BREAKING NEWS

BJP सरकार का रवैया नकारात्मक, अमेठी-मैनपुरी में सैनिक स्कूल की स्थापना समाजवादी सरकार में हुई : अखिलेश◾MP : मुख्यमंत्री कमलनाथ उज्जैन मंदिर को दे सकते हैं 300 करोड़ की सौगात ◾TOP 20 NEWS 17 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ AIIMS अस्पताल में लगी भीषण आग, अभी तक कोई हताहत नहीं◾जेटली जीवन रक्षक प्रणाली पर : नीतीश, पीयूष गोयल समेत अन्य नेता हाल जानने एम्स पहुंचे ◾PM मोदी : भूटान का पड़ोसी होना सौभाग्य कि बात, भूटान कि पंचवर्षीय योजनाओं में करेंगे सहयोग◾पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद◾प्रियंका गांधी बोलीं- देश में 'भयंकर मंदी' लेकिन सरकार के लोग खामोश◾ मायावती का ट्वीट- देश में आर्थिक मंदी का खतरा, इसे गंभीरता से लें केंद्र◾AAP के पूर्व विधायक कपिल मिश्रा भाजपा में शामिल◾चिदंबरम बोले- मीर को नजरबंद करना गैरकानूनी, नागरिकों की स्वतंत्रता सुनिश्चित करें अदालतें◾राजनाथ के आवास पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक शुरू, शाह समेत कई मंत्री मौजूद◾भूटान पहुंचे मोदी का PM लोटे ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत, दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर◾शरद पवार बोले- पता नहीं राणे का कांग्रेस में शामिल होने का फैसला गलत था या बड़ी भूल◾उत्तर कोरिया ने किया नए हथियार का परीक्षण, किम ने जताया संतोष◾12 दिन बाद आज से घाटी में फोन और जम्मू समेत कई इलाकों में 2G इंटरनेट सेवा बहाल◾राम माधव बोले- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को मिलेगा देश के कानूनों के अनुसार लाभ◾वित्त मंत्रालय के अधिकारियों संग PMO की बैठक आज, इन मुद्दों पर होगी चर्चा◾कोविंद, शाह और योगी जेटली को देखने AIIMS पहुंचे, जेटली की हालत नाजुक : सूत्र ◾आर्टिकल 370 : UNSC में Pak को बड़ा झटका, कश्मीर मामले पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में पाकिस्तान को सिर्फ चीन का मिला समर्थन◾

दिलचस्प खबरें

इस शख्स की सालाना इनकम है 260 करोड़, नौकरी छोड़कर देता छात्रों को कोचिंग

आज के समय में हर उम्र के लिए ऑनलाइन पढ़ाई शुरु हो गई। जिसके चलते ऑनलाइन टीचिंग की भी डिमांड बहुत हो गई है। बायजूज रविंद्रन के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। बायजूज रविंद्रन की सालाना कमाई 260 करोड़ रुपए की है। 

रविंद्रन बायजूज कौन है-

बायजू रविंद्रन कन्‍नूर के छोटे से गांव अझीकोड के रहने वाले हैं। वहीं पर उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी की है। बायजूज रविंद्रन ने करीब नौ साल पहले अपने दोस्तों के कहने पर ऑनलाइन कोचिंग का बिजनेस शुरु किया था। आज के समय में इसमें हर कक्षा की हर सब्जेक्ट का कंटेट इस पर मिलता है। 

यह देश की सबसे बड़ी एडटेक कंपनी बन चुकी है। बच्चों के लिए ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां पर उन्हें हर सब्जेक्ट का एजुकेशन कंटेट इस पर उपलब्‍ध होता है। आईआईएम में कैट में एडमिशन के लिए पहले रविंद्रन बायजूज बच्चों को ट्रेनिंग दिया करते थे लेकिन अब वह कई सालों से मैथ्स और साइंस की बच्चों को पढ़ाई कराने में लगे हुए हैं।



बच्चों को वह उनके पाठ्यक्रम के साथ-साथ बायजू लर्निंग एप के जरिए वह बच्चों को पढ़ाई की पूरी सामग्री देते हैं। गांव में ही रविंद्रन ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा ग्रहण की उसके बाद मकैनिकल की डिग्री उन्होंने हासिल की। गांव का नाम उन्होंने अपनी काबिलियत से ऊंचा किया है।



रविंद्रन ने नौकरी करने के बाद एमबीए प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए अपने दोस्तों की मदद करनी भी शुरु की थी। लोगों को जब इनकी पढ़ाई समझ आ गई उसके बाद से ही उन्होंने कोचिंग शुरु की थी। नौकरी से ऊबने के बाद उन्होंने बच्चों को पढ़ाना शुरु किया। यहीं से बिजनेस मैन बनने का सफर रविंद्र का शुरु हुआ। 



उनके जरिए शुरु हुई छोटी से कोचिंग आज देश की सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। रविंद्र अपने इस एप से पहले वह भारत के ही बच्चों को शिक्षित कर रहे थे लेकिन अब वह विदेशों में भी बच्चों को कोचिंग दे रहे हैं।