हरिद्वार: पुलिस ने वाहन चोर गिरोह के छह सदस्यों को पीरबाबा कॉलोनी के पास से गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गये सभी आरोपी मेरठ के रहने वाले हैं और रुड़की और हरिद्वार से अब तक 17 वाहन चोरी कर चुके हैं। वहीं मेरठ, मुजफ्फरनगर से भी अभी तक पांच वाहनों को चोरी करने की बात कबूल की है। आरोपी वाहनों को चोरी कर मेरठ के एक कबाड़ी को पांच-पांच हजार रुपये में बेच देते थे। कोतवाली सिविल लाइंस में आयोजित पत्रकार वार्ता में पुलिस अधीक्षक देहात मणिकांत मिश्र ने बताया कि रुड़की शहर में पिछले कुछ दिनों से बैंक, अस्पताल के अलावा अन्य भीड़भाड़ वाले स्थानों से वाहन चोरी की लगातार घटनाएं हो रही थी। इसे देखते हुये सिविल लाइंस कोतवाल ऐश्वर्य पाल के नेतृत्व में पुलिस एसओजी की टीम को लगाया गया था।

इसी बीच किसी ने सूचना दी कि गिरोह के सदस्य पीरबाबा कॉलोनी से होते हुये कहीं जा रहे हैं। इस पर पुलिस ने घेराबंदी करते हुये छह सदस्यों को पकड़ लिया। आरोपियों के पास से तीन चोरी के वाहन बरामद किये गये। कोतवाली में लाकर पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि रुड़की से 14 और रानीपुर कोतवाली क्षेत्र से तीन वाहन चोरी कर चुके हैं। गिरोह के अन्य सदस्यों में सुधीर शर्मा पुत्र रामकुमार शर्मा निवासी चक्कीवाली गली सरधना रोड दौराला मेरठ, अमित भड़ाना पुत्र धनपाल निवासी काजीपुर थाना खरखौदा मेरठ, नीरज जाटव पुत्र योगेश निवासी मुंडालीवाला मोहल्ला मलियाना थाना टीपी नगर मेरठ, दिनेश जाटव पुत्र राजेश निवासी कुंएवाला मोहल्ला मसूरी थाना इंचौली मेरठ, हिमांशु जाटव पुत्र चंद्रशेखर निवासी बेरीपुरा थाना टीपी नगर मेरठ है। सभी से पूछताछ की जा रही है।

– संजय चौहान