर जारी, अब तक वायरस से संक्रमितों की संख्या 15 लाख से अधिक हुई ◾कोविड-19 : देश में 5,734 संक्रमित मामलों की पुष्टि वहीं 166 लोगों की अब तक मौत◾Covid-19 : दवा मिलने पर भारत के फैसले से डोनाल्ड ट्रम्प के सुर बदले नजर आए, कहा- थैंक्यू PM मोदी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaLast Update :

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

ये दिव्यांग बेटी ऑटो रिक्शा चलाकर कैंसर पीड़ित पिता करवा रही है इलाज

वैसे इस बात में कोई दोराए नहीं है कि लड़कियां,लड़कों से किसी भी काम में पीछे नहीं होती। अगर आप फिर भी लड़कियों को कम आंकते हैं तो पहले जान लीजिए अहमदाबाद की 35 वर्षीय अंकिता शाह की बहादुरी की कहानी। एक अंकिता नाम की लड़की जो दिव्यांग है। बचपन में उन्हें पोलियो की वजह से दायां पैर काटना पड़ा था। बावजूद इसके अंकिता पिछले 6 महीनों से अपने कैंसर पीडि़त पिता के इलाज के लिए ऑटो रिक्शा चला रही है। जी हां अंकिता अहमदाबाद की पहली दिव्यांग ऑटो रिक्शावाली हैं।

अंकिता इकोनॉमिक्स से ग्रेजुएट है और वह अपने पांच भाई-बहनों में सबसे बड़ी है। वो साल 2012 में अहमादाबाद आई और यहां आकर एक कॉल सेंटर में नौकरी करने लगीं। लेकिन अपने पापा के इलाज के लिए अंकिता ने इस नौकरी को छोड़ दिया और ऑटो रिक्शा चलाने का मन बनाया। 

ऑटो रिक्शा चलाना क्यों चुना

अंकिता ने बताया कि 12 घंटे की शिफ्ट करने के बाद भी मुझे सिर्फ मुश्किल से 12,000 रुपए मिलते थे। जब मुझे ये मालूम हुआ कि मेरे पापा को कैंसर है तो उनके इलाज के लिए मुझे बार-बार अहमदाबाद से सूरज जाना पड़ता और ऑफिस से छुट्टियां मिलने में पेरशानी होती थी। मेरी सैलरी भी कुछ खास नहीं थी। इसलिए बाद में मैंने नौकरी छोडऩे का मन बना लिया था। 

अंकिता ने आगे बताया कि वो समय बहुत आसान नहीं था। क्योंकि घर का गुजारा करना भी बेहद मुश्किल सा हो रहा था। मुझे पिताजी के इलाज में मदद ना कर पाने के लिए बहुत बुरा लग रहा था। इसलिए मैंने अपने बलबूते पर कुछ करने की सोची और कई सारी कंपनियों में इंटव्यू भी दिए। लेकिन हर कंपनी वालों के लिए मेरा दिव्यांग होना कहीं न कहीं परेशानी का सबब भी था। ऐसे में मैंने ऑटो चलाना शुरू कर दिया। 

आगे वो बताती हैं कि मैंने ऑटोरिक्शा चलाना अपने दोस्त लालजी बारोट से सीखा है वो भी दिव्यांग है और ऑटोरिक्शा चलाता है। मेरे दोस्त ने मुझे न केवल ऑटो चलाना सिखाया बल्कि उसने मुझे अपना कस्टमाइज्ड ऑटो लेने में मेरी सहायता भी की जिसमें एक हैंड-ऑपरेटेड ब्रेक है। 

बता दें कि आज अंकिता 8 घंटे ऑटो चलाकर 20 हजार रुपए महीने तक कमा लेती है। अब वो आने वाले समय में खुद का टैक्सी बिजनेस शुरू करने वाली हैं।