BREAKING NEWS

महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने बैंकाक पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ◾किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है भाजपा सरकार : अखिलेश◾उत्तरी कश्मीर में पांच संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार ◾‘शिवसेना राजग की बैठक में भाग नहीं लेगी’ ◾TOP 20 NEWS 16 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामलीला मैदान में मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ के खिलाफ विपक्ष करेगी बड़ी रैली ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : भाजपा ने तीन उम्मीदवारों की चौथी सूची की जारी◾सबरीमला मंदिर के कपाट खुले, पुलिस ने 10 महिलाओं को वापस भेजा◾राफेल पर CM अरविंद केजरीवाल का प्रकाश जावड़ेकर को जवाब, ट्वीट कर कही ये बात ◾दिल्ली: राफेल डील में SC से क्लीन चिट के बाद AAP कार्यालय के पास भाजपा का प्रदर्शन◾नवाब मलिक ने फड़णवीस पर साधा निशाना, कहा- हार चुके सेनापति को अपनी हार स्वीकार करनी चाहिए◾गोवा में मिग 29 K लडाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त, दोनों पायलट सुरक्षित◾योगी ने स्वाती सिंह को किया तलब, सीओ को धमकाने का ऑडियो हुआ था वायरल◾संजय राउत का BJP पर शायराना वार, लिखा- 'यारों नए मौसम ने अहसान किया...'◾

दिलचस्प खबरें

इस महिला के जन्म से ही नहीं थे हाथ, ताइक्वांडो में है उस्ताद अब बनी 'पायलट'

अमेरिका की रहने वाली जेसिका कॉक्स आम महिलाओं जैसी बिल्कुल नहीं हैं। जेसिका कॉक्स के हाथ जन्म से ही नहीं थे इसके बावजूद भी उन्होंने ऐसी चीजों में कामयाबी हासिल की है जिसके बारे में आम इंसान भी नहीं सोच सकते हैं। जेसिका के हाथ नहीं है लेकिन वह अपने पैरों से विमान उड़ाती हैं। प्रोस्थेटिक हाथ लगवाने का जेसिका के पास बचपन से ही विकल्प था।

   

हाथ ना होने के बावजूद भी जेसिका ने अपनी कमी को अपनी कमजोरी नहीं बल्कि अपनी ताकत बनाया और अपने पैरों से अपने सपनों को पूरा किया। जेसिका की मां इनेज जंब प्रेग्नेट थी तो उनके साथ सबकुछ ही सामान्य था। लेकिन जब जेसिका का जन्म हुआ तो उसके हाथ नहीं थे।

 

इनेज हमेशा से ही बेटी की इस हालात पर परेशान रहती थीं लेकिन उन्होंने अपनी बेटी को कभी अपना दुख जाहिर नहीं किया था। जेसिका ने कहा कि जैसे-जैसे वह बड़ी हुई उनके परिवार ने उन्हें कभी सीमित रहने नहीं दिया। जेसिका अपने माता-पिता को अपनी हिम्मत और मजबूती का पूरा श्रेय देती हैं।

 

सारे सपने अपनी हिम्मत से पूरे किए

आम लोगों के लिए जो चीजें करना आसान होती थीं वहीं चीजें जेसिका के लिए करना बहुत मुश्किल होती थीं। जेसिका ने हमेशा प्रोस्थेटिक हाथों को लगाने से मना किया था और वह अपने पैरों से ही सारे काम करने की कला सीखने लगी थीं।

जेसिका ने कॉलेज के समय में टैप डांस, स्वीमिंग और मॉडलिंग सीखा था। इतना ही नहीं जेसिका ने ताइक्वांडो में थर्ड डिग्री ब्लैक बेल्ट जीती हुई है। जेसिका ने 20 से ज्यादा देशों में मोटिवेशनल स्पीकर के तौर पर दौरा किया हुआ है।

ट्रेन्ड पायलट के तौर पर प्लेन उड़ाना आसान नहीं था

जेसिका ने कहा है कि उन्हें एक पायलट से ही प्लेन उड़ाने की हिम्मत मिली थी। जेसिका के अनुसार, मैं जब बचपन में विमान में सवार होती थी तब भगवान से सही सलामत रहने की दुआ करती थी। लेकिन एक बार एक पायलट ने मुझे डरते देख कॉकपिट में बुला लिया। उसने मुझे साथ में बैठाया औै मुझे प्लेन उड़ाने के लिए कहा इस वाकये के बाद उन्हें पहली बार प्लेन उड़ाने का ख्याल आया।

जेसिका ने ग्रेजुएशन 2005 में यूनिवर्सिटी ऑफ एरिजोना से की थी। उसके बाद जेसिका ने प्लेन उड़ाने की ट्रेनिंग ली। लेकिन यह ट्रेनिंग बहुत मुश्किल थी। जेसिका को ट्रेनिंग देने में ट्रेनरों को बहुत परेशानी हुई थी। जेसिका 2008 में ट्रेन्ड पायलट बन गईं। लाइट स्पोट्र्स एयरक्राफ्ट उड़ाने की जेसिका को फेडरल एविएश्सप एडमिनिस्ट्रेशन ने अनुमति दी थी।