सौंदर्य प्रतियोगिता विजेता गरिमा अब गर्व से भारतीय सेना की अधिकारी बन गई है। गरिमा यादव CDS 1 2017 में AIR -2 में शामिल हुईं और OTA चेन्नई में शामिल हुईं। गरिमा यादव को अकादमी से परीक्षा पास करने के बाद उसे सेना में कमीशन मिला।

गरिमा ने आर्मी पब्लिक स्कूल और सेंट स्टीफन कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी की है वह स्कूल और कॉलेज दोनों में ही एक हुनहार छात्रा थी और आईएस में शामिल होने की ख्वाहिश रखती थी। लेकिन गरिमा यादव अपने आईएएस मुख्य प्रवेश परीक्षा को पास करने में असफल रही और उन्होंने बाद में सीडीएस परीक्षा के लिए दाखिला लिया और फिर भारतीय सेना में शामिल कर लिया गया।

हाल ही में गरिमा ने एक सौंदर्य प्रतियोगिता में भाग लिया और उन्हें भारत का मिस चार्मिंग चेहरा प्राप्त किया । बता दें कि गरिमा यादव ने ये खिताब नवंबर 2017 में जीता था। उन्होंने बाद में एस.एस.बी कैक को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि में एक सिंगल मदर-चाइल्ड हूं और वह मेरे साथ हर जगह साथ खड़ी रही हैं।

मेरी मां मुझे हमेशा प्रेरित करती हैं वह एक मजबूत महिला है और मेरी सच्ची प्रेरण भी वहीं हैं मैं केवल उन्हें गर्व महसूस करना चाहती हूं। मैंने अपनी पढाई आर्मी पब्लिक स्कूल शिमला से पूरी करी है जबकि मैंने अपनी ग्रेजुएशन सेंट स्टीफन कॉलेज में बीए की पढ़ाई की है।

ब्यूटी पेजेंट भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट बनी

OTA  में अपने अनुभव के बारे में बात करते हुए उन्होंने बताया कि मुझे ओटीए में एक अद्भुत अनुभव प्राप्त हुआ था।पहले तो मेरे लिए ये बेहद कठिन प्रशिक्षण का सामना करना बहुत मुश्किल था। सब कुछ ठीक होने के बाद भी मेरे पास शारीरिक मानक नहीं थे। लेकिन किसी तरह मैंने पहले कुछ महीनों तक काम किया और मैंने हार ना मानते हुए अपने अंदर बुहत सुधार भी किया। मैंने सारे पाठ्यक्रम गतिविधियों में सक्रिय रूप से भाग लिया। लोगों का कहना गलत है कि आपको सभी खेलों में अच्छा होना चाहिए।

लेकिन मेरा मानना सिर्फ ये है कि आपको शारीरिक रूप से मजबूत होना चाहिए एसएसबी में चयनित होने के लिए। आपको सिर्फ और सिर्फ अपनी कमजोरियों को स्वीकार करने और उन पर काम करने के लिए तैयार रहना चाहिए। हमेशा अच्छे से अच्छे प्रयास करना चाहिए। एक व्यक्ति को ईमानदार,सकारात्मक,रचनात्मक और समाधान उन्मुख होना चाहिए। बाकि आपको अपने जीवन में जो कुछ भी चाहिए उन चीजों का सिर्फ पालन करें वो सारी चीजे आपको जरूर हासिल होंगी।