जैसा की आप और हम सभी लोगों को मालूम है कि ज्योतिषशास्त्र में कई तरह के शकुन-अपशकुन होते है। जैसे कई बार हाथ से खाना गिर जाना या फिर गैस पर से उबलता हुए दूध का बाहर गिर जाना लोग इसे सामान्य बात समझकर नजर अंदाज कर देते हैं। लेकिन ज्योतिषशास्त्र में ऐसे खाने की चीजों के गिरने को शुभ -अशुभ संकेतो से जोड़ा जाता है।

1.दूध का गिरना

ज्योतिषशास्त्र में सफेद चीजें जैसे दूध,दही का संबंध चंद्रमा से बताया गया है। दूध को उबलते समय यदि बर्तन से बाहर गिर जाए तो इसका मतलब आपके घर से सुख और समृद्घि जा रही है। ये परिवार के सदस्यों की तरफ मानसिक परेशानियों को बढऩे की ओर संकेता देता है। दूध या फिर दूध से बनी चीजों के गिरने का मतलब होता है परिवार में कोई बहुत बड़ा संकट आने वाला है।

2.नमक का गिर जाना

हम रोजमर्रा के दिनों में नमक का प्रयोग करते हैं। नमक सिर्फ खाने के लिए ही कम नहीं आता बल्कि नजरदोष को दूर करने में भी काम आता है। कई सारे देशों में तो नामक को दुर्भाग्य और विवाद का सूचक भी कहा जाता है। कहा जाता है कि यदि हाथ में कभी नमक गिर जाए तो शुक्र और चंद्रमा कमजोर होता है। वहीं हाथ से काली मिर्च गिरने का मतलब होता है आपके रिश्तेदारों के साथ आपके रिश्ते खराब होने वाले हैं।

3.चावल गिरने का मतलब

गेंहू,चावल या फिर कोई खाद्य पदार्थ अगर नीचे गिर जाए तो इसका मतलब है कि देवी अन्नापूर्ण और देवी लक्ष्मी मां आपसे नाराज हो सकती हैं। यदि आपके गलती से भी कोई खाने की चीज नीचे गिर जाए तो आप उसे उठाकर माथे पर लगाकर चूम लें और अन्नपूर्णा से क्षमा मांग लें।

4.पति की निशानी

सुहाग की निशानी या फिर सिंदूर जमीन पर गिर जाए तो आप समझ जाए कि आपके पति के ऊपर कोई बड़ी मुसीबत आने वाली है। ये पति की दुर्घटना का संकेत भी हो सकता है। इससे आपको व्यापार में भी नुकसान हो सकता है। अगर आपके हाथ से पानी का गिलास भी गिर जाए तो ये भी आपके लिए एक अशुभ संकेत हो सकता है।

5.तेल का गिरना

खाने में इस्तेमाल किए जाने वाले तेल का गिरना भी अशुभ माना जाता है। तेल के गिरने का मतलब बड़े कर्ज में डूबने का संकेत हो सकता है। ये घर में दरिद्रता का संकेता देता है। यदि पूजा करते वक्त भी थाली नीचे गिर जाए तो माना जाता है कि आपके द्वारा की गई पूजा सफल नहीं हो पाई है। वैसे पूजा के दौरान दीपक का बुझना भी अशुभ संकेत होता है।