हमीरपुर  : हमीरपुर जिले के नादौन विधानसभा क्षेत्र में छह पक्षीय मुकाबले में हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख सुखविंदर सिंह सुक्खु जीत के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं। वर्ष 2012 के चुनाव में उन्हें यहां से हार का मुंह देखना पड़ था और अब वह यहां से जीत की इबारत लिखना चाहते हैं। इस बार भी उनका मुकाबला अपने पुराने प्रतिद्वंद्वी भाजपा के यहां से वर्तमान विधायक विजय अग्निहोत्री से हैं। पिछले चुनाव में अग्निहोत्री ने सुक्खु को 6,750 मतों के अंतर से हराया था।

कांग्रेस के दिग्गज नेता सुक्खु दर-दर जाकर मतदाताओं को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने पूरा ध्यान नादौन पर केंद्रित कर रखा है और घिरथ समुदाय तथा महिलाओं के मतों पर उनकी उम्मीदें टिकी हैं। यहां विधानसभा चुनाव नौ नवंबर को होने हैं। निर्वाचन क्षेत्र में कुल 86,814 मतदाता हैं जिनमें से 42,180 पुरुष तथा 42,868 महिला मतदाता हैं। यहां 1,766 सर्विस मतदाता (सेना में पदस्थ और देश के बाहर पदस्थ सरकारी अधिकारी) भी हैं। यहां मतदान प्रतिशत काफी अधिक रहता आया है।

प्रेम कुमार धूमल का नाम मुख्यमंत्री पद के लिए घोषित करने के साथ ही हमीरपुर जिले में सभी पांच निर्वाचन क्षेत्रों में भाजपा उम्मीदवारों के हौसले बुलंद हो गए हैं। नादौन में भी यही स्थिति है। सुक्खु और मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बीच कटुता किसी से छिपी नहीं है, ऐसे में सिंह के समर्थक सुक्खु के लिए चुनाव में कोई दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। मतदाताओं को लुभाने के लिए सुक्खु एक के बाद एक गांव का दौरा कर रहे हैं। वह जनता को बता रहे हैं कि उन्होंने और कांग्रेस ने इस क्षेत्र के लिए क्या-क्या किया है। इन दौरों में उनकी पत्नी कमलेश कुमारी भी उनके साथ हैं जो क्षेत्र की महिलाओं के समूह को साथ लेकर जनता से अपने पति और पार्टी के पक्ष में मतदान करने का अनुरोध कर रही हैं।