BREAKING NEWS

लेह से चीन को PM मोदी का सख्त सन्देश, बोले- इतिहास गवाह है कि विस्तारवादी ताकतों को हमेशा मिली हार◾PM मोदी के लेह दौरे से तिलमिलाया ड्रैगन, कहा-कोई पक्ष हालात न बिगाड़े ◾चीन और पाकिस्तान से बिजली उपकरणों का आयात नहीं करेगा भारत ◾PM मोदी के लेह दौरे पर सियासत शुरू, मनीष तिवारी बोले- जब इंदिरा गई थीं तो पाक के दो टुकड़े किए थे◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 8 लाख के पार, सवा पांच लाख के करीब लोगों की मौत◾कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों को CM योगी ने दी श्रद्धांजलि, कहा-व्यर्थ नहीं जाएगा यह बलिदान ◾चीन के साथ तनाव के बीच PM मोदी का औचक लेह दौरा, अग्रिम पोस्ट पर जवानों से की मुलाकात◾देश में एक दिन में 20 हजार से अधिक कोरोना मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा सवा छह लाख के पार◾15 अगस्त को लॉन्च हो सकती है स्वदेशी कोरोना वैक्सीन COVAXIN, 7 जुलाई से शुरू होगा ह्यूमन ट्रायल◾जम्मू-कश्मीर : श्रीनगर में मुठभेड़ में CRPF का एक जवान शहीद, एक आतंकवादी भी ढेर◾कानपुर में अपराधियों को पकड़ने गई पुलिस पर हमला, मुठभेड़ में आठ पुलिसकर्मी शहीद◾मुंबई : बॉलीवुड की मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का कार्डियक अरेस्ट के चलते निधन◾Covid 19 : अमेरिका में संक्रमितों की संख्या 27 लाख के पार, सवा एक लाख से अधिक लोगों की मौत ◾महाराष्ट्र में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, एक दिन में 6,330 नए मामलों के साथ राज्य में मौत का आंकड़ा 8,178◾गूगल प्ले स्टोर, एपल ऐप स्टोर से हटी भारत सरकार द्वारा बैन चीन की 59 ऐप, कंपनियों ने रोया दुखड़ा ◾दिल्ली में कोरोना के 2,373 नए मरीज आये सामने , कुल मामले बढ़कर 92,000 के पार ◾अप्रैल 2023 से शुरू होगा निजी ट्रेनों का परिचालन, जानिये सफर में क्या होंगे खास और आधुनिक बदलाव◾कांग्रेस को चुनौती देते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया का पलटवार, कहा - टाइगर अभी जिंदा है ◾म्यांमार में बड़ा हादसा, हरे पत्थर की खदान में भूस्खलन से करीब 123 लोगों की मौत ◾चीन के साथ तनाव के बीच, लद्दाख में भारत ने स्पेशल फोर्स के जवानों को तैनात किया◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जानें क्यों है शादी की पहली रात पर दूध पिलाने का प्रचलन

सुहागरात अहम और आखिरी पड़ाव शादी-विवाह का होता है। नवविवाहित जोड़े अपने गृहस्‍थ जीवन की शुरुआत इसी आखिरी पड़ाव के बाद शुरु करते हैं। कई तरह के सपने अपने मन में सुहागरात को लेकर नवविवाहित जोड़े बुन लेते हैं। नवविवाहित जोड़े कई तरह की कोशिश करते हैं अपनी जिंदगी की इस समय को स्पेशल बनाने के लिए। 

सुहागरात की रात को भरा हुआ दूध का गिलास पीना जरूरी होता है। ऐसा कहा जाता है कि यह एक रस्म होती है। चलिए जाते हैं कि दूध से भरा हुआ ग्लास आखिर सुहागरात पर क्यों पिलाया जाता है। क्या होते हैं इसके फायदे। 

क्या है परंपरा?


हमारे ग्रंथों में बताया गया है कि नवविवाहित जोड़ों को शादी की रात दूध दिया जाता है जो कि एक परंपरा है। केसर और बादाम इस दूध में डाले जोते हैं। कई तरह से यह दूध बनाया जाता है। जैसे बादाम और काली मिर्च ही डाले जाते हैं या फिर सिर्फ बादाम को पीसकर डालते हैं या फिर सौंफ का रस दूध में मिला देते हैं। इन अलग-अगल तरीकों से दूध बनाया जाता है। 

यह शुभ माना जाता है


हिंदू धर्म के मुताबिक, दूध एक शुद्ध पदार्थ है और इसे बहुत शुभ माना गया है। क्योंकि दंपत्ति अपने नए जीवन की शुरुआत कर रहे हैं, इसलिए दूध उन्हें दिया जाता है। 

ये मूल रूप से किस जगह से आया है?


कई महशूर ग्रंथों के मुताबिक,शारिरीक संबंध बनाने के दौरान इन चीजों को ऊर्जा बढ़ाने के लिए शामिल किया गया था। नवविवाहित कपल की सुहागरात का अनुभव बढ़ाने के लिए इसे शामिल किया गया था। दूध में शहद, चीनी, हल्दी, काली मिर्च में सौफ के रस की विविधताएं इसके कारण जोड़े के रिश्ते बेहतर बनते हैं। 

क्यों है ये मिश्रण?


शादी की भागदौड़ के बाद दूध, केसर और बादाम नवविवाहित को दिए जाते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि बादाम और दूध दोनों में प्रोटीन की मात्रा होती है जो शरीर को ताकत प्रदान करते हैं। टेस्टोस्टेरोन और एस्ट्रोजन जैसे हार्मोन बनाने के लिए भी प्रोटीन की आवश्यकता होती है। 

कामोत्तेजक 


इसे कामोत्तेजक भी कहा जाता है। दूध, केसर और बादाम एक शक्तिशाली संयोजन है जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं।