BREAKING NEWS

देर आया दुरुस्त आया! RPN बोले- कांग्रेस में नहीं रही 32 साल पहले वाली बात, BJP की नीतियों से हूं प्रभावित ◾यूपी : JDU ने जारी की 20 उम्मीदवारों की सूची, BJP से गठबंधन का जवाब न आने पर अकेले लड़ रही चुनाव ◾CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾Himachal: शादी में बर्फबारी बनी रोड़ा, तो शादी करने JCB लेकर पहुंचा दूल्हा◾RPN ने चुनावी मजधार में छोड़ा कांग्रेस का साथ, सोनिया को भेजा इस्तीफा, बोले- नए अध्याय की शुरुआत ◾यूपी चुनाव : BSP प्रमुख फरवरी से करेंगी चुनाव प्रचार का आगाज, इस जिले में होगी पहली जनसभा ◾कर्नाटक: मंत्रिमंडल विस्तार पर मचा बवाल, BJP नेता अपना रहे बागी रुख, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾यूपी: CM योगी ने अखिलेश पर किया जुबानी हमला, कहा- सपा के नेता समाजवादी नहीं बल्कि तमंचावादी हैं ◾दिल्ली: कोरोना के दैनिक मामलों में दर्ज हुई गिरावट, CM केजरीवाल बोले- जल्द मिलेगी प्रतिबंधों से राहत ◾दिल्ली में शराब प्रेमियों के लिए अच्छी खबर, सालभर में 21 की जगह अब सिर्फ 3 Dry Day◾यूपी: AIMIM ने उमैर मदनी को मैदान में उतारा, चुनावी घमासान में तेज हुई मुस्लिम वोटों के लिए खींचतान◾फिर आमने-सामने शिवसेना और BJP, राउत बोले-हिंदुत्व के मुद्दे पर सबसे पहले हमने लड़ा था चुनाव◾कांग्रेस को लगेगा बहुत बड़ा झटका! स्टार प्रचारक RPN हो सकते हैं BJP में शामिल, स्वामी मौर्य की बढ़ेंगी मुश्किलें ◾राष्ट्रपति और PM मोदी समेत इन नेताओं ने दी हिमाचल के स्थापना दिवस पर राज्यवासियों को बधाई◾BJP सांसद गौतम गंभीर हुए कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए लोगों से की टेस्ट कराने की अपील ◾मायावती का विरोधियों पर निशाना, कहा- बसपा को छोड़ बाकी सभी सरकारों ने किया राजनीति का अपराधीकरण ◾

ये छोटी बच्‍ची रहती थी जेल में कैदी पिता के साथ,कलेक्‍टर साहब ने दी नयी जिंदगी

हाल ही में एक 6 साल की छोटी सी बच्ची की जिंदगी में नया सवेरा आया है। यह पूरी घटना छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की है। यह नन्ही सी जान जब कुछ ही महीने की थी तब इसको जेल में लाया गया था। क्योंकि इसके पिता ने अपराध किया था जिस वजह से उसे जेल जाना पड़ा। इस बच्ची को भी तभी से जेल में ही रहना पड़ा और जेल में ही 6 साल तक इसका पालन-पोषण हुआ। लेकिन बच्ची की जिंदगी में फरिश्ता बनाकर आए एक आईएएस अधिकारी ने उसकी जिंदगी में चांर चांद लगा दिए जिसे बच्ची की जिंदगी बदल गई। 

जब बच्ची पैदा हुई तो मां का हो गया था देहांत

इस छोटी सी बच्ची की मां का देहांत उसके जन्म होने के साथ ही हो गया था। इस बच्ची की कोई और देखरेख करने वाला नहीं था। लिहाजा ये बच्ची भी अपने पिता के साथ ही जेल की सलाखों के पीछे आ गई। जेल प्रशासन ने महिला कैदियों को बच्ची की देखभाल के लिए कहा। 

बच्ची ने कहा स्कूल जाना चाहती हूं...

जैसे-जैसे टाइम निकला बच्ची बड़ी होने लगी और जेल में ही उसने अपने पैरों पर चलना शुरू कर दिया उसके बाद वह प्ले स्कूल में पढऩे लगी। बाकी आम बच्चों की तरह इस बच्ची को भी टीवी देखने और खेलने का शौक है। लेकिन इन सारी चीजों से ज्यादा इस बच्ची में पढ़ाई करने की ललक है। कुछ दिन पुरानी बात है कि बिलासपुर के कलेक्टर डॉ.संजय अलंग जेल का निरिक्षण करने के लिए पहुंचे। इस दौरान उनकी मुलाकात बच्ची से हुई। जब कलेक्टर साहब ने बच्ची से पूछा कि वह क्या करना चाहती है तो उसने कहा  कि वह जेल से बाहर जाकर पढऩा चाहती है। स्कूल जाना चाहती है।

मासूम सी बच्ची की यह इच्छा आईएएस अधिकारी डॉ अलंग के दिल को छू गई। उन्होंने जेल के अधिकारियों से बात करके बच्ची का शहर के एक अच्छे स्कूल में एडमिशन करवा दिया। कलेक्टर साहब की इस पहल की हर जगह चर्चा हो रही है। कलेक्टर साहब के इस नेक कदम में शहर के लायंस क्लब ने भी उनका साथ दिया। बच्ची अब ना केवल स्कूल में पढऩे लगी है बल्कि स्कूल के हॉस्टल में भी उसके रहने की व्यवस्था करवा दी गई है। 

अपने इस अच्छे काम के लिए कलेक्टर साहब का कहना है कि सकारात्मक बदलाव आम नागरिकों के साथ ही संभव हो सकता है। बाकी सारे लोग अगर इन बच्चों के  बैकग्राउंड को न देखते हुए बल्कि इन जैसे मासूमो की जिंदगी संवारने के लिए आगे आए तो इन बच्चों की जिंदगी में नया सवेरा आ सकेगा।