भारत जैसे विशाल देश में आपको कई ऐसे Mandir और मस्जिद हैं जिनका बहुत मान्याता होती है। लेकिन वहीं कई ऐसे भी मंदिर और मस्जिद होते हैं जहां पर औरतों का जाना मना होता है। आज हम आपको भारत के एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बताएंगे जिनमें पुरुषों का जाना मना होता है।

आप भी हैरान हो गए होंगे कि ऐसा कौन सा मंदिर है जहां पर पुरुषों का जाना मना है। अगर पुरुषों को मंदिर में जाना होता है तो उन्हें महिलाओं की तरह सजना सवरना पड़ता है।

Mandir में जाने के लिए मिलता है पुरुषों को मेकअप का सामान

केरल के कोल्लम जिले में कोत्तानकुलांगरा देवी है जो कि इस बात से मशहूर है क्योंकि वहां पर पुरुषों को जाना मना है। बता दें कि इस Mandir की ऐसी प्रथा है कि यहां पर मंदिर में सिर्फ महिलाएं ही पूजा करने जा सकती हैं।

अगर इस मंदिर में पुरुषों को जाना है तो पहले उन्हें महिला की तरह पुशाक पहननी होगी उसके बाद ही वह मंदिर में जा सकते हैं।

महिलाओं की तरह पुरुषों को मेकअप करके जाना होता है

इस Mandir की एक ओर खास प्रथा है कि पुरुषों को सिर्फ पोशाक ही नहीं बल्कि उन्हें महिलाओं की तरह सजना-संवरना पड़ता है। बता दें कि कोत्तानकुलांगरा देवी मंदिर है जिसमें हर साल चाम्याविलक्कू त्योहार मनाया जाता है। इस त्योहार में हजारों की तदाद में पुरुष भक्त मंदिर में पूरा महिला की तरह मेक-अप करके आते हैं ।

जो पुरुष को मिलता है मेक-अप का पूरा सामान

जो पुरुष इस त्योहार का हिस्सा बनते हैं उन्हें मंदिर से ही पूरा मेक-अप का सामान दिया जाता है। पुरुष के लिए साड़ी, गहने और मेकअप के लिए गजरा तक का पूरा सामान होता है। जब तक पुरुष यह सोलहों श्रंगार न कर लें तब तक उन्हें मंदिर में यह त्योहार नहीं आने दिया जाता।

ये हैं इस Mandir की मान्यताएं

इस Mandir की एक ऐसी खास बात है कि इस मंदिर के ऊपर कोई छत नहीं है। इस मंदिर के गर्भगृह के ऊपर छत और कलश नहीं है। इस मंदिर की ऐसी मान्यता है कि यहां पर देवी की मूर्ति खुद प्रकट हुई थी।

यह भी कहा जाता है कि कुछ लोग पत्थर पर नारियल फोड़ रहे थे और उसी दौरान पत्थर से खून आना शुरू हो गया था। उसके बाद से उसे देवी का स्थान मानकर वहां पर पूजा की जाने लगी।