BREAKING NEWS

ईरान में कोरोना संकट के बीच फंसे 275 भारतीयो को दिल्ली लाया गया ◾कोरोना वायरस से अमेरिका में संक्रमितों की संख्या 121,000 के पार हुई, अबतक 2000 अधिक से लोगों की मौत ◾कोरोना संकट : देश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार, मौत का आंकड़ा पहुंचा 24◾कोरोना महामारी के बीच प्रधानमंत्री मोदी आज करेंगे मन की बात◾कोरोना : लॉकडाउन को देखते हुए अमित शाह ने स्थिति की समीक्षा की◾इटली में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,000 के पार, 92,472 लोग इससे संक्रमित◾स्पेन में कोरोना वायरस महामारी से पिछले 24 घंटों में 832 लोगों की मौत , 5,600 से इससे संक्रमित◾Covid -19 प्रकोप के मद्देनजर ITBP प्रमुख ने जवानों को सभी तरह के कार्य के लिए तैयार रहने को कहा◾विशेषज्ञों ने उम्मीद जताई - महामारी आगामी कुछ समय में अपने चरम पर पहुंच जाएगी◾कोविड-19 : राष्ट्रीय योजना के तहत 22 लाख से अधिक सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को मिलेगा 50 लाख रुपये का बीमा कवर◾कोविड-19 से लड़ने के लिए टाटा ट्रस्ट और टाटा संस देंगे 1,500 करोड़ रुपये◾लॉकडाउन : दिल्ली बॉर्डर पर हजारों लोग उमड़े, कर रहे बस-वाहनों का इंतजार◾देश में कोविड-19 संक्रमण के मरीजों की संख्या 918 हुई, अब तक 19 लोगों की मौत ◾कोरोना से निपटने के लिए PM मोदी ने देशवासियों से की प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करने की अपील◾कोरोना के डर से पलायन न करें, दिल्ली सरकार की तैयारी पूरी : CM केजरीवाल◾Coronavirus : केंद्रीय राहत कोष में सभी BJP सांसद और विधायक एक माह का वेतन देंगे◾लोगों को बसों से भेजने के कदम को CM नीतीश ने बताया गलत, कहा- लॉकडाउन पूरी तरह असफल हो जाएगा◾गृह मंत्रालय का बड़ा ऐलान - लॉकडाउन के दौरान राज्य आपदा राहत कोष से मजदूरों को मिलेगी मदद◾वुहान से भारत लौटे कश्मीरी छात्र ने की PM मोदी से बात, साझा किया अनुभव◾लॉकडाउन को लेकर कपिल सिब्बल ने अमित शाह पर कसा तंज, कहा - चुप हैं गृहमंत्री◾

पाकिस्‍तान में कोरोना मरीजों का इलाज करने वाले डॉक्टर की हुई मौत, कुछ दिन पहले ही मिली थी MBBS की डिग्री

भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान में कोरोना वायरस के चलते एक युवा डॉक्टर की जान चली गई है। 20 साल के युवा डॉक्टर रियाज ने कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज करते हुए दम तोड़ दिया। बता दें कि कोरोन वायरस के मरीजों की संख्या पाकिस्तान में 800 से ज्यादा हो गई है। जबकि छह लोगों की जान पाकिस्तान में कोरोना वायरस ने ले ली है। पाकिस्तान में ट्विटर यूजर्स डॉक्टर उसामा की मौत के बाद बहुत दुखी हो गए हैं। उन्होंने अपनी संवेदनाएं अलग-अलग ट्वीट करते हुए की हैं। 

इंफेेक्‍शन हो गया था फेफड़े और दिमाग में



ईरान के ताफ्तान से लौटे मरीज का इलाज डॉक्टर उसामा कर रहे थे। उसी दौरान कोरोना वायरस से वह संक्रमित हो गए। दो दिनों से वहल वेंटीलेटर पर थे और बीते रविवार को उनकी मौत हो गई। गिलगित-बाल्टीस्तान के उसामा रहने वाले थे और अपनी डॉक्टरी की पढ़ाई उन्होंने इसी साल पूरी की थी। गिलगित-बाल्टीस्तान के डीएचक्यू हॉस्पिटल में उन्हें भर्ती किया गया था। गंभी संक्रमण उनके फेफड़े और ब्रेन टिश्यूज में हो गया था। उनकी हालत गंभीर उसके बाद से ही हो गई थी। उसामा को पाकिस्तान के लोगों ने रीयल हीरो का खिताब दे दिया है। 

इमरान खान ने कहा नहीं करेंगे लॉकडाउन


कोरोना वायरस के मामले पाकिस्तान में तेजी से बढ़ रहे हैं। इन सबके बीच देश भर में लॉकडाउन करने से प्रधानमंत्री इमरान खान ने साफ मना कर दिया है। उन्होंने कहा है कि लॉकडाउन देश के हालातों में करना संभव नहीं है क्योंकि गरीबी रेखा से नीचे देश की 25 प्रतिशत आबादी है। बीते रविवार को देशवासियों से इमरान खान ने अपील की कि वह खुद को सेल्फ क्वारंटाइन करने का पालन करें। बता दें कि बीते रविवार को आधी रात से सिंध प्रांत में सरकार ने लॉकडाउन लगा दिया है। 

हवाला दिया गरीबी और अर्थव्यवस्‍था का


रविवार को जनता काे इमरान खान ने संबोधित करते हुए कहा कि अव्यवस्‍था की स्थिति पैदा लॉकडाउन की वजह से हो सकती है। इससे आर्थिक असंतोष पूरे देश में बढ़ जाएगा। बता दें कि पाकिस्तान के सिंध प्रांत में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। इमरान ने बताया है कि यूरोपियन देशों की तरह पाक बीमारी को फैलने से रोकने के लिए शटडाउन जैसे विकल्पों को अपना नहीं सकता है। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्‍था पहले से ही बिखरी हुई है। अगर शेहरों को यूरोपियन देशों की तर्ज पर लॉकडाउन कर दिया गया तो वहां के लोग भूख से मर जाएंगे। 

कितने मरीज कहां पर हैं


पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में कोरोना वायरस के 15 केस हैं तो वहीं पंजाब प्रांत में अब तक 352 केस हैं। पख्तूनख्वां में 31 केस, बलूचिस्तान में 108 केस, गिलगित बाल्टीस्तान में अब तक 71 केस और पीओके में 72 केस हैं। पाकिस्तान में अब तक 5 लोग कोराेना वायरस से ठीक हो गए हैं। देशवासियों से पिछले दिनों इमरान ने कहा है कि अगर उनमें कोरोन के लक्षण नजर आए तो वह डरे नहीं और अपने घर पर ही रहें। इमरान ने दावा किया है कि कोरोना टेस्ट जिन 97 प्रतिशत लोगों के पॉजिटिव आए हैं वह पूरी तरह से स्वस्‍थ हो जाएंगे। सामान्य बुखार की ही तरह हल्का बुखार 90 प्रतिशत लोगों को महसूस  हो सकता है।