BREAKING NEWS

डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई : CM केजरीवाल◾शिया वक्फ बोर्ड ने तबलीगी जमात पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- 1 लाख से ज्यादा लोग मारने की बनाई थी योजना◾कोरोना वायरस : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में आवश्यक उपकरणों का स्टॉक मौजूद, PPE और वेंटिलेटर की खरीद शुरु◾देश में कोरोना फैलने के लिए अनिल देशमुख ने दिल्ली पुलिस को ठहराया जिम्मेदार◾कोरोना संकट से जारी जंग में मदद के तौर पर केंद्र सरकार ने राज्यों के लिए आपात पैकेज की दी मंजूरी◾महाराष्ट्र कैबिनेट ने उद्धव ठाकरे को MLC बनाने का लिया निर्णय, राज्यपाल को भेजेंगे प्रस्ताव ◾कोरोना संकट : ओडिशा सरकार ने 30 अप्रैल तक बढ़ाई लॉकडाउन की अवधि, केंद्र से किया ये अनुरोध◾गुजरात में कोरोना के 55 नए मरीज, अकेले अहमदाबाद के 50 लोग हुए संक्रमित◾PM मोदी ने किया ट्रम्प का समर्थन, कहा- मुश्किल वक्त ही दोस्तों को लाती है करीब◾जमात प्रमुख मौलाना साद के ठिकाने का हुआ खुलासा, पुलिस फिलहाल नहीं करेगी पूछताछ ◾झारखंड में कोरोना वायरस से 1 की मौत, मरीजों की संख्या एक दिन में तिगुनी हुई ◾Coronavirus : अमेरिका में मरने वालों की संख्या 14000 के पार, 11 भारतीयों के मौत की पुष्टि◾चीन में कोविड-19 के 63 नए मामलें सामने आए, अबतक करीब 3,335 लोगों की हुई मौत ◾पूरे विश्व कोरोना वायरस का कहर जारी, अब तक वायरस से संक्रमितों की संख्या 15 लाख से अधिक हुई ◾कोविड-19 : देश में 5,734 संक्रमित मामलों की पुष्टि वहीं 166 लोगों की अब तक मौत◾Covid-19 : दवा मिलने पर भारत के फैसले से डोनाल्ड ट्रम्प के सुर बदले नजर आए, कहा- थैंक्यू PM मोदी ◾कोरोना संकट : सरकार ने 20 करोड़ महिलाओं के जनधन खातों में पांच-पांच सौ रूपये की सहायता राशि डाली ◾देश में कोरोना का कहर जारी, वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या पांच हजार के पार,140 से ज्यादा लोगों की मौत◾जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों के खिलाफ होगा मामला दर्ज, दिया हुआ समय-सीमा समाप्त : अनिल विज ◾Covid 19 : लखनऊ समेत 15 जिलों में चुनिंदा इलाकों को किया जायेगा सील◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaLast Update :

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जानिए कब है पौष पुत्रदा एकादशी, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, व्रत कथा और महत्‍व

हिंदू शास्‍त्र के मुताबिक 24 एकादशियां साल में आती हैं। उसमें से पुत्रदा एकादशी दो को बताया गया है। श्रावण और पौष शुक्ल पक्ष में पुत्रदा एकादशी आती है। साल की पहली एकादशी पुत्रदा एकादशी होती है जो 6 जनवरी 2020 को इस साल आ रही है। 

हिंदू धर्म में विशेष महत्व पुत्रदा एकादशी का सारी एकादशियों में दिया गया है। मान्यता है कि योग्य संतान की प्राप्ति इस व्रत को रखने से होती है। साथ ही संतान की तरक्की के लिए भी इस व्रत को बताया गया है। 

सृष्टि के पालनहार श्री विष्‍णु भगवान की पूजा इस दिन की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि पुत्रदा एकादशी का व्रत जो भक्त अपनी पूरी आस्‍था से रखता है उसे संतान का सुख प्राप्त होता है। इसके साथ ही ऐसी मान्यता है कि पुत्रदा एकादशी की व्रत कथा जो कोई भी पढ़ता है, सुनता है या सुनाता है उसे स्वर्ग की प्राप्ति होती है। 

ये है पुत्रदा एकादशी की व्रत विधि

भगवान विष्‍णु का स्मरण एकादशी के दिन सुबह उठकर करना चाहिए। 

स्वच्छ वस्‍त्र उसके बाद स्नान करके धारण कर लें। 

फिर भगवान विष्‍णु के सामने दीपक जलाकर अपने व्रत का संकल्प करें और साथ में कलश की स्‍थापना भी करें।

उसके बाद लाल वस्‍त्र कलश में बांधकर पूजा करें। 

विष्‍णु जी की प्रतिमा को स्नान कराके वस्‍त्र धारण कराएं। 

उसके बाद नैवेद्य और फलों का भोग भगवान विष्‍णु को लगाएं। 

फिर धूप-दीप दिखाकर विधिवत् पूजा और अर्चना विष्‍णु भगवान की करें साथ में आरती भी करें। 

निराहर इस दिन रहें। उसके बाद शाम को कथा सुनने के बाद फलाहार खा लें। 

ब्राह्मणों को दूसरे दिन खाना खिलाएं और व्रत का पारण यथा सामर्थ्य दान देकर करें। 

ये है पुत्रदा एकादशी की कथा

बहुत प्रचलित है इस व्रत के बारे में यह कथा। राजा महीजित द्वापर युग में थे और वह धर्मप्रिय और विद्वान थे। लेकिन उनकी कोई संतान नहीं थी जिसका उन्हें बहुत दुख था। गुरु लोमेश जी को उन्होंने अपनी व्यथा सुनाई। लोमेश ने राजा को बताया कि इस जन्म में संतान का सुख पिछले जन्म के पापों की वजह से नहीं मिल पाया है। 

इसके अलावा लोमेश जी ने राजा से कहा कि अगर वह पुत्रदा एकादशी का व्रत विधिविति रूप से रखेंगे तो उन्हें पुत्र की प्राप्ति होगी। हालांकि लगातार कुछ सालों तक राजा ने यह व्रत रखा और उन्हें एक सुंदर से पुत्र की प्राप्ति हुई। पद्मपुराण में यह कथा आती है। इसके अलावा आप श्री विष्‍णुसहस्‍त्रनाम का पाठ इस दिन जरूर करें।