BREAKING NEWS

भाजपा के 11वें अध्यक्ष पद के लिए जेपी नड्डा ने दाखिल किया नामांकन◾परीक्षा पे चर्चा 2020 : छात्रों से बोले PM मोदी-टेक्नोलॉजी को अपना दोस्त बनाएं, उसके गुलाम न बनें◾मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रॉबर्ट वाड्रा के करीबी सीसी थंपी को ईडी ने किया गिरफ्तार◾CAA को लेकर चंद्र कुमार बोस बोले-लोकतांत्रिक देश के नागरिकों पर कोई कानून नहीं थोप सकते◾पंचतत्व में विलीन हुए श्री अश्विनी कुमार चोपड़ा 'मिन्ना जी' ◾BJP के पूर्व सांसद और वरिष्ठ पत्रकार अश्विनी कुमार चोपड़ा जी का निगम बोध घाट में हुआ अंतिम संस्कार◾पंचतत्व में विलीन हुए पंजाब केसरी दिल्ली के मुख्य संपादक और पूर्व भाजपा सांसद श्री अश्विनी कुमार चोपड़ा◾अश्विनी कुमार चोपड़ा - जिंदगी का सफर, अब स्मृतियां ही शेष...◾करनाल से बीजेपी के पूर्व सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा के निधन पर राजनाथ सिंह समेत इन नेताओं ने जताया शोक ◾अश्विनी कुमार की लेगब्रेक गेंदबाजी के दीवाने थे टॉप क्रिकेटर◾PM मोदी ने वरिष्ठ पत्रकार और पूर्व सांसद अश्विनी चोपड़ा के निधन पर शोक प्रकट किया ◾पंजाब केसरी दिल्ली के मुख्य संपादक और पूर्व भाजपा सांसद श्री अश्विनी कुमार जी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि ◾निर्भया गैंगरेप: अपराध के समय दोषी पवन नाबलिग था या नहीं? 20 जनवरी को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾सीएए पर प्रदर्शनों के बीच CJI बोबड़े ने कहा- यूनिवर्सिटी सिर्फ ईंट और गारे की इमारतें नहीं◾कमलनाथ सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे MLA मुन्नालाल गोयल, घोषणा पत्र में किए गए वादों को पूरा नहीं करने का लगाया आरोप ◾नवाब मलिक बोले- अगर भागवत जबरदस्ती पुरुष की नसबंदी कराना चाहते हैं तो मोदी जी ऐसा कानून बनाए◾संजय राउत ने सावरकर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना, बोले- विरोध करने वालों को भेजो जेल, तब सावरकर को समझेंगे'◾दोषियों को माफ करने की इंदिरा जयसिंह की अपील पर भड़कीं निर्भया की मां, बोलीं- ऐसे ही लोगों की वजह से बच जाते हैं बलात्कारी◾पाकिस्‍तान: सुप्रीम कोर्ट ने देशद्रोह मामले में फैसले के खिलाफ मुशर्रफ की याचिका पर सुनवाई से किया इनकार ◾सीएए और एनआरसी के खिलाफ लखनऊ में महिलाओं का प्रदर्शन जारी◾

इस अनोखे गांव में घरों में नहीं लगते ताले,शनिदेव स्वयं हैं यहां के 'चौकीदार'

ऐसा माना जाता है कि हिंदु धर्म में शनिदेव न्याय के देवता होते हैं। पौराणिक मान्यताओं के मुताबिक शनिदेव कर्म को देखकर फल अर्पित करते हैं और न्याय भी करते हैं। वैसे तो हमारे देश में बहुत सारे ऐसे शनि मंदिर हैं जहां शनिदेव की पूजा-अर्चना की जाती है। लेकिन इनमें से एक अनोखा शनि शिंगणापुर है। यह मंदिर महाराष्ट्र के अहमद नगर जिले में स्थित है। इस मंदिर में शनिदेव के इंसाफ  पर लोगों को पूर्ण विश्वास है। इसलिए तो वह लोग अपने घरों के दरवाजों पर ताले तक नहीं लगाते हैं। बता दें कि इस मंदिर इंसाफ  का मंदिर भी कहा जाता है। 

इस शनि मंदिर की सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि यहां पर शनि देवी की प्रतिमा खुले आसमान के नीचे है। इस मंदिर पर कोई भी छत नहीं है। इतना ही नहीं इस गांव के किसी भी घर में कभी ताला नहीं लगाया जाता है। न ही आस-पास की दुकानों पर ताला लगाया जाता है ऐसा कहा जाता है कि यहां पर शनि देव खुद सभी लोगों के घर की रक्षा करते हैं। 

इस गांव में यह परंपरा कई वर्षों से चली आ रही है। यहाँ पर भक्त बताते हैं कि इस गांव में रहने वाला हर एक इंसान अपने आप को  भय से मुक्त समझता है,क्योंकि यहां के कण-कण में शनिदेव बसे हुए हैं। हर एक घर और हर एक व्यक्ति पर शनिदेव की नजर टिकी हुई है। इसलिए जो भी व्यक्ति गलत काम करता है उसे उसके कर्मो का  फल जरूर मिलता है।

 ये भी मान्यता है की जो भी इस गांव में बुरी नीयत से आता है, वो पूरी तरह बर्बाद हो जाता है। यहां पर जो शनिदेव का मंदिर हजारों साल पुराना। कहा जाता है कि जिस भी इंसान की कुंडली में शनि का दोष होता है वो लोग इस मंदिर अपने दोष दूर करने के लिए आते हैं और शनिदेव को तेल चढ़ाते हैं। 

यहां पर शनिवार और अमावस्या के दिन दूर-दूर से भक्त पूजा करने के लिए आते हैं। यहां पर शनिदेव की प्रतिमा की पूजा खुले आसमान के नीचे की जाती है। ऐसा बताया जाता है कि जिसने भी शनिदेव की प्रतिमा के ऊपर छत बनाने की कोशिश की है वह कभी अपने काम में सफल नहीं हो पाया है।