BREAKING NEWS

निर्भया : घटना के दिन नाबालिग होने का दावा करते हुए पवन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट◾PM मोदी ने मंत्रियों से कहा, कश्मीर में विकास का संदेश फैलाएं और गांवों का दौरा करें ◾भाजपा ने अब तक 8 पूर्वांचलियों पर लगाया दांव◾यूरोपीय संघ के उच्च प्रतिनिधि ने PM मोदी से भेंट की◾दिल्ली पुलिस आयुक्त को NSA के तहत मिला किसी को भी हिरासत में लेने का अधिकार◾न्यायालय से संपर्क करने से पहले राज्यपाल को सूचित करने की कोई जरूरत नहीं : येचुरी◾ममता ने एनपीआर,जनसंख्या पर केन्द्र की बैठक में नहीं लिया भाग◾सिंध में हिंदू समुदाय की लड़कियों के अपहरण को लेकर भारत ने पाक अधिकारी को किया तलब◾नड्डा का 20 जनवरी को निर्विरोध भाजपा अध्यक्ष चुना जाना तय◾हमें कश्मीर पर भारत के रुख को लेकर कोई शंका नहीं है : रूसी राजदूत◾IND vs AUS : भारत की दमदार वापसी, ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराया, सीरीज में बराबरी◾दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए 48 और नामांकन दाखिल◾राउत को इंदिरा गांधी के बारे में टिप्पणी नहीं करनी चाहिए थी : पवार◾कश्मीर में शहीद सलारिया का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार, दो महीने की बेटी ने दी मुखाग्नि ◾बुलेट ट्रेन परियोजना के लिये भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया के खिलाफ याचिकाओं पर न्यायालय करेगा सुनवाई ◾चुनाव में ‘कांग्रेस वाली दिल्ली’ के नारे के साथ प्रचार में उतरी कांग्रेस◾यूपी सीएम योगी ने हिमस्खलन में कुशीनगर के शहीद जवान की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया◾TOP 20 NEWS 17 January : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾निर्भया के गुनहगारों का नया डेथ वारंट जारी, 1 फरवरी को सुबह 6 बजे होगी फांसी◾दिल्ली चुनाव के लिए BJP ने जारी की 57 उम्मीदवारों की पहली सूची◾

पीएम मोदी के धारा 370 के बाद राष्ट्र को पहली बार संबोधित करने से 'डर’ में थे ट्विटर यूजर्स,दिए ऐसे रिएक्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय संविधान से अनुच्छेद 370 को हटा देने के बाद पहली बार राष्ट्र को गुरुवार यानि 8 अगस्त को संबोधित किया है। इतना ही नहीं पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पहले से ही जनता से सराहना प्राप्त कर रहे हैं क्योंकि प्रस्ताव को गृह मंत्री द्वारा आगे रखा गया जबकि संसद के दोनों सदनों से ये पारित भी किया गया था।

पीएम मोदी ने कल रात 8 बजे देश को संबोधित करते हुए और जम्मू-कश्मीर एंव लद्दाख के निवासियों को अपना यह संदेश दिया कि जम्मू-कश्मीर का केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा स्थायी होगा। उन्होंने ये भी कहा कि जब से गवर्नर रूल वहां पर लागू किया गया है,तब से जमीन पर सुशासन और विकास देखा गया है। 

इतना ही नहीं पीएम मोदी ने वहां पर रहने वाले लोगों और केंद्रशासित प्रदेश में बदलने के बाद क्या-क्या बदलाव देखे जा सकते हैं,उन्होंने इसके बारे में विस्तार से बात भी कही है।

लेकिन अब जब ये संबोधन समाप्त हो गया तब तो राष्ट्र को आराम है क्योंकि हर कोई इस बात से परेशान था कि पीएम मोदी इस बार क्या करने वाले हैं जिससे लोगों की जिंदगी में फिर से कोई नया बदलाव देखने को मिलेगा। क्योंकि 8 नवंबर 2016 के बाद,जिस दिन विमुद्रीकरण की घोषणा करी गई थी। तब से ही भारत के लोग हर बार पीएम नरेंद्र मोदी को राष्ट्र को संबोधित करने का फैसला करते हैं।

लेकिन इसी बीच सोशल मीडिया यूजर्स ने अपने डर और राहत दोनों ही चीजों को व्यक्त किया है। जबकि कई सारे यूजर्स ने तो मीम्स के जरिए अपनी बात कह डाली। तो आइए देख लीजिए आप भी।