BREAKING NEWS

आश्रम-3 पर मचे बवाल के बाद एक्शन में सरकार, मप्र में शूटिंग से पहले दिखानी होगी फिल्म की स्क्रिप्ट ◾J&K में 15वें दिन मुठभेड़ जारी, राजौरी-पुंछ सीमा पर फिर से सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच गोलीबारी शुरू◾PM मोदी का सपा पर तंज- पिछली सरकारों में चौबीसों घंटे चली भ्रष्टाचार की साइकिल ◾पाकिस्तानी मीडिया ने टीम पर जमकर लुटाया प्यार, बताया पाकिस्तान क्रिकेट के लिये खूबसूरत दिन ◾अखिलेश का तीखा वार- भाजपाई ये तो बताएं कि योगी सरकार से पहले क्यों नहीं हुए श्माशान और महामारी घोटाले◾यूपी: गरीब रिक्शा चालक को आयकर विभाग ने थमाया 3 करोड़ रुपये का नोटिस, धोखाधड़ी ने उड़ाए होश◾PM मोदी ने किया नौ मेडिकल कॉलेजों का उद्घाटन, कहा- आज का दिन UP के लिए लाया आरोग्य की डबल डोज ◾पाकिस्तान से टी20 मैच हरने के बाद पंजाब में हुई 10 कश्मीरी छात्रों की पिटाई ◾यूपी के दौरे पर CM केजरीवाल, एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं ने किया भव्य स्वागत, सरयू आरती में होंगे शामिल◾UP को PM मोदी देंगे मेडिकल कॉलेज की सौगात, बनारस से शुरू करेंगे 'आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत' योजना◾देश में कोरोना महामारी से पिछले 24 घंटे में 443 मरीजों की मौत,14 हजार से अधिक केस की हुई पुष्टि ◾कश्मीरी पंडितो के संगठनों ने की शाह से मुलाकात, सुरक्षा और बीमा कवरेज की मांग की ◾UP दौरे पर पीएम के आगमन का CM योगी ने किया स्वागत, मोदी विभिन्न विकास परियोजनाओं की करेंगे शुरुआत ◾विश्वभर में कोरोना के मामले 24.36 करोड़ से ज्यादा, अब तक 6.80 अरब से ज्यादा लोगों का हुआ टीकाकरण ◾IND vs PAK ( T-20 World Cup) : भारत की ऐतिहासिक हार , पाकिस्तान ने रोका विजय अभियान◾देश के अधिकतर किसान यूनियन कृषि कानूनों के समर्थन में खड़े हैं, कुछ ही लोगों को मतभेद: तोमर◾ममता का BJP पर आरोप, बोलीं- त्रिपुरा में रैलियां निकालने की कोशिश करने वाले विरोधियों के साथ होती है मारपीट ◾AAP का कांग्रेस का हमला, कहा- पंजाब सरकार ने किसानों को वोट बैंक के तौर पर इस्तेमाल किया◾अखिलेश का भाजपा पर जोरदार हमला, बोले- सरकार ने किसानों को पूरी तरह हाशिये पर रख दिया है◾मप्र में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, बड़वाह से विधायक ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की ◾

गूगल ने अध्ययन में पाया भारतीय खुद को सुंदर दिखाने के लिए ‘फिल्टर’ का अधिक प्रयोग करते हैं

गूगल द्वारा किए गए एक वैश्विक अध्ययन के अनुसार, अच्छी सेल्फी लेने के लिए अमेरिका और भारत में ‘फिल्टर’ (तस्वीर को सुंदर बनाने की तकनीक) का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है। अध्ययन में हिस्सा लेने वाले लोगों में जर्मनी के विपरीत, भारतीय लोगों ने बच्चों पर ‘फिल्टर’ के असर को लेकर अधिक चिंता व्यक्त नहीं की।

अध्ययन के अनुसार ‘एंड्रॉयड’ यंत्र में ‘फ्रंट कैमरे’ (स्क्रीन के ऊपर लगे कैमरे) से 70 प्रतिशत से अधिक तस्वीरें ली जाती है। भारतीयों में सेल्फी लेने और उसे दूसरे लोगों से साझा करने का काफी चलन है और खुद को सुंदर दिखाने के लिए वे ‘फिल्टर’ को एक उपयोगी तरीका मानते हैं। अध्ययन में कहा गया, ‘‘ भारतीय महिलाएं, खासकर अपनी तस्वीरों को सुंदर बनाने के लिए उत्साहित रहती हैं और इसके लिए वे कई ‘फिल्टर एप’ तथा ‘एडिटिंग टूल’ का इस्तेमाल करती हैं। इसके लिए ‘पिक्स आर्ट’ तथा ‘मेकअप प्लस’ का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है। वहीं अधिकतर युवा ‘स्नैपचैट’ का इस्तेमाल करते हैं।’’

अध्ययन में पाया गया कि ‘‘ सेल्फी लेना और साझा करना भारतीय महिलाओं के जीवन का इतना बड़ा हिस्सा है कि यह उनके व्यवहार और यहां तक कि घरेलू अर्थशास्त्र को भी प्रभावित करता है। कई महिलाओं ने कहा कि अगर उन्हें सेल्फी लेनी होती है तो वे इसके लिए पहने कपड़े दोबारा नहीं पहनती।’’ अध्ययन के अनुसार भारतीय पुरुष भी सेल्फी लेने और ‘फिल्टर’ का इस्तेमाल करने में पीछे नहीं हैं, लेकिन वे खुद कैसे दिख रहे हैं, उससे अधिक तस्वीर के पीछे की कहानी पर अधिक ध्यान देते हैं।

भारतीय अभिभावकों ने वहीं बच्चों पर ‘फिल्टर’ के असर को लेकर अधिक चिंता व्यक्त नहीं की। वे बच्चों के ‘फिल्टर’ के इस्तेमाल को लेकर उनका रवैया बेहद सहज था और इसे वह एक मौज-मस्ती की गतिविधि के तरह देखते हैं। अध्ययन में कहा गया कि भारतीय माता-पिता अपने बच्चों के मोबाइल फोन के अत्यधिक उपयोग या गोपनीयता और स्मार्टफ़ोन की सुरक्षा के बारे में अधिक चिंतित थे।