अमेरिका से एक अजीबो गरीब मामला सामने आया है जिसे जानकर आप भी रह जाएंगे दंग ! जी हाँ , वैसे तो आज के समय में कुछ भी हो सकता है। हम जिसके बारे में सोच नही सकते है वो होने लगा है। आज हम आपको ऐसा इसलिए कह रहे है क्योंकि हाल ही में एक महिला के साथ कुछ ऐसा ही हुआ। ये तो सब जानते है कि बीमार होने पर लोग दवाई लेते हैं और डॉक्टर एंटीबॉयोटिक भी देते हैं पर क्या हो जब उस एंटीबॉयोटिक का ऐसा रिएक्शन हो जाए जिसके कारण जीभ पर बाल उग आए। ये जानकर आपको यकीन तो नहीं हो रहा होगा लेकिन ये सच है।

आपको बता दे कि ये पूरा मामला अमेरिका का है जहां अमेरिका के मिसौरी में एक महिला कार हादसे में घायल हो गई। फौरन उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों ने उसका इलाज तो शुरू कर दिया मगर पाया गया कि उसका एक पांव संक्रमित हो चुका है।

उसे ठीक करने के लिए उस महिला को एंटीबायटिक दवाइयां भी दी गईं। दवाई का नाम माईनोसाईक्लाइन (minocycline) था। पर एक हफ़्ते तक दवाई खाने के बाद उसे उल्टियां शुरू हो गईं। साथ ही मुंह का मज़ा भी ख़राब रहने लगा। गज़ब तो तब हो गया जब उसकी ज़बान काली पड़ गई और उसमें बाल उग आए।

जब उसने डॉक्टरों को दिखाया तो पता चला ये सब उस दवाई माईनोसाईक्लाइन की वजह से हुआ है। जब और तफ़सील से जांच हुई तो पता चला ये एक तरह की कंडीशन होती है जिसका नाम है ‘ब्लैक हेयरी टंग’।

medicine

वही , डॉक्टरों का कहना है हालांकि यह एक अस्थाई समस्या है इससे कुछ नुकसान नहीं होता। इसके होने के और भी कारण हैं जैसे मुंह की अच्छे से सफाई न होना, कुछ एंटीबायोटिक का सेवन और गुटखा खाना।

डॉक्टरों ने बताया कि इस घअना के बाद उन्होंने महिला को माइनोसाइक्लाइन देना बंद कर दिया और महिला को जितना हो सके मुंह साफ रखने और ब्रश करने की सलाह दी जिसके बाद एक महीने के अंदर उनकी जीब नॉर्मल हो गई।

अगर आपके जीभ के ऊपर भी जमी है सफेद परत तो , हो जाये सावधान ! पढ़ लें यह खबर