हिन्दू धर्म में विभिन्न जीव जंतुओं को लेकर तरह तरह की भ्रांतियां फैली हुई है और किसी जीव को शुभ माना जाता है और कुछ जीव ऐसे भी है जिन्हे अशुभ माना जाता है। कुछ जीवों को देवताओं का वाहन बताया जाता और साथ ही जीवों से जुड़े कई प्रभाव भी बताये जाते है। इन जीवों में से उल्लू और कौवा मुख्य है जिनको लेकर बहुत से धर्म से जुड़े  शकुन अपशकुन गिनाये जाते है। आईये नजर डालते है इन तथ्यों पर….
कौए से जुड़े शकुन-अपशकुन

crow(1) अगर बहुत सारे कौए मिलकर किसी जगह का घर में एकत्रित होकर शोर करें, तो उस जगह या घर में रहने वालों पर बड़ी भारी मुसीबत आने वाली होती है।
(2) यदि उड़ता हुआ कौआ किसी के सिर पर बीट करे, तो उसे रोग व संताप होता है और यदि हड्डी का टुकड़ा गिरा दे, तो उस व्यक्ति पर भारी संकट आ सकता है।

(3) यदि कौआ पंख फडफ़ड़ाता हुआ उग्र स्वर में बोलता है, तो यह अशुभ संकेत है।
(4) कौआ यदि यात्रा करने वाले व्यक्ति के सामने आकर सामान्य स्वर में कांव-कांव करे और चला जाए तो कार्य सिद्धि की सूचना देता है।

crow(5) यदि किसी महिला के सिर पर कौआ बैठता है, तो उसके पति को गंभीर संकट का सामना करना पड़ सकता है।

owlउल्लू से जुड़े शकुन-अपशकुन 
(1) यदि कोई उल्लू अगर लगातार किसी के घर में आने लग जाए तो मान लीजिये शीघ्र ही उस घर के उजड़ने के लक्षण है। या फिर उस घर के मालिक पर जल्द ही कोई बड़ी विपत्ति आने वाली होती है।

owl(2) अगर किसी मकान के दरवाजे पर उल्लू तीन दिन तक लगातार रोदन करता है, तो उसके भवन में चोरी या डकैती होने की संभावना है। अर्थात उसे किसी न किसी रूप में धन की हानि अवश्य होती है।

owl(3) अगर किसी मेहमान के पीछे की तरफ उल्लू दिखाई दे तो मनचाही मुराद पूरी होती है।
(4) यदि उल्लू रात में यात्रा कर रहे व्यक्ति को होम-होम की आवाज करता मिले तो शुभ फल मिलता है।
(5) अगर रात को सफेद उल्लू दिख जाए तो यह अच्छे समय आने का संकेत है।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहां क्लिक करे।