BREAKING NEWS

Coronavirus : अमेरिका में कोविड -19 से छह सप्ताह के शिशु की हुई मौत◾कोविड-19 : संक्रमण मामलों में एक दिन में दर्ज की गई सर्वाधिक बढ़ोतरी, संक्रमितों की संख्या 1,834 और मृतकों की संख्या 41 हुई◾ट्रंप ने दी ईरान को चेतावनी, कहा- अमेरिकी सैनिकों पर हमला किया तो चुकानी पड़ेगी भारी कीमत ◾NIA करेगी काबुल गुरुद्वारे हमले की जांच, एजेंसी ने किया पहली बार विदेश में मामला दर्ज ◾आवश्यक सामानों की आपूर्ति में लगे वायुसेना के विमान के इंजन में लगी आग, पायलटों ने सुरक्षित उतारा◾राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति सहित कई नेताओं ने दी देशवासियों को रामनवमी की बधाई◾Covid 19 के खिलाफ लड़ाई को कमजोर करने वालों पर भाजपा अध्यक्ष ने साधा निशाना◾खुफिया रिपोर्ट : मरकज से गायब 7 देशों की 5 महिलाओं सहित 160 विदेशी राजधानी दिल्ली में मिले◾तब्लीगी जमात से लौटे लोगों की सूचना न देने वालों पर मुकदमा दर्ज हो - CM योगी◾PM मोदी ने कोविड-19 से बचने के लिए आयुष मंत्रालय के नुस्खों को किया साझा, बोले- मैं सिर्फ गर्म पानी पीता हूं ◾दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 32 नये मामले आने से संक्रमितों की संख्या 152 पहुँची◾स्पेन : कोविड-19 से पिछले 24 घंटों में हुई 864 लोगों की मौत, मरने वाले लोगों की संख्या 9,000 के पार पहुंची ◾भारत-चीन मिलकर करेंगे वैश्विक चुनौतियों का सामना ◾कोविड-19 : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कोरोना से निपटने के लिए रक्षा मंत्रालय के उपायों की समीक्षा की◾मेरठ में कोरोना से संक्रमित 70 वर्षीय बुजुर्ग की मौत, अब तक 2 लोगों की गई जान◾पिछले 24 घंटे में कोरोना के 386 नये मामले आये सामने, निजामुद्दीन मरकज है प्रमुख वजह : स्वास्थ्य मंत्रालय◾Coronavirus : केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान- कोरोना का इलाज करते किसी स्वास्थ्यकर्मी की जान गई तो देंगे 1 करोड़ रुपये◾आंध्र प्रदेश में कोरोना के 43 नये मामलें आये सामने, संक्रमितों की संख्या बढ़कर 87 हुई◾निजामुद्दीन : मरकज से निकाले गए कुल 2361 लोग, पिछले 36 घंटे चला ऑपरेशन ◾दिल्ली में एक और डॉक्टर में कोरोना वायरस की पुष्टि, 120 हुई मरीजों की संख्या◾

नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा करने वाली देवी कौन है?

आज से चैत्र नवरात्रि शुरू हो गए हैं। नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा अर्चना की जाती है। नवरात्रि के पहले दिन यानी आज कलश की स्थापना भी करी जाती है और इसी के साथ पहले दिन से ही दुर्गासप्तशी का पाठ भी शुरू हो जाता है। बता दें कि आज के दिन से नया संवत भी शुरू होता है। चैत्र नवरात्रि के पहले दिन सृष्टि की रचना का दिन भी माना जाता है। तो चालिए आपको बताते हैं मां शैलीपुत्री की पूजाविधि,मंत्र और भोग के बारे में...

मां शैलपुत्री कौन हैं?

पौराणिक कथा के मुताबिक मां शैलपुत्री अपने पिछले जन्म में भगवान शिव की पत्नी और दक्ष की पुत्री थीं। एक बार की बात है जब दक्ष ने महायज्ञ करवाया उस समय इसमें सारे देवताओं को निमंत्रित भी किया था,लेकिन भगवान शंकर को फिर भी नहीं बुलाया था। वहीं सती यज्ञ में जाने के लिए व्याकुल हो रही थीं। 

तब शिव भगवान ने उससे कहा था कि सारे देवताओं को बुलाया गया है,मगर उन्हें नहीं ऐसे में वहां जाना ठीक नहीं होगा। सती का प्रबल आग्रह देखकर भगवान शिव शंकर ने उन्हें यज्ञ में जाने के लिए कह दिया। जब सती घर पर पहुंची तब उन्होंने भगवान शिव के प्रति तिरस्कार का भाव देखा और दक्ष ने उनके प्रति अपमानजनक शब्द भी कहे।

 इससे सती को बहुत दुख हुआ वो पति का अपमान सह नहीं पाई और यज्ञ की अग्नि से स्वयं को जलाकर भस्म कर लिया। यह सब कुछ होने के बाद भगवान भोलेनाथ ने उस यज्ञ को विध्वंस कर दिया है। इसके बाद यही सती अगले जन्म में शैलराज हिमालय की पुत्री के रूप में जन्मीं और शैलपुत्री कहलाई। 

इस तरह से करें शैलपुत्री की पूजा

नवरात्रि के पहले दिन स्नान कर लेने के बाद साफ सुथरे कपड़े पहने। इस दिन पीले रंग के कपड़े पहनना ज्यादा शुभ माना जाता है। शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना करने के साथ ही व्रत का संकल्पव लिया। कलश स्थापना कर लेने के बाद मां शैलपुत्री का ध्यान करें।

 अब देवी मां को घी अर्पित करें क्योंकि ऐसा कर लेने से आरोग्य की प्राप्ति होती है। नवरात्रि के पहले दिन शैलपुत्री का मंत्र पढ़े और बाद में स्तोत्र का पाठ व कवच भी पढऩा चाहिए। फिर शाम के वक्त देवी मां की आरती कर प्रसाद बांट दें और अब आप व्रत खोल लें।