आपने अनेक प्राचीन मंदिर देखे होंगे जो अपनी ख़ूबसूरती , अदभुत कलाकृतियों और शिल्पकारिता के लिए मशहूर है। वाकई दुनिया में ऐसे शानदार मंदिर है जो हमें एक अलग अहसास दिलाते है। आज हम आपको ऐसे ही एक मंदिर के बारे में बताने वाले है जो पिछले 1500 सालों से हवा में खड़ा है। इस मंदिर को हैंगिंग टेम्पल के नाम से जाना जाता है।

हैंगिंग टेम्पल

अनोखा हैंगिंग टेम्पल

सुनने में आश्चर्य हुआ होगा पर इस मंदिर की कई ऐसी खासियतें है जो आपको और भी हैरान कर देंगी। विश्व में हैंगिंग टेम्पल के नाम से मशहूर इस मंदिर का आधे से ज्यादा हिस्सा हवा में लटका हुआ है। इस ऐतिहासिक मंदिर को विश्व भर के पर्यटक देखने आते हैं, इस वजह से साल भर यहां पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है।

हैंगिंग टेम्पल

चीन में बौद्ध, ताओ और कन्फ्युशियस धर्मों की मिश्रित शैली से बना यह एकलौता अद्भुत मंदिर सुरक्षित बचा है।चीन के शहर ताथोंग से 65 किलोमीटर दूर ये मंदिर स्थित है।

हैंगिंग टेम्पल

शानसी प्रान्त के हुन्यान कस्बे में स्थित हंग पहाड़ी के बेहद संकरे स्थान पर बनाया गया यह मंदिर बेहद ही लम्बा है। सबसे ख़ास बात है घनी पहाड़ियों के बीच फैली घाटी क छोटे से बेसिन पर बना ये मंदिर सीधी खड़ी चट्टान पर लगभग 50 मीटर की ऊंचाई पर है।

हैंगिंग टेम्पल

घाटी के दोनों ओर लगभग 100 मीटर ऊँची सीधी खड़ी चट्टानें हैं। अगर आप दूर से इस मंदिर को देखेंगे तो आपको ये बिलकुल हवा में तैरता हुआ दिखेगा।

हैंगिंग टेम्पल

ये मंदिर अद्भुत कला और संस्कृति का संगम है और हैरानी की बात है की पूरा मंदिर करीब 10 पतली -पतली लकड़ियों पर टिका हुआ है जिसे देखकर लगता है की कभी भी ये गिर सकता है पर कलाकारी देखिये पिछले 1500 सालों से ये मंदिर ऐसे ही खड़ा है।

हैंगिंग टेम्पल

आने वाले पर्यटकों को खास सुरक्षा अपनाने के लिए कहा जाता है क्योंकि जरा से असावधानी जानलेवा हो सकती है।इस मंदिर के इस ऊंचाई और खतरनाक जगह पर होने के बावजूद यहाँ आने वाले लोगों की भीड़ कम नहीं होती ।

आखिर ताजमहल के ‘रहस्मयी दरवाजे’ का सच आ ही गया सामने, जानिये वायरल विडियो की सच्चाई !