छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्य के पूर्व वित्त मंत्री डॉ. रामचंद्र सिंहदेव के निधन पर शोक जताया। उन्होंने शुक्रवार सुबह शोक संदेश में कहा कि डॉ. सिंहदेव अपने सुदीर्घ सार्वजनिक जीवन में सक्रिय सभी लोगों के लिए सादगी और शुचिता के प्रतीक और प्रेरणास्रोत थे।

उन्होंने एक सजग और कर्मठ जनप्रतिनिधि के रूप में 50 वर्षों से भी अधिक समय तक जनता को अपनी मूल्यवान सेवाएं दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि तत्कालीन अविभाजित मध्यप्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों के मंत्री और वर्ष 2000 में गठित छत्तीसगढ़ प्रदेश के प्रथम वित्त मंत्री के रूप में आम जनता की बेहतरी के लिए डॉ. सिंहदेव के योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा।

स्वर्गीय डॉ. सिंहदेव एक विद्वान अर्थशास्त्री और चिंतक थे। पर्यावरण और जल संसाधन जैसे विषयों पर भी उनकी गहरी पकड़ और विशेषज्ञता थी। डॉ. रमन सिंह ने स्वर्गीय डॉ. सिंहदेव के साथ अपने वर्षों पुराने आत्मीय संबंधों को याद करते हुए कहा कि मुझे भी हमेशा उनका आशीर्वाद और मार्गदर्शन मिलता रहा।

छत्तीसगढ़ राज्य के विकास से जुड़े विभिन्न विषयों को लेकर समय-समय पर उनसे मेरी बातचीत होती रहती थी। उनके निधन से हम सबने एक वरिष्ठ राजनेता, कुशल प्रशासक और लोकहितैषी चिंतक को हमेशा के लिए खो दिया है। मुख्यमंत्री ने उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की।