BREAKING NEWS

जम्मू-कश्मीर में आतंकी घटनाओं में आई बड़ी गिरावट, सरकार ने राज्यसभा में बताया पिछले एक साल में इतने जवान हुए शहीद ◾UP चुनाव : BJP ने खेला धार्मिक कार्ड, केशव मौर्य का नारा 'अयोध्या-काशी.... जारी, अब मथुरा की तैयारी' ◾अखिलेश का BJP पर कटाक्ष, बोले- जिनके पास परिवार नहीं है, वे जनता का दर्द नहीं समझ सकते ◾दिल्ली में 8 रुपए सस्ता हुआ पेट्रोल, केजरीवाल सरकार ने VAT में कटौती का किया ऐलान◾SKM का दावा '700 से ज्यादा किसानों ने गंवाई जान', तोमर बोले- सरकार के पास मौतों का कोई रिकॉर्ड नहीं...◾4 दिसंबर को होगी SKM की अहम बैठक, रणनीति को लेकर होगी बड़ी घोषणा, टिकैत बोले- आंदोलन रहेगा जारी ◾मप्र में शिवराज सरकार के लिए मुसीबत का सबब बने भाजपा के नेताओं के विवादित बयान ◾निलंबन के खिलाफ महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने विपक्ष का प्रदर्शन, राहुल समेत कई नेता हुए शामिल ◾EWS वर्ग की आय सीमा मापदंड पर केंद्र करेगी पुनर्विचार, SC की फटकार के बाद किया समिति का गठन ◾Today's Corona Update : एक दिन में 8 हजार से ज्यादा नए मामले, 1 लाख से कम हुए एक्टिव केस◾जम्मू-कश्मीर : पुलवामा मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के शीर्ष कमांडर समेत 2 आतंकी ढेर◾Winter Session: लोकसभा में आज 'ओमिक्रॉन' पर हो सकती है चर्चा, सदन में कई बिल पेश होने की संभावना ◾महंगाई : महीने की शुरुआत में कॉमर्श‍ियल सिलेंडर की कीमतों में हुआ इजाफा, रेस्टोरेंट का खाना हो सकता है मंहगा◾UPTET 2021 पेपर लीक मामले में परीक्षा नियामक प्राधिकारी संजय उपाध्याय गिरफ्तार◾कोरोना के नए वेरिएंट के बीच भारतीय एयरलाइन कंपनियों ने दोगुनी की कीमतें, जानिए कितना देना होगा किराया ◾IPL नीलामी से पहले कोहली, रोहित, धोनी रिटेन ; दिल्ली की कमान संभालेंगे ऋषभ पंत, पढ़ें रिटेंशन की पूरी लिस्ट ◾गृह मंत्री अमित शाह दो दिन के राजस्थान दौरे पर जाएंगे, BSF जवानों की करेंगे हौसला अफजाई◾पंजाबः AAP नेता चड्ढा ने सभी राजनीतिक दलों पर लगाया आरोप, कहा- विधानसभा चुनाव में केजरीवाल बनाम सभी पार्टी होगा◾'ओमिक्रॉन' के बढ़ते खतरे के बीच क्या भारत में लगेगी बूस्टर डोज! सरकार ने दिया ये जवाब ◾2021 में पेट्रोल-डीजल से मिलने वाला उत्पाद शुल्क कलेक्शन हुआ दोगुना, सरकार ने राज्यसभा में दी जानकारी ◾

यह मादा भालू जेल में बंद है 730 कैदियों के साथ, उम्रकैद की सजा काट रही है

कजाखस्तान की कोस्टनी जेल में 730 कैदी हैं और उनमें से ज्यादातर कैदियों ने गंभीर अपराध किए हैं जिसकी वजह से वह अपनी सजा भुगत रहे हैं। इस जेल में 729 इंसानों के साथ एक कैदी है जिसका नाम कैट्या है। कैट्या एक मादा भालू है और इसकी उम्र 36 साल की है।

\"\"

बता दें कि उम्रकैद की सजा कैट्या को सुनाई है। कजाखस्तान में ज्यादातर अपराधियों को 25 साल तक की कैद की सजा सुनाई जाती है लेकिन कैट्या को उम्रकैद की सजा दी गई और वह इसी जेेल में हमेशा रहेगी।

कैट्या को किस बात की सजा मिल रही है?

अब आप सबके मन में यही सवाल आ रहा है कि आखिर इस भालू ने ऐसा कौन सा गुनाह किया था जो इसे जेल में बंद कर दिया गया है। बता दें कि 2004 में कैट्या को जेल की सजा मिली थी। कैट्या को जेल में बंद करने के लिए विशेष रूप से लोहे का पिंजरा बनवाया गया था। दो इंसानों पर हमला करने के लिए कैट्या को जेल की सजा मिली है।

\"\"

कैट्या ने हमला किया था 11 साल के बच्चे पर

कैट्या को छोटी सी उम्र में उसके बिरादरी वालों ने सर्कस वालों ने बाहर कर दिया था। उसके बाद कैट्या को कैंपिंग साइट ने पिंजरे में रख दिया था। वहां पर जितने भी लोग आते थे वह कैट्या को देखते थे और उसे खाने के लिए कई सारे फल भी देते थे। कैट्या आकर्षण का केंद्र बन गया था।

  \"\"

कैट्या ने 15 साल पहले एक 11 साल के बच्चे पर हमला कर दिया था। उस समय किक बॉक्सिंग टूर्नामेंट हो रहा था और उसी समय एक बच्चा उसके पास आया और उसे खिलाने लगा। कैट्या ने उस बच्चे की टांगे पकड़ ली और अपनी तरफ खींच लिया जिसके बाद बच्चा बुरी तरह से घायल हो गया था।

अंधेरा छा गया था मेरी आंखों के आगे

उस बच्चे ने कजाख मीडिया से बात करते हुए कहा था, मैं उसे खाना देने गया था। उसने पिंजरे के अंदर से ही मेरा पैर खींच लिया। इसके बाद मुझे कुछ याद नहीं, मेरी आंखों के सामने अंधेरा छा गया था।

\"\"

विक्टर शराब के नशे में गए थे हाथ मिलाने

कैट्या ने उसी साल 28 साल के विक्टर पर भी हमला कर दिया था। उस समय विक्टर शराब केनशे में थे और वह कैट्या से हाथ मिलाने चले गए थे। अधिकारियों ने इन दोनों घटनाओं के बाद यह निर्णय लिया कि वहां से अब कैट्या को हटा दिया जाएगा। लेकिन कैट्या को कोई भी चिडिय़ाघर रखना नहीं चाहता था। जिसके बाद कैट्या को उम्रकैद के तौर पर जेल में बंद कर देना ज्यादा ठीक समझा गया।

\"\"

कैट्या बन जेल की पहचान बन गई है

UK-161/2 की जेल में कैट्या पिछले 15 साल से बंद है। कैट्या अब तो पूरे जेल की पहचान बन गई है। जेल के कैदियों के रिश्तेदार जब मिलने आते हैं वह कैट्या से भी मिलते हैं। सारे लोग कैट्या को खाने के लिए सेब, मिठाई और कुकीज देते हैं। अब चाहे जेल ही सही कैट्या ने जेल में खुश रखना सबको सीख लिया है। जिस बड़े पिंजरे में कैट्या को रखा गया है उसका एक हिस्सा पानी के पूल में जाकर खुलता है।

\"\"

कहीं नहीं जाने देंगे हम उसे

प्रशासन को कैट्या के खाने पीने पर भी ज्यादा कुछ खर्च नहीं करना पड़ता है क्योंकि वह कैदियों का बचा हुआ खाना खा लेता है। UK-161/2 में एजुकेशनल वर्क के डिप्टी चीफ अजमत इस बारे में कहते हैं, कैट्या हमारी पीनल कॉलनी की पहचान है। हम सभी उसके और वह हमारा हिस्‍सा बन गई है। हम उसे अब कहीं नहीं जाने देंगे।