BREAKING NEWS

चिदंबरम ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- सब सामान्य तो महबूबा मुफ्ती की बेटी नजरबंद क्यों◾कांग्रेस ने बीजेपी और RSS को बताया दलित-पिछड़ा विरोधी◾गृहमंत्री अमित शाह से मिले अजीत डोभाल, जम्मू कश्मीर के हालात पर हुई चर्चा◾RSS अपनी आरक्षण-विरोधी मानसिकता त्याग दे तो बेहतर है : मायावती ◾गहलोत बोले- कांग्रेस ने देश में लोकतंत्र को मजबूत रखा जिसकी वजह से ही मोदी आज PM है ◾बैंकों के लिए कर्ज एवं जमा की ब्याज दरों को रेपो दर से जोड़ने का सही समय: शक्तिकांत दास◾राजीव गांधी की 75वीं जयंती: देश भर में कार्यक्रम आयोजित करेगी कांग्रेस◾दलितों-पिछड़ों को मिला आरक्षण खत्म करना BJP का असली एजेंडा : कांग्रेस ◾उन्नाव कांड: SC ने CBI को जांच पूरी करने के लिए 2 हफ्ते का समय और दिया, वकील को 5 लाख देने का आदेश◾अयोध्या भूमि विवाद मामले पर आज सुप्रीम कोर्ट में नहीं हुई सुनवाई ◾जम्मू-कश्मीर में पटरी पर लौटती जिंदगी, 14 दिन बाद खुले स्कूल-दफ्तर◾बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का 82 साल की उम्र में निधन◾सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की पत्रकार तरुण तेजपाल की रेप आरोप रद्द करने की अपील◾उत्तरकाशी में बादल फटने से 17 की मौत, हिमाचल प्रदेश में बचाए गए 150 पर्यटक◾योगी सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार टला, ये है वजह◾प्रियंका बोली- मंदी पर सरकार की चुप्पी खतरनाक, इसका जिम्मेदार कौन है?◾राजस्थान से निर्विरोध चुने गए मनमोहन सिंह, कांग्रेस की राज्यसभा सीट में हुआ इजाफा◾महाराष्ट्र के धुले में ट्रक और बस में भीषण टक्कर, 15 लोगों की मौत◾जेटली की हालत बेहद नाजुक, पिछले 10 दिनों से एम्स में भर्ती◾उत्तर भारत में बारिश का कहर, हिमाचल, पंजाब, उत्तराखंड में 28 की मौत ◾

दिलचस्प खबरें

जानिए किस प्रकार कान छिदवाना है सेहत के लिए फायदेमंद

कान छिदवाने की परंपरा कोई अभी नहीं बल्कि सदियों पुरानी है। पुरातन काल में तो केवल महिलाएं ही नहीं बलिक पुरुष भी कान छिदवाकर कानों में कुंडल पहना करते थे। इस परंपरा का हिंदू धर्म में सांस्कृतिक विरासत से जोड़कर देखा जाता है।

ऐसे में यदि आप ऐसा सोचते हैं कि कान केवल फैशन के लिए छिदवाया जाता है तो इस बात में शायद आप थोड़ा सा गलत हैं। जी हां क्योंकि कान छिदवाने के पीछे कई सारे वैज्ञानिक कारण भी हैं साथ ही कान छिदवाना सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। तो आइए आप भी एक बार जान लीजिए इसके बारे में कई सारे फायदे। 

1.मेन्स्ट्रुअल साइकल सही 

आयुर्वेद के  मुताबिक कान के बाहरी भाग में सेंटर का भाग सबसे ज्यादा अहम पॉइंट होता है। यह एक ऐसा हिस्सा होता है जो प्रजनन संबंधी सेहत के लिए सबसे जरूरी माना जाता है। बता दें कि कान छिदवाने से महिलों का मासिक धर्म सही और हेल्दी बना रहता है। 

2.ब्रेन का हेल्दी विकास

यदि किसी छोटी बच्ची के कान में छेद करवा दिया जाए तो ऐसे में उस उसके ब्रेन का विकास सही तरीके से होता है। ईयर लोब्स यानी कान के बाहर के हिस्से में मध्याह् पॉइंट होता है जो दिमाग के लेफ्ट हेमिस्फियर को राइट हेमिस्फियर से जोडऩे में सहायता करता है। कान में छेद कराने से ब्रेन के ये हिस्से ऐक्टिवेट हो जाते हैं। वहीं ऐक्युप्रेशर थेरपी का सिद्घांत भी यही कहता है कि जब इस मेरिडियन पॉइंट का उत्तेजित किया जाता है तो ब्रेन का सही तरह से हेल्दी विकास होना शुरू हो जाता है। 

3.आंखों की रोशनी बेहतर होना

क्या आप जानते हैं कि कान के सेंटर पॉइंट पर ही आंखों की रोशनी का सेंटर निर्भर करता है। यही वजह है कि इन पॉइंट्स पर छेद करवाने के बाद पडऩे वाले प्रेशर के कारण से आइसाइट यानी आंखों की रोशनी अच्छी होती है। 

4.सुनने की क्षमता मजबूत

ऐसा कहा जाता है कि कान में जिस जगह छेद करवाया जाता है वो सबसे अहम ऐक्युप्रेशर पॉइंट होता है,जो बच्चे के सुनने की क्षमता को सबसे अच्छे तरीके से मेनटेन करता है। वहीं एक्युप्रेशर एक्सपट्र्स की सलाह मानें तो कान में होने वाली झनझनाहट जैसी परेशानियों से राहत दिलाने में अहम रोल निभाता है कान में छेद वाला स्पॉट। 

5.तनाव और घबराहट में भी राहत

कान छिदवाने से ब्रेन तो हेल्दी होता है। इसके साथ ही कान छिदवाने से मिर्गी जैसी परेशानियों को भी रोकने में सहायता मिलती है।

 ऐक्युप्रेशर एक्सपर्ट की मानें तो यह हिस्सा ब्रेन के मास्टर सेरेब्रल का हिस्सा भी होता है जो ब्रेन के ज्यादातर फंक्शन्स की जिम्मेदारी लेता है। ऐसे में इस तरह के पॉइंट पर छेद करवाने से तनाव और घबराहट जैसी समस्याएं दूर होती हैं।