BREAKING NEWS

BJP प्रमुख कर्नाटक मंत्रिपरिषद के विस्तार के लिए आज भेजेंगे अंतिम सूची : बोम्मई◾गलवान हिंसा पर Video जारी कर अपनी ही फजीहत करा बैठा चीन, पत्थरबाज सैनिक हुए एक्सपोज◾अफगानिस्तान के संकट का असर ना केवल पड़ोस पर बल्कि उससे भी बाहर तक होगा : जयशंकर◾दृष्टिकोण 2047 : दिल्ली को नंबर-1 बनाने के लिए केजरीवाल ने सभी से सलाह मांगी◾अफगानिस्तान में तालिबान की हिंसा पर भारत का कड़ा संदेश, कहा- हिंसा, डराने व धमकाने से वैधता प्राप्त नहीं की जा सकती◾एमपी: भारी बारिश से मचा हाहाकार, बाढ़ में फंसे 16 सौ लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया ◾कर्नाटक: सीएम पद छोड़ते ही मुश्किलों में घिरे येदियुरप्पा, भ्रष्टाचार के मामले में नोटिस जारी◾दिल्ली में बच्ची की संदिग्ध मौत के मामले ने पकड़ा सियासी तूल, कांग्रेस ने केजरीवाल और शाह पर साधा निशाना ◾समझौते के बाद पाकिस्तान की हरकतों पर लगी लगाम, एलओसी पर गोलाबारी में आयी भारी कमी◾तोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतकर लौटी पीवी सिंधू का हवाई अड्डे पर गर्मजोशी से हुआ स्वागत ◾लालू ने शरद यादव से मुलाकात की, कहा- हमारे लिए चिराग ही है एलजेपी प्रमुख◾सिर्फ शादी के लिए धर्मांतरण गलत, इलाहाबाद HC ने ‘जोधा-अकबर’ का उदाहरण देते हुए रद्द की जमानत याचिका◾PM मोदी ने पूरी ओलंपिक टीम को बतौर 'स्पेशल गेस्ट' स्वतंत्रता दिवस समारोह पर किया आमंत्रित ◾कोरोना से जंग के बीच टीकाकरण अभियान जारी, राज्यों के पास 2.75 करोड़ खुराक उपलब्ध : केंद्र◾शिवराज का ऐलान- MP में जहरीली शराब बेचने वालों को होगा आजीवन कारावास या मौत की सजा◾दिल्ली सरकार ने विधायकों के वेतन में बढ़ोतरी को दी मंजूरी, अब 54 की जगह 90 हजार होगी सैलरी◾दिवंगत बाला साहेब ठाकरे से काफी प्रभावित है राहुल, वे जल्द महाराष्ट्र दौरे पर आएंगे: संजय राउत◾गरीबों का सशक्तीकरण है सर्वोच्च प्राथमिकता, लाखों परिवारों को फ्री राशन दे रही सरकार : PM मोदी◾CBSE 10th रिजल्ट : त्रिवेंद्रम क्षेत्र ने 99.99 फीसदी के साथ मारी बाजी, TOP-10 में सबसे नीचे दिल्ली◾संसद में पेगासस और कई मुद्दों को लेकर विपक्ष का हंगमा, राज्यसभा की बैठक स्थगित◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

गूगल ने अध्ययन में पाया भारतीय खुद को सुंदर दिखाने के लिए ‘फिल्टर’ का अधिक प्रयोग करते हैं

गूगल द्वारा किए गए एक वैश्विक अध्ययन के अनुसार, अच्छी सेल्फी लेने के लिए अमेरिका और भारत में ‘फिल्टर’ (तस्वीर को सुंदर बनाने की तकनीक) का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है। अध्ययन में हिस्सा लेने वाले लोगों में जर्मनी के विपरीत, भारतीय लोगों ने बच्चों पर ‘फिल्टर’ के असर को लेकर अधिक चिंता व्यक्त नहीं की।

अध्ययन के अनुसार ‘एंड्रॉयड’ यंत्र में ‘फ्रंट कैमरे’ (स्क्रीन के ऊपर लगे कैमरे) से 70 प्रतिशत से अधिक तस्वीरें ली जाती है। भारतीयों में सेल्फी लेने और उसे दूसरे लोगों से साझा करने का काफी चलन है और खुद को सुंदर दिखाने के लिए वे ‘फिल्टर’ को एक उपयोगी तरीका मानते हैं। अध्ययन में कहा गया, ‘‘ भारतीय महिलाएं, खासकर अपनी तस्वीरों को सुंदर बनाने के लिए उत्साहित रहती हैं और इसके लिए वे कई ‘फिल्टर एप’ तथा ‘एडिटिंग टूल’ का इस्तेमाल करती हैं। इसके लिए ‘पिक्स आर्ट’ तथा ‘मेकअप प्लस’ का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है। वहीं अधिकतर युवा ‘स्नैपचैट’ का इस्तेमाल करते हैं।’’

अध्ययन में पाया गया कि ‘‘ सेल्फी लेना और साझा करना भारतीय महिलाओं के जीवन का इतना बड़ा हिस्सा है कि यह उनके व्यवहार और यहां तक कि घरेलू अर्थशास्त्र को भी प्रभावित करता है। कई महिलाओं ने कहा कि अगर उन्हें सेल्फी लेनी होती है तो वे इसके लिए पहने कपड़े दोबारा नहीं पहनती।’’ अध्ययन के अनुसार भारतीय पुरुष भी सेल्फी लेने और ‘फिल्टर’ का इस्तेमाल करने में पीछे नहीं हैं, लेकिन वे खुद कैसे दिख रहे हैं, उससे अधिक तस्वीर के पीछे की कहानी पर अधिक ध्यान देते हैं।

भारतीय अभिभावकों ने वहीं बच्चों पर ‘फिल्टर’ के असर को लेकर अधिक चिंता व्यक्त नहीं की। वे बच्चों के ‘फिल्टर’ के इस्तेमाल को लेकर उनका रवैया बेहद सहज था और इसे वह एक मौज-मस्ती की गतिविधि के तरह देखते हैं। अध्ययन में कहा गया कि भारतीय माता-पिता अपने बच्चों के मोबाइल फोन के अत्यधिक उपयोग या गोपनीयता और स्मार्टफ़ोन की सुरक्षा के बारे में अधिक चिंतित थे।