पैरेंट्स के अधिकार और जिम्मेदारियों को निजता के नियमों से ऊपर रखते हुए स्पेन के एक कोर्ट ने फैसला दिया कि बच्चों द्वारा सोशल मीडिया के उपयोग पर पैरेंट्स और गार्जियन निगरानी रख सकते हैं, साथ ही WhatsApp मैसेज भी पढ़ सकते। इंटरनेशनल बिजनेस टाइम्स की खबर के मुताबिक, फैसले के बाद ये अधिकार दो बच्चों के तलाकशुदा पिता ने जीत।

कोर्ट ने फैसले में कहा कि, बच्चों को किसी भी तरह के नुकसान से बचाने के लिए सोशल नेटवर्क के होते विकास के साथ-साथ WhatsApp के लिए भी पैरेंट्स द्वारा ध्यान देने और निगरानी रखने की जरुरत है। इस तलाकशुदा पिता को अपनी बेटी का WhatsApp चैट पढ़ने की वजह से गोपनीयता का उल्लंघन करने के आरोप का सामना करना पड़ रहा था। मुकदमा उसके पूर्व पत्नी द्वारा चलवाया गया था। रिपोर्ट में आगे बताया गया कि, उत्तरी स्पेनिश शहर पोंटेवेड्रा में एक अदालत ने 26 दिसंबर को फैसला सुनाया, जिसमें कहा गया कि नाबालिगों द्वारा सोशल नेटवर्क के उपयोग के लिए ‘माता-पिता के ध्यान और सतर्कता की आवश्यकता है।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट