भोपाल : मध्यप्रदेश की नवनियुक्त राज्यपाल आनंदीबेन मफतभाई पटेल गुजरात की पहली महिला मुख्यमंत्री रह चुकी हैं। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार सुश्री पटेल कल भोपाल के राजभवन में राज्यपाल पद की शपथ लेंगी। उनका जन्म 21 नवंबर, 1941 को मेहसाणा जिले के खरोद में हुआ था। उन्होंने एमएससी और एमएड (गोल्ड मेडलिस्ट) तक शिक्षा प्राप्त की।

अहमदाबाद के मोहिनाबा हाईस्कूल में प्राचार्य रहीं। वे वर्ष 1988 से 90 एवं 1992 से 96 तक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की गुजरात राज्य महिला मोर्चा की अध्यक्ष और वर्ष 1990 से 1992 तक भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष रहीं। वे आठ साल तक भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की सदस्य रहीं। मेहसाणा जिला के स्कूल स्पोर्टस फेस्टिवल में वर्ष 1988 में आपको‘वीर बाला’पुरस्कार से सम्मानित किया गया। वर्ष 1990 में गुजरात राज्य के‘श्रेष्ठ शिक्षक’पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इसके बाद राष्ट्रीय स्तर के‘श्रेष्ठ शिक्षक’सम्मान से सम्मानित हुई। उनको मोहिनता कन्या विद्यालय की दो छात्राओं को नर्मदा नदी में डूबने से बचाने के लिए गुजरात सरकार के‘वीरता पुरस्कार’से नवाजा गया।

सुश्री पटेल वर्ष 1994-98 तक राज्यसभा सदस्य रही। वे 1998 में मांडल विधानसभा क्षेत्र से गुजरात विधानसभा की सदस्य रही। वर्ष 2002 से उन्होंने पाटन विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। 1998 से 2014 के बीच उन्होंने गुजरात मंत्रिमंडल में कई महत्वपूर्ण विभागों की मंत्री के रूप में काम किया। सुश्री पटेल 22 मई, 2014 को गुजरात राज्य की प्रथम महिला मुख्यमंत्री बनी। वे 7 अगस्त, 2016 तक इस पद पर रहीं। वे समय-समय पर‘धराती‘,‘साधना’एवं‘सखी’पत्रिकाओं के लिये लेख लिखती हैं। सुश्री पटेल चीन, बुलगारिया, फ्रांस, जर्मनी, इंग्लैण्ड, नीदरलैंड, अमेरिका, कनाडा, मेक्सिको, नामीबिया, दक्षिण अफ्रीका आदि देशों का दौरा कर चुकी हैं।

देश की हर छोटी-बड़ी खबर जानने के लिए पढ़े पंजाब केसरी अखबार।