BREAKING NEWS

पाकिस्तान समेत एशिया-प्रशांत समूह के सभी देशों ने किया भारत का समर्थन◾World Cup 2019 PAK vs NZ : पाक ने न्यूजीलैंड का रोका विजय रथ , नाकआउट की उम्मीद बढ़ायी ◾काफिले का मार्ग बाधित करने को लेकर थर्मल पावर के कर्मचारियों पर भड़के कुमारस्वामी ◾जयशंकर ने S-400 समझौते पर पोम्पिओ से कहा : भारत अपने राष्ट्रीय हितों को रखेगा सर्वोपरि◾‘जय श्रीराम’ का नारा नहीं लगाने पर ट्रेन से धकेल दिये गये 3 लोगों को ममता देंगी मुआवजा◾RAW चीफ बने 1984 बैच के IPS सामंत गोयल, अरविंद कुमार बनाए गए IB डायरेक्टर◾कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव में वैष्णव को BJD के समर्थन पर CM से स्पष्टीकरण मांगा ◾बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय का MLA बेटा पहुंचा जेल, अधिकारी से की थी मारपीट◾पलायन रोकने के लिए गांवों का हो विकास : गडकरी◾दुष्कर्म मामले में केरल के CPI (M) नेता के बेटे के खिलाफ जारी किया लुकआउट नोटिस◾कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्री नेपाल में फंसे, यात्रा संचालकों पर लगाया कुप्रबंधन का आरोप ◾विपक्ष त्यागे नकारात्मकता, विकास यात्रा में दे सहयोग : पीएम मोदी ◾Top 20 News - 26 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾एक देश एक चुनाव व्यवहारिक नहीं : कांग्रेस ◾नई ऊंचाइयों पर पहुंच रही है अमेरिका-भारत के बीच साझेदारी : माइक पोम्पियो◾दुखद और शर्मनाक है बिहार में चमकी बुखार से हुई बच्चों की मौत : PM मोदी ◾इंदौर: BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश ने नगर निगम अफसरों को बल्ले से पीटा◾कांग्रेस ने 2014 से देश की विकास यात्रा शुरू करने के दावे पर मोदी सरकार को लिया आड़े हाथ ◾SC ने राजीव सक्सेना को विदेश जाने की अनुमति देने वाले दिल्ली HC के फैसले पर लगाई रोक ◾अध्यक्ष पद छोड़ने के रुख पर कायम राहुल गांधी, कांग्रेस सांसदों ने नेतृत्व करते रहने का आग्रह किया◾

दिलचस्प खबरें

ये है भारत का सबसे खतरनाक किला, सूरज ढलने के बाद मंडराने लगता है यहां पर मौत का साया

भारत में कई राजाओं के किले हैं जो खूबसूरत के साथ बेहद खतरनाक भी हैं। भारत का एक ऐसा ही किला महाराष्ट्र के माथेरान और पनवले के बीच में हैं जो भारत के इतिहास के खतरनाक किलों में से एक माना जाता है। इस किले का नाम प्रभलगढ़ किला है।

इस किले का कालावंती के नाम से भी जाना जाता है। यह किला 2300 फीट ऊंची खड़ी पहाड़ी पर बना हुआ है और इस किले के बारे में कहा जाता है कि इस किले को देखने के लिए बहुत कम लोग आते हैं और जितने भी लोग आते हैं वह सब वापस सूर्यास्त से पहले ही चले जाते हैं।

 

ये है भारत का सबसे खतरनाक किला

इस किले की चढ़ाई खड़ी है जिसकी वजह से लोग यहां पर ज्यादा समय तक नहीं रह पाते हैं। इस किले पर बिजली और पानी दोनों की ही व्यवस्था बिल्कुल भी नहीं है। जैसे ही सूरज ढहलता है वैसे ही यहां पर सन्नाटा मीलों तक हो जाता है।

इस किले की चढ़ाई करने के लिए सीढिय़ां चट्टानों को काटकर बनाई हैं। दरअसल इन सीढिय़ों पर किसी भी तरह की रस्सियां और रेलिंग नहीं लगाई गईं हैं। अगर चढ़ाई के समय इंसान का पैर फिसलता है तो वह सीधा 2300 फीट नीचे खाई में जाकर गिर जाता है।

खबरों के अनुसार कई लोगों की इस किले से गिरने पर मौत भी हो गई है। पहले इस किले का नाम मुरंजन किला था लेकिन छत्रपति शिवाजी महाराज ने इस किले का नाम बदल कर प्रबलगढ़ रख दिया। ऐसा कहा जाता है कि शिवाजी महाराज ने अपनी पत्नी रानी कलावंती के नाम पर इस किले का नाम रख दिया था।

चंदेरी, माथेरान, करनाल और इर्शल किले भी इस किले से दिखाई देते हैं। इतना ही नहीं इस किले की ऊंचाई से मुंबई के कई इलाके भी दिखते हैं। इस किले पर लोग अक्टूबर से मई महीने तक घूमने के लिए आते हैं। इस किले पर बारिश के दिनों पर चढ़ाई करना बहुत खतरनाक हो जाता है। यही वजह होती है कि लोग यहां पर इस दौरान नहीं आते हैं।

इस लड़की के अनोखे शौक को जानने के बाद आप भी डर से थर-थर कांप जाएंगे