BREAKING NEWS

SP-RLD को समर्थन के बाद नरेश टिकैत ने लिया यूटर्न, अब बालियान से की मुलाकात, अटकलों का बाजार गर्म ◾योगी को गोरखपुर से टिकट देना दर्शाता है कि BJP कमजोर हुई : नवाब मलिक◾अखिलेश से लोगों को उम्मीदें, जिंदा लोग BJP को नहीं देंगे वोट : संजय राउत ◾भाजपा ने किया दावा- यूपी में 10 फरवरी से ही शुरू हो जाएगा जीत का सफर, अंतिम चरण तक रहेगा कायम◾UP चुनाव : पीएम मोदी कल अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भाजपा के कार्यकर्ताओं से वर्चुअली करेंगे बातचीत ◾गोवा में कांग्रेस और BJP के बीच मुकाबला, AAP-TMC कर रही गैर-भाजपा मतों को 'विभाजित' करने का काम ◾रावत के निष्कासन पर बोले CM धामी-वंशवाद से दूर और विकास के साथ चलने वाली पार्टी है BJP◾कांग्रेस में शामिल हुए बिना भी कांग्रेस के लिए करूंगा काम : हरक सिंह रावत◾Corona Cases in India : पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 2 लाख 58 हजार से अधिक केस दर्ज◾पंजाब में चुनाव टालने की मांग पर आज विचार करेगा निर्वाचन आयोग◾UP विधानसभा चुनाव : निषाद पार्टी ने UP की 15 सीटों पर ठोंका दावा, BJP ने अभी नहीं की पुष्टि ◾PM मोदी आज करेंगे दावोस शिखर सम्मेलन को संबोधित, कोविड समेत कई वैश्विक मुद्दों पर कर सकते हैं बात◾राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में शीतलहर का कहर जारी, जानें कब तक रहेगा ऐसा मौसम◾Covid-19 : विश्वभर में संक्रमण के आंकड़े 32.57 करोड़ से अधिक, अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश◾किसी व्यक्ति की सहमति के बिना जबरन टीकाकरण नहीं कराया जा सकता : SC को केंद्र ने बताया ◾दिग्गज कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का हुआ इंतकाल, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांस◾SP-RLD को नहीं दिया समर्थन, लोगों को समझने में हुई गलती: राकेश टिकैत◾हरक सिंह रावत को उत्तराखंड मंत्रिमंडल और पार्टी से किया बर्खास्त, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने पुरी शंकराचार्य से की मुलाकात ◾ नेपाल सरकार का दावा- लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी उसके अभिन्न अंग, निर्माण रोके भारत◾

शिक्षा विभाग की स्कूलों में छापेमारी

रुद्रपुर : स्कूलों में एनसीईआरटी की किताबें लागू कराने के लिए शिक्षा विभाग एक्शन में हैं। इसके तहत जिला शिक्षा अधिकारी के नेतृत्व में निकली टीम ने शहर के कई स्कूलों में छापेमारी की और छापेमारी के दौरान सभी स्कूलों में टीम को खामियां मिली। टीम ने स्पष्ट रूप से कहा है कि अगर एनसीईआरटी की किताबें लागू नहीं की गई तो अवमानना करने वाले स्कूलों की मान्यता रद्द कर दी जाएगी। बता दें कि बीते दिनों भी टीम ने ऐसी ही छापेमारी मुख्य शिक्षा अधिकारी डा.पीएन सिंह के नेतृत्व में की थी। जबकि छापेमारी की शुरुआत जेसीस पब्लिक स्कूल से की गई। जिसका नेतृत्व जिला शिक्षा अधिकारी रवि मेहता कर रहे थे। जेसीस में एनसीईआरटी की किताबों को पूरी तरह लागू नहीं किया गया था।

स्कूल प्रबंधन ने टीम को बताया कि उन्होंने एनसीईआरटी की केवल तीन किताबें ही स्कूल में लागू की हैं, जबकि अन्य किताबें स्कूल अपनी मर्जी की पढ़ा रहे हैं। खैर, टीम ने स्कूल प्रबंधन को सख्त हिदायत दी है कि वह एनसीआरटी की किताबें ही लागू करें। यहां से निकली टीम ने रैनबो स्कूल में छापेमारी की। यह भी स्थिति जस की तस थी। स्कूल पहुंचे कुुछ अभिभावक भी इसी बात से परेशान थे कि वह एनसीईआरटी की किताबें खरीदें या कोई और। टीम ने शहर के अन्य स्कूलों में भी छापेमारी कर एनसीईआरटी की पुस्तकें लागू करने को कहा है।

छापेमारी के दौरान जिला शिक्षा अधिकारी रवि मेहता स्कूलों को स्पष्ट निर्देश जारी किए हैं कि वह अभिभावकों पर इस बात का दबाव नहीं बनाएंगे कि अभिभावक को किसी एक चिह्नित दुकान से ही किताब लेनी है। बल्कि अभिभावक इस बात के लिए स्वतंत्र होगा कि वह कहीं से किताबें खरीद सकता है। दरअसल, स्कूल प्रबंधन यह दबाव सिर्फ इसलिए बनाते हैं क्योंकि इसके पीछे कमीशन का तगड़ा खेल चलता है। अब शिक्षा विभाग की सख्ती के बाद कमीशन का यह खेल रुकता दिखाई दे रहा है। जिसकी वजह से स्कूल प्रबंधकों में खलबली मची हुई है।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।