हिंदू धर्म का महापर्स कुंभ मेला को शुरू हुआ अभी कुछ ही दिन हुए हैं। लाखों-करोडों श्रद्घालुओं की भीड़ संगम में डुबकी लगा रही है। कुंभ मेले में यदि श्रद्घालुओं को जो सबसे ज्यादा आकर्षित कर रहा है वह कोई और नहीं बल्कि नागा साधु हैं। कुंभ मेले में आए कई अनेाखे बाबा अपने अलग-अलग अंदाज के लिए चर्चा का विषय बने हुए हैं।

आपकी जानकारी क लिए बता दें कि नागा साधु बनना कोई साधारण सी बात नहीं है। बिना कपड़ों के गर्मी सर्दी और बरसाम में रहते हैं। हिंदू धर्म में नागा साधु को काफी ज्यादा अहमियत दी गई है।

6 साल की कड़ी तपस्या करने के बाद नागा साधुओं को केवल लंगोट दी जाती है। कुंभ मेले के बाद तो में इन साधाओं को अंतिम दीक्षा लेने के बाद उन्हें लंगोट भी त्यागना पड़ता है और पूरी उम्र भर वह बिना कपड़ो के रहते हैं। वहीं इस साल कुंभ मेले में कुछ हट कर बाबा दिख रहे हैं।

बता दें कि कुंभ मेले में कई अलग-अलग तरह के नागा साधू पहुंचे हुए हैं। प्रयागराज में अयोजित कुंभ मेले में ये साधु बाबा अपने रंग रुप पहनावे और व्यवहार से यहां पर लोगों के आकर्ष का केंद्र बने हुए हैं। आप इन फोटोज में कुछ अनोखे नागा बाबाओं को देख सकते हैं।

1.मौनी बाबा

परमहंस सेवा आश्रम अमेठी से आए शिव योगी को लोग मौनी बाबा कहते हैं। मौनी बाबा 14 सालों तक मौंन रहे हैं इनके शरीर पर कई सारी रुद्राक्ष माला है इस वजह से भक्त इन्हें रुद्राक्ष बाबा के नाम से भी पुकारते हैं। महत्वपूर्ण बात यह है कि ये जिनती भी रुद्राक्ष माला पहने रहते हैं ये सब इन्हें तोफहे में मिले हैं। केवल इनता ही नहीं मौनी बाबा तो 43 साल से बिना अन्न खाएं भी इतने ज्यादा फिट और तंदरुस्त हैं जो सच में हैरान करने वाली बात है।

2.कबूतर बाबा

इन्हें कूबतर बाबा के नाम से इसलिए जाना जाता है क्योंकि ये बाबा सारे दिन अपने कंधे पर कबूतर को बैठाकर दाना चुगाते हैं। ये बाबा मुख्य रूप से श्री निंरजनी पंचायती अखाड़े के सन्यासी होते हैं।

3.खड़े श्री बाबा

राजस्थान के पुष्कार से आए खड़े श्री बाबा का असली नाम दिगम्बर हरिवंश गिरि है। यह बाबा पूरे 9 सालों से खड़े ही हैं। ऐसा बताया जाता है कि बाबा ने प्रण लिया है कि जब तक राम मंदिर नहीं बनेगा वह एक पैर पर खड़े ही रहेंगे।

4.गोल्डन बाबा

गोल्डन बाबा हर बार की तरह इस बार भी कुम्भ मेले में लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र बने रहते हैं। क्योंकि इनके शरीर पर हमेशा एक-दो किलो सोना लदा रहता है।

5.चश्मे वाले बाबा

चश्मा पहनकर बैठे यह बाबा जूना अखाड़ा के महंत शक्तिगिरि हैं। गिरि बाबा ने 70किलो की माला भी पहनी है और उनका तो मुकुट भी रुद्राक्ष का है।

6.सेल्फी वाले बाबा

इस बार कुंभ में बेहद स्टाइलिश बाबा को देखा गया है जिन पर सेल्फी का भूत सवार है। वो कहीं भी खड़े होकर सेल्फी लेना शुरू हो जाते हैं।

7.डेनियल बाबा

कुंभ में भगवा कपड़ा पहने एक फ्रांसीसी पूरी संगमनगरी में खूब सुर्खियां बटोर रहा है। लोग इन्हें ‘डेनियल बाबा’ के नाम से जानते हैं। डेनियल बाबा जब फ्रांस के रहने वाले हैं। बाबा करीब 30 साल पहले शांति की तलाश में भारत आए थे और अब ये यहीं के होकर रह गए हैं।

8.शरभंग गिरि बाबा

इस बार कुंभ में ऑस्टे्रलिया के रहने वाले शरभंग गिरि बाबा कुंभ 2019 के शाही स्नान और अखाड़ों के अलावा भी शरभंग गिरि बाबा चर्चा का विषय बने हुए हैं। महत्वपूर्ण बात ये है 1998 में भारत आने से पहले शरभंग गिरि बाबा नास्तिक थे। मेलबर्न में बड़े ये बाबा पहले बस योग करते थे लिए भारत आकर ये सनातम धर्म से वाकिफ हुए और अब धर्म-कर्म में घुल मिल गए हैं।

9.मचान वाले बाबा

‘मचान वाले बाबा’ का असली नाम श्री महंत राम कृष्णदास त्यागी जी महाराज है। लेकिन ये बाबा अपने असली नाम के बजाए कुंभ में ‘मचान वाले बाबा’ के नाम से मशहूर हैं मचान वाले बाबा की साधना का तरीका भी डिफरेंट है। वे 1975 के बाद से आज तक बहुत कम ही जमीन पर पैर रखते हैं।

10. चाबी वाले बाबा

इस बार कुंभ में चाबी वाले बाबा आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। जो अपने हाथ में 20 किलो की लोहे की चाबी लेकर यहां से वहां घूम रहे हैं। इस भारी चाबी की कहानी बेहद रहस्यमयी है। इसी वजह से लोग इन्हें रहस्यमई चाबी वाले बाबा के नाम से जानते हैं।

11. डिजिटल बाबा

गेरूआ कपड़े,माथे पर त्रिपुंड और हाथ में एप्पल का फोन,पैरों में स्पोर्टस शूज और चेहरे पर थोड़ी सी मुस्कान प्रयागराज कुंभ मेले में ये शख्स संतों के बीच यह एक अकेला ऐसा संत युवा है जो सोशल मीडिया के जरिए धर्म,अध्यात्म,जीवन दर्शन भारतीय संस्कृति से रूबरू करा रहा है।

 

प्रयागराज पहुंचे गोल्डन बाबा,एक बार फिर नजर आए सोने से लदे हुए ,पहनी 27 लाख की घड़ी