देहरादून : मैदानी जिलों में दिखाई देने वाली सीपीयू की तर्ज पर अब पहाड़ों में एचपीयू दिखाई देगी। इस संबंध् में सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गयी हैं। एचपीयू हिल पेट्रोल यूनिट के द्वारा किये जाने वाले कार्यो का एक चार्टर भी पुलिस मुख्यालय ने तैयार किया हैं। इसके तहत पर्वतीय क्षेत्रों में वाहन चालकों से यातायात नियमों का पालन कराना जिससे दुर्घटनाओं पर नियंत्रण लगाया जा सकें। यह कार्य भी एचपीयू करेगी।

सुभाष रोड़ स्थित उत्तराखंड पुलिस मुख्यालय में मीडिया कर्मियों को जानकारी देते हुए अपर पुलिस महानिदेशक अपराध् एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया की उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा मैदानी क्षेत्रों में बढ़ते अपराध, यातायात व्यवस्था, चेन स्नैचिंग आदि पर नियन्त्रण करने के उद्देश्य से राज्य के चार मैदानी जनपदों देहरादून, हरिद्वार, ऊधमसिंहनगर व नैनीताल हल्द्वानी में सीपीयू सिटी पेट्रोल यूनिट का संचालन किया जा रहा है। जिसके द्वारा राज्य के उक्त जनपदों में अपराध व सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने का कार्य बखूबी निभाया जा रहा है, जिसकी आम जनता द्वारा सराहना की गई है। सीपीयू की सफलता के उपरान्त पर्वतीय जनपदों में यातायात नियन्त्रण व अन्य आपदा सम्बन्धी कार्यों में त्वरित कार्यवाही हेतु उपलब्ध जनशक्ति से ही एचपीयू हिल पेट्रोल यूनिट स्थापित करने के निर्देश दिये गये हैं।

साथ ही एचपीयू द्वारा कार्य किये जाने का एक चार्टर भी पुलिस मुख्यालय द्वारा तैयार कर भेजा गया है। जिसमें बताया गया हैं कि एचपीयू पर्वतीय क्षेत्रों में वाहन चालकों से यातायात नियमों का पालन करायेगा जिससे दुर्घटनाओं पर नियन्त्रण लगाया जा सके। इसके साथ ही वाहनों की आकस्मिक चैकिंग कर शराब व मादक पदार्थ की तस्करी की रोकथाम भी एचपीयू करेगी। साथ ही आपदा, दुर्घटनाओं की स्थिति में मैडिकल फर्स्ट रिस्पोण्डर के रुप में एचपीयू कार्य करेंगी। इसके लिए उन्हे प्राथमिक उपचार किट आदि उपलब्ध कराई जायेगी। वहीं एचपीयू निःशक्त, असहाय नागरिकों की सहायता भी करेगी।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।