गुजरात विधानसभा चुनाव में नव निर्वाचित सभी 182 विधायकों को मंगलवार को सदन के सदस्य के रूप में शपथ दिलाई गई। प्रोटेम स्पीकर नीमाबेन आचार्य ने सभी विधायकों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। विधानसभा इमारत में मरम्मत का काम चलने की वजह से 14वीं विधानसभा के सदस्यों का शपथ ग्रहण समारोह अस्थायी स्थान स्वर्णिम संकुल-1 बिल्डिंग के साबरमती हॉल में आयोजित किया गया।

कांग्रेस के 80 सदस्य विपक्षी नेता परेश धानानी के कार्यालय में एकत्रित हुए और अपने समर्थकों के साथ समारोह स्थल की ओर रवाना हुए। दलित नेता और वडगाम से नवनिर्वाचित विधायक जिग्नेश मेवाणी ने कहा, ‘मैं अपनी क्षमता के अनुसार सदन में लोगों के मुद्दे उठाऊंगा। मैं भारत के नियन्त्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट को जल्द पेश किए जाने की भी मांग करूंगा।’

भूपेन्द्र खंत ने भी शपथ ली, हालांकि उनके आदिवासी होने पर विवाद बना हुआ है। गुजरात जनजाति विकास समिति ने उनके आदिवासी प्रमाण पत्र को रद्द कर दिया है। भुज से विधायक निमाबेन आचार्य ने मंगलवार सुबह प्रोटेम स्पीकर के तौर पर गांधीनगर में राज्यपाल ओ.पी. कोहली की उपस्थिति में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।