हिंदू धर्म में सबसे ज्यादा अहम और पूज्य माना जाता है पीपल का पेड़। इसलिए तो पीपल के पेड़ की पूजा भी की जाती है। कहा जाता है कि जिस तरह से देवताओं में अनेकों गुण होते हैं वैसे ही पीपल के पेड़ में भी कई सारे स्वास्थ्यवर्धक गुण पाए जाते हैं। बता दें कि पीपल के पत्तों,शाखाओं और जड़ों में तीव्र गति से काम करने की शक्ति होती है। इसी तरह से यह पेड़ हमारे शरीर को कई तरह की बीमारियों से भी बचा कर रखता है। तो चालिए आज हम इस पोस्ट में आपको बता रहे हैं पीपल के पेड़ से होने वाले 10 बड़े फायदो के बारे में।

पीपल के पेड़ से होने वाले फायदे….

1.पीपल के कोमल पत्ते कई औषधियों से भरपूर होते हैं। पीपल के पत्तों में कई तरह के विटामिंस और मिनरल्स पाए जाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि यादि पीपल के पत्तों का चबा-चबा कर सेवन किया जाए तो ये तनाव को दूर करता है।

2.नाक में से खून आने की समस्या से परेशान हैं तो पीपल के ताजे पत्तों को तोड़कर उनका रस निकालकर नाक में डालने से नकसीर फूटने जैसी पेरशानी नहीं होती है।

3.पीलिया जैसी गंभीर बीमारी हो जाने पर पीपल के कोमल पत्तों का रस निकालकर उसमें मिश्री मिलाकर इसका सेवन करने से आपका पीलिया जल्दी ही खत्म हो जाएगा।

4.पीपल की ताजी जड़ पानी में भिगोकड इसका लेप बना कर यदि आप अपनी त्वचा पर इस लेप का उपयोग करते हैं तो आपकी झुर्रियां तो कम होगी ही साथ ही आपके चेहरे की रंगत में भी सुधार होगा।

5.आज भी कई सारे लोग पीपल के दातुन का प्रयोग करते हैं क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि पीपल का दातुन करने से दांत मजबूत और दांतो की कई सारी समस्याएं दूर हो जाती है।

6.पीपल के पत्तों के इस्तेमाल से आप खुजली जैसी समस्यों से निजात पा सकते हैं।

7.पित्त जैसी समस्या से छुटकरा पाने के लिए आप पीपल के ताजे पत्तों का रस निकालकर सुबह शाम पीएं इससे आपको जल्दी ही आराम मिलेगा।

8.दमा जैसी बीमारियों से निजात पाने के लिए पीपल के कोमल पत्तों को दूध में उबालकर पीने से आपको जल्द राहत मिलेगी।

9.पीपल की छाल से घाव को जल्दी भरा जा सकता है।

10.पीपल के पत्तों का प्रयोग सांस से संबंधित बीमारियों से निजात पाने के लिए किया जाता है। पीपल के पेड़ की छाल का अदंरूनी हिस्से को निकालकर सूखा कर इसका चूर्ण बना लिजिए और इसका नियमित रूप से सेवन करने से सांस से जुड़ी समस्या जल्द दूर होने लगेगी।