BREAKING NEWS

INX मीडिया : चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली राहत, CJI के समक्ष जाएगा मामला ◾राहुल का केंद्र पर वार, कहा-चिदंबरम के चरित्रहनन के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही मोदी सरकार◾चिदंबरम के बचाव में प्रियंका, बोली-केंद्र की असफलताओं को उजागर करने की भुगत रहे है सजा◾उत्तर प्रदेश : योगी कैबिनेट का हुआ विस्तार, 23 मंत्रियो ने ली शपथ ◾कश्मीर मामले पर ट्रंप ने फिर की मध्यस्थता की पेशकश, कहा- PM मोदी से करूंगा बात◾INX मीडिया : चिदंबरम की बढ़ी मुश्किलें, ईडी ने जारी किया लुकआउट नोटिस ◾मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर के निधन पर PM मोदी ने किया शोक व्यक्त ◾भारतीय सेना ने लिया अभिनंदन का बदला, गिरफ्तार करने वाले पाक कमांडो को किया ढेर◾चिदंबरम के लिए कयामत की रात, जेल या बेल पर फैसला सुबह ◾पंजाब, हरियाणा में बनी हुई है बाढ़ की स्थिति◾अयोध्या मामला : हिंदू निकाय ने न्यायालय से कहा: 12 वीं सदी में मंदिर के अस्तित्व का उल्लेख ◾INX मीडिया घोटाला : सीबीआई और ED ने चिदंबरम पर कसा शिकंजा , घर पर लगाया नोटिस, तलाशी अभियान अब भी जारी...◾PM मोदी ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री को फोन कर लंदन में भारतीयों पर हुए हमले का उठाया मुद्दा ◾असम में NRC भारत का आंतरिक मामला : जयशंकर ◾गडकरी और जावड़ेकर ने एम्स जाकर जेटली की सेहत की जानकारी ली ◾अनुच्छेद 370 हटने के बाद बारामूला में पहली मुठभेड़ ◾आम आदमी पार्टी के विधायक संदीप कुमार अयोग्य घोषित◾कश्मीर मुद्दे पर रक्षा मंत्री की US रक्षा मंत्री से बात , राजनाथ बोले - ये हमारा अंदरूनी मसला◾चंद्रयान-2 ने चांद की कक्षा में सफलतापूर्वक किया प्रवेश , अब ISRO का ध्यान ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ पर ◾TOP 20 NEWS 20 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

दिलचस्प खबरें

निर्जला एकादशी : शुभ मुहूर्त एवं पूजा विधि, 13 जून,इस दिन भूलकर भी न करें ये 10 काम

इस साल निर्जला एकादशी 13 जून के दिन है। ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष में पडऩे वाली एकादशी को निर्जला एकादशी कहते हैं। ये पूरे साल जो 24 एकादशी होती हैं उन एकादशियों में सबसे सर्व श्रेष्ठ मानी जाती है। निर्जला एकादशी के दिन बिना पानी पिए और अन्न खाए इस व्रत को किया जाता है। 

निर्जला एकादशी के व्रत में शेषशायी रूप में विराजमान भगवान विष्णु की अराधना की जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि विष्णु जी की पूजा-अर्चना करते वक्त हमें कुछ जरूरी बातों का हमेशा ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि भूल से की गई कुछ गलतियां हो न हो आपके ऊपर ही भाड़ी पड़ सकती है। तो आइए जानते हैं कि ऐसे कौन से काम हैं जिन्हें निर्जला एकादशी के दिन करने से बचना चाहिए।

1.निर्जला एकादशी के दिन विष्णु भगवान की पूजा करने से पुण्य मिलता है। क्योंकि ये व्रत बिना पानी पीए रखा जाता है। इसलिए ब्रम्ह मुहुर्त के बाद से ही पानी नहीं पीना चाहिए। क्योंकि ये त्याग की भावना को दर्शाता है।

2.निर्जला एकादशी के दिन भगवान को धन्यवाद देने के लिए अन्न का भी ग्रहण नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि एक दिन आप बिना कुछ खाए अपने हिस्से का अन्न ऐसे जरूरतमंद को दान कर सकते हैं जिसको अन्न की जरूरत है।

3.निर्जला एकादशी का व्रत उन व्रतों में से है जो बहुत पुण्य फल देने वाले व्रत होते हैं। इस दिन अपने मन को भी शुद्घ रखना चाहिए। एकादशी के दिन कभी गलती से भी किसी की बुराई नहीं करनी चाहिए। ऐसा करने से आपको व्रत का फल कभी नहीं प्राप्त होगा। 

4.इस दिन बड़ों का अपमान भूलकर भी नहीं करना चाहिए। क्योंकि बृहस्पति देव को वरिष्ठ माना जाता है। ऐसे में अगर आप एकादशी के दिन किसी भी बुजुर्ग के साथ गलत शब्दों का प्रयोग करेंगे तो आपका दुर्भाग्य आ सकता है।

5.निर्जला एकादशी ही नहीं बल्कि किसी भी एकादशी के दिन चावल नहीं खाने चाहिए और न ही घर पर चावल बनाने चाहिए। ऐसी मान्यता है कि एकादशी के दिन चावल खाने से प्राणी रेंगने वाले जीव की योनि में जन्म लेता है। 

6.चावल से जुड़ी हुई एक और मान्यता है। ऐसा बोला जाता है कि चावल का संबंध पानी से है और पानी चंद्रमा से प्रेरित  होता है। एकादशी के दिन चावल खाने से पांचों ज्ञान इन्द्रियां और पांचों कर्म इन्द्रियों का मन पर अधिकार नहीं रहता है।

7.एकादशी के दिन भूखे-प्यासे रहने के पीछे शास्त्रों द्घारा बताई गई महत्वपूर्ण बात यह है कि एकादशी के दिन शरीर में पानी की मात्र जितनी कम रहेगी। आपको व्रत पूरा करने में उतनी ही ज्यादा सात्विकता रहेगी।

8.महाभारत काल में भी वेदों का विस्तार करने वाले भगवान व्यास ने पांडव के बेटे भीम को निर्जला एकादशी व्रत रखने का सुझाव दिया था। इस व्रत को स्त्री-पुरुष कोई भी रख सकता है।

9.एकादशी के व्रत के दिन साफ-सफाई का खास ध्यान रखना चाहिए। इस दिन घर में कूड़े का ढ़ेर इकट्ठा नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसा होने पर आपके घर में मां लक्ष्मी नहीं टिकेंगी। 

10.अगर आप निर्जला एकादशी का व्रत करते हैं तो ध्यान रहें आपको दिन में सोने से बचना चाहिए। क्योंकि ये दिन विष्णु भगवान की पूजा के लिए होता है और भगवान विष्णु शयनासन की अवस्था में होते हैं। ऐसे में अगर आप सोते हैं तो इसका अर्थ हुआ आप भगवान विष्णु का आपमान कर रहें हैं। 

जाने एकादशी का शुभ मुहूर्त

एकादशी तिथि आरंभ: 12 जून को शाम 6.27 बजे

एकादशी तिथि समाप्त: 13 जून को शाम 4.49 बजे

एकादशी व्रत: 13 जून 2019 को

व्रत पारण मुहूर्त: 14 जून को सुबह 6.04 बजे से 8.42 के बीच