आज हम आपको बताने वालें है भारत के उन शहरों के बारे में कई अन्य चीजों के लिए तो मशहूर है की साथ ही क्राइम के मामले में भी ये टॉप लिस्ट में आते है। मामले चाहे लूट के हो या चोरी या फिर और भी गलत काम इन शहरों ने अपना नाम खूब डुबोया है। आइये नज़र डालते है इस क्राइम लिस्ट पर।

क्राइम

1 गाडी चोरी के मामले :

क्राइम

मेरठ- मुज्जफरनगर ये दो शहर भारत में जितना अपने इतिहास के लिए मशहूर है उतना ही गाडी चोरी होने के क्राइम मामलों के लिए भी मशहूर है। उत्तर भारत के बड़े शहरों से चोरी होने वाली गाड़ियों सबसे ज्यादा इन्ही दो शहरों में बेचीं जाती है और फिर उन्हें काट पीटकर कर गायब कर दिया जाता है।

2. हत्या :

क्राइम

वैसे तो हत्या के मामले पूरे भारत में कहीं न कहीं दर्ज होते ही रहते है पर उत्तरप्रदेश के इटावा और बुलंदशहर  इस क्राइम मामले में कुख्यात हैं। उत्तर प्रदेश में पुलिस की सख्ती होने के बाद भी वारदातों में कमी तो नहीं आ रही है पर जल्द इसपर अंकुश लगाने का भरोसा दिया जा रहा है।

3.लूट पाट, डकैती :

क्राइम

मध्य प्रदेश और राजस्थान के बीच बसा चंबल का इलाका आज भी लूट पाट और डकैती जैसे क्राइम के लिए बदनाम है। वहां की कई सड़कों पर आज भी रात में लोग अकेले गाड़ी चलाने से घबराते हैं। पहले से अब काफी कम यहाँ पर वारदातें होती है पर लोगों का डर ज्यों का त्यों ही है।

4.बलात्कार :

क्राइम

देश की राजधानी दिल्ली क्राइम के इस मामलें सबसे आगे है। महिलाओं की सुरक्षा के नाम पर सरकार और पुलिस के तमाम दावे यहाँ पर फ़ैल होते ही नज़र आते है। दिल्ली की छवि ऐसी बन चुकी हैं कि भारत घूमने आने वाली विदेशी महिलाएं भी दिल्ली के नाम से थरथराती हैं।

5.प्रॉपर्टी विवाद:

क्राइम

दिल्ली से सटे गुरुग्राम (गुड़गांव) और ग्रेटर नोएडा प्रॉपर्टी क्राइम के विवादों के लिए कुख्यात हैं। वहां रियल स्टेट का काम करने वाले गुटों में संघर्ष भी लगा रहता है। दिल्ली के नज़दीक होने के कारण यहाँ पर पिछले एक दशक में जमीनों के दाम आसमान पर पहुँच गए है और भू माफियाओं के बीच संघर्ष यहाँ आम सी बात हो गयी है।

ह‌रियाणा : गुरुकुल में 5 छात्रों से यौन शोषण पर खलबली, सी‌नियरों पर आरोप