BREAKING NEWS

बिहार : प्रशांत किशोर बोले- नीतीश कुमार मेरे पिता के समान◾लापता नहीं हुआ आतंकी मसूद अजहर, कड़ी सुरक्षा के बीच परिवार के साथ पाक में ही छिपा बैठा है◾विदेश मंत्री जयशंकर ने यूरोपीय संघ के नेताओं से की मुलाकात, विभिन्न मुद्दों पर की बात◾कोरोना वायरस से चीन में 1,868 लोगों की मौत, लगातार बढ़ रही मरने वालों की संख्या ◾मुख्यमंत्री केजरीवाल बोले- दिल्ली में जल्द ही दूर होगी बसों की कमी◾स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को बोला-'बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना'◾केंद्र सरकार को कम से कम अब हमसे बात करनी चाहिए: शाहीन बाग प्रदर्शनकारी ◾केजरीवाल ने जल विभाग सत्येंन्द्र जैन को दिया, राय को मिला पर्यावरण विभाग ◾कश्मीर पर टिप्पणी करने वाली ब्रिटिश सांसद का भारत ने किया वीजा रद्द, दुबई लौटा दिया गया◾हर्षवर्धन ने वुहान से लाए गए भारतीयों से की मुलाकात, आईटीबीपी के शिविर से 200 लोगों को मिली छुट्टी ◾ जामिया प्रदर्शन: अदालत ने शरजील इमाम को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजा ◾दिल्ली सरकार होली के बाद अपना बजट पेश करेगी : सिसोदिया ◾झारखंड विकास मोर्चा का भाजपा में विलय मरांडी का पुनः गृह प्रवेश : अमित शाह ◾दोषियों के खिलाफ नए डेथ वारंट पर निर्भया की मां ने कहा - उम्मीद है आदेश का पालन होगा ◾सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन राजनीतिक दुर्भावना से प्रेरित : रविशंकर प्रसाद ◾शाहीन बाग पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा - प्रदर्शन करने का हक़ है पर दूसरों के लिए परेशानी पैदा करके नहीं ◾निर्भया मामले में कोर्ट ने जारी किया नया डेथ वारंट , 3 मार्च को दी जाएगी फांसी◾महिला सैन्य अधिकारियों पर कोर्ट का फैसला केंद्र सरकार को करारा जवाब : प्रियंका गांधी वाड्रा◾शाहीन बाग : प्रदर्शनकारियों से बात करने के लिए SC ने नियुक्त किए वार्ताकार◾सड़क पर उतरने वाले बयान पर कायम हैं सिंधिया, कही ये बात ◾

टीचर्स ने स्‍कूल को बनाया ट्रेन,ताकि बच्चों को पढ़ने में आए मजा

वैसे हम सभी ने स्कूल तो कई तरह के देखें होंगे,लेकिन मध्य प्रदेश के डिंडौरी का यह नया स्टाइल वाला स्कूल शायद आप पहली बार देख रहे हों। जी हां यहां पर एक सरकारी स्कूल है जिसका नाम है खजरी जंक्शन। इस स्कूल में बच्चे अब खुशी-खुशी आते हैं। क्योंकि ट्रेन की लुक में दिखाई देने वाला यह स्कूल पढ़ाई-लिखाई के साथ-साथ खेलकूद भी करवाता है। 

जी हां यह केवल स्कूल नहीं बल्कि एजुकेशन एक्सप्रेस है,जिसके डिब्बों में बच्चों की स्पेशल क्लास लगती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक अविकसित इलाके में होने और अभी तक यहां रेल कनेक्टिविटी नहीं है। ऐसे में बच्चों का स्कूल में मन लग सके इस वजह से स्कूल अधिकारियों ने इसकी बिल्डिंग को इस तरह से पेंट किया है कि स्कूल अब  ट्रेन जैसा नजर आता है।  

इस सरकारी स्कूल में बच्चों की संख्या बहुत कम है। ऐसे में सभी टीचर्स ने अपनी सैलेरी जोड़कर स्कूल को ट्रेन का रूप दिया है। ताकि बच्चों को इस बिल्डिंग में पढऩे में अच्छा लगे और ज्यादा से ज्यादा बच्चे स्कूल में आएं।

इस सरकारी स्कूल की हेडमिस्ट्रेस संतोष ने स्कूल की बिल्डिंग को ट्रेन में तब्दील किया है। उन्होंने स्कूल के शुरू होने वाले भाग को ट्रेन के इंजन की तरह बनाया है। जबकि क्लासरूम्स को बोगियों का लुक दिया है। 

छात्रों की संख्या बड़ी

संतोष का कहना है कि जब से स्कूल को  ट्रेन  की तरह तैयार कर दिया गया है जब से बच्चे स्कूल में खुशी-खुशी आते हैं। साथ ही उनकी संख्या में भी बढ़ोत्तरी हुई है। इतना ही नहीं स्कूल में पढऩे वाले बच्चों के माता-पिता भी इस बदलाव को देखकर काफी ज्यादा खुश हैं। स्कूल में पढऩे वाले सतवीं कक्षा के अजय कुमार का कहना है कि अब यहां आना अच्छा लगता है क्योंकि स्कूल एक ट्रेन जैसा है जिस वजह से मैं रोज आ सकूंगा। 

स्कूल को और ज्यादा दिलचस्प बनाने के लिए स्कूल अधिकारियों ने क्लासरूम को बेहद गजब के नाम दिए हैं। जैसे डाइनिंग हॉल को अनपूर्णा रूमबना दिया है।