BREAKING NEWS

दिल्ली में हुई हिंसा में मारे गए IB अफसर अंकित शर्मा के परिजनों ने शहीद का दर्जा देने की मांग◾CAA को लेकर अमित शाह का ममता और कांग्रेस पर करारा वार - 'अरे इतना झूठ क्यों बोलते हो'◾निर्भया मामला : फांसी के सजा को उम्रकैद में बदलने के लिए दोषी पवन ने दी याचिका ◾कांग्रेस के अलावा 6 अन्य विपक्षी ने भी राष्ट्रपति कोविंद को लिखा पत्र, दिल्ली हिंसा के आरोपियों पर दर्ज हो FIR◾दिल्ली हिंसा : मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 41, पीड़ितों से मिलने पहुंचे LG अनिल बैजल ◾रविशंकर प्रसाद का कांग्रेस पर वार, बोले- राजधर्म का उपदेश न दें सोनिया◾प्रधानमंत्री मोदी के आगमन से पहले छावनी में तब्दील हुआ प्रयागराज, जानिये 'विश्व रिकार्ड' बनाने का पूरा कार्यक्रम ◾ ताहिर हुसैन के कारखाने में पहुंची दिल्ली फोरेंसिक टीम, जुटाए हिंसा से जुड़े सबूत◾जानिये कौन है IB अफसर की हत्या के आरोपी ताहिर हुसैन, 20 साल पहले अमरोहा से मजदूरी करने आया था दिल्ली ◾एसएन श्रीवास्तव नियुक्त किये गए दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर, कल संभालेंगे पदभार ◾जुमे की नमाज़ के बाद जामिया में मार्च , दिल्ली पुलिस के लिए चुनौती भरा दिन◾CAA को लेकर आज भुवनेश्वर में अमित शाह करेंगे जनसभा को सम्बोधित ◾CAA हिंसा : उत्तर-पूर्वी दिल्ली में अब हालात सामान्य, जुम्मे के मद्देनजर सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम कायम◾CAA को लेकर BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा बोले - कांग्रेस जो नहीं कर सकी, PM मोदी ने कर दिखाया◾Coronavirus : चीन में 44 और लोगों के मौत की पुष्टि, दक्षिण कोरिया में 2,000 से अधिक लोग पाए गए संक्रमित ◾भारत ने तुर्की को उसके आंतरिक मामलों पर टिप्पणी करने से बचने की सलाह दी◾राष्ट्रपति कोविंद 28 फरवरी से 2 मार्च तक झारखंड और छत्तीसगढ़ के दौरे पर रहेंगे◾संजय राउत ने BJP पर साधा निशाना , कहा - दिल्ली हिंसा में जल रही थी तो केंद्र सरकार क्या कर रही थी ?◾PM मोदी 29 फरवरी को बुंदेलखंड एक्स्प्रेस-वे की रखेंगे नींव◾दिल्ली हिंसा : SIT ने शुरू की जांच, मीडिया और चश्मदीदों से मांगे 7 दिन में सबूत◾

इन 8 फ़ोटोज़ के जरिए एक फ़ोटोग्राफ़र ने ग्लेशियर्स के पिघलने को बताया हानिकारक

हिमलाय में ग्लेशियर का पिघलना कोई नई बात नहीं है। ग्लेशियर सदियों से पिघलकर नदियों के रूप में लोगों को जीवन देते रहे हैं। लेकिन पिछले दो-तीन दशकों में ग्लोबल वॉर्मिग के कारण पर्यावरण को पहुंचने वाली मुसीबतों की वजह से इनके  पिघलने की गति में जो तेजी आई है। जो एक चिंता का विषय है। बता दें कि इसका दुष्टïपरिणाम केवल पर्यावरण पर ही नहीं बल्कि हम सभी पर भी पड़ रहा है। इसकी वजह से गर्मियों के दिनों में भयानक गर्मी की हो रही है वहीं सर्दियां भी अब ठंड का एहसास नहीं करा रही है। इससे पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंच रहा है।  इस पूरी घटना को एक फोटाग्राफर जिनका नाम Dillon Marsh हैं। उन्होंने अपनी फोटोग्राफी में CGI Elements का इस्तेमाल करके हमें समझाने की कोशिश भी की है। 

 1.Naradu Glacier पर हर मिनट गिरती बर्फ़ की औसत मात्रा 7.06 क्यूबिक मीटर है। 


2. हिमाचल प्रदेश पर बर्फ़ की प्रति मिनट औसत मात्रा 18.64 क्यूबिक मीटर है। 




3.हर एक घंटे में नर ग्लेशियर कश्मीर पर 92.58 घन मीटर की औसत मात्रा से बर्फ गिर रही है।

4.चंगमेखंगपु सिक्किम पर हर मिनट तकरीबन 3.09 क्यूबिक मीटर बर्फ पिघल रही है।

5.ग्लेशियर उत्तराखंड पर हर आधे धंटे में 62.15 घन मीटर बर्फ  पिघल रही है।

6.उत्तराखंड डोकरेनी ग्लेशियर में हर मिनट 6.78 घन मीटर बर्फ पिघल जाती है।

7.उत्तराखंड के दुनागिरी ग्लेशियर में हर मिनट में पिघलने वाली बर्फ की औसत मात्रा 2.55 घन मीटर है। 

8.हिमाचल प्रदेश के गारा ग्लेशियर में हर घंटे 176.6 घन मीटर बर्फ पिघल जाती है। 

Dillon ने बताया मैंने एक वैज्ञानिक रिपोर्ट के मुताबिक डेटा इकट्ठा करके सीजीआई का इस्तेमाल करते हुए बर्फ के मॉडल बनाए और उन्हें विशिष्ट मानव वातावरण में रखा। ऐसे में हमारा उद्देश्य उन नाटकीय जलवायु परिवर्तनों की ओर ध्यान आकर्षित करना है। जो हमारे रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़े हुए हैं लेकिन इस सब पर हमारा ध्यान कभी नहीं जाता है। ये 'Counting the Costs' नामक एक परियोजना है। 

जो एक वैश्विक परियोजना है। इसका मतलब है कि  हम इन गेंदों को पूरी दुनिया में देखने जा रहे हैं। लेकिन भारत को उन्होंने सबसे पहले इसलिए चुना है क्योंकि  ये देश दुनिया के कुछ सबसे ऊंचे पहाड़ों का घर है।