पूर्व भारतीय प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के 16 अगस्त को अपना आखिरी साँस लेने के बाद पूरा देश दुःखग्रस्त हो गया है, लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो अभी भी विवाद पैदा करने में व्यस्त हैं।16 अगस्त दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी की जन्म तिथि भी है और इसी दिन के दौरान, अटल जी ने दुनिया छोड़ने से पहले केजरीवाल जी ने घोषणा की कि अटल जी जैसे महान व्यक्ति के निधन की वजह से वह अपने जन्मदिन पर ज्यादा जश्न मनाने नहीं चाहते।

अरविंद केजरीवाल की केक के साथ तस्वीर वायरल

अरविंद केजरीवाल जी की केक के साथ तस्वीर वायरल

केजरीवाल जी

लेकिन अटल जी के अंतिम संस्कार के कुछ समय बाद ही अरविंद केजरीवाल जी के एक बड़ा केक काटने की एक तस्वीर इंटरनेट पर वायरल हो रही है, इस केक के ऊपर 50 नंबर की मोमबत्ती भी दिखाई दे रही है और साफ़ है की ये केक केजरीवाल के 50वें जन्मदिन का है।

केजरीवाल जी

इस केक के साथ ही केजरीवाल जी भी दिखाई दे रहे है जो केक काटते हुए नजर आ रहे है। इस तस्वीर के सोशल मीडिया पर वायरल होते ही अरविंद केजरीवाल के लिए ऑनलाइन लानत और मज्जमत का दौर शुरू हो गया है। अटल जी के समर्थक ही नहीं बल्कि आम जन को भी ये तस्वीर बिलकुल पसंद नहीं आ रही है।

देखिये कुछ ट्वीट

आम आदमी पार्टी ने दी सफाई

आम आदमी पार्टी के सोशल मीडिया रणनीतिकार अंकित लाल ने कहा कि इस तस्वीर को सुबह में क्लिक किया गया था जब अटल जी जीवित थे हालांकि, यह अनुमान लगाया जा रहा है इस तस्वीर को इवनिंग में लिया गया था।

यदि आप एक ही समय में क्लिक की गई कुछ तस्वीरों को देखते हैं, तो तस्वीरों में से एक में आप देख सकते हैं कि दीवार घड़ी और कलाई घड़ी स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है, जो कि 11 बजे के समय को दिखाती है।

आम आदमी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल द्वारा दोपहर के 12:09 बजे एक वीडियो भी साझा किया गया था जिसमें अरविंद केजरीवाल जी ने ये घोषणा कि वह अपना जन्मदिन मनाएंगे क्योंकि अटल जी की सेहत ठीक नहीं थी।

सच्चाई आखिर क्या है

केजरीवाल जी

घटनाओं के अनुक्रम को ध्यान में रखते हुए, हम कह सकते हैं कि केजरीवाल जी ने लगभग 11 बजे केक काट दिया और एक घंटे बाद, उन्होंने आगे का जश्न न मनाने की घोषणा की और फिर1 और 2 बजे के बीच एम्स गए और अटल जी से मुलाकात की । अब सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर पर लोगों की प्रतिक्रियाएं जारी है लेकिन इस तस्वीर के पीछे की सच्चाई जानना जरुरी है।

अटल बिहारी वाजपेयी जी अपने पीछे छोड़ गए इतनी संपत्ति, जानें कौन होगा इसका अधिकारी